‘नाथ’ कांग्रेस पर भारी ‘राजा’ की गैर राजनीतिक मुहिम..!

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ नेता प्रतिपक्ष की भूमिका में सदन में अपने सहयोगी विधायकों के साथ लगातार सक्रिय। लेकिन प्रदेश अध्यक्ष होते हुए भी पीसीसी में पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह की पुण्यतिथि

एक हैं बाबूलाल जिसने हिला दी पूरी कांग्रेस

एक बाबूलाल मध्य प्रदेश की राजनीति में पहले भी रहे हैं जिन्होंने अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत पूरे देश में पब्लिसिटी पाई थी, लोगो ने उनका नाम बुलडोजर मंत्री रख दिया था अब एक

‘नाथ’ पर ‘अरुण’ का हमला ‘राजा’ की ‘कांग्रेस’ से दूरी क्यों…

कांग्रेस के सबसे अनुभवी नेताओं में से एक कमलनाथ पर अरुण यादव का अपरोक्ष तौर पर ही सही इशारों इशारों में बड़ा हमला… दूसरी ओर किसानों के हक की लड़ाई की चिंता में राजा के मजबूरी में ही सही कांग्रेस संगठन और उसके नेताओं से रणनीतिक दूरी के आखिर मायने क्या निकाले जाएंगे।

शिवराज ने हीरे गिनाए कमलनाथ ने मांगी साइकिल

दरअसल, कितना भी गंभीर मामला हो लेकिन सदन में हास – परिहास के दौर हो ही जाते हैं शेरो-शायरी कहने में भी कभी-कभी होड़ सी लग जाती है। ऐसा ही कुछ नजारा शुक्रवार को विधानसभा का था

शिवराज ने कमलनाथ से की मुलाकात

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यहां पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से सौजन्य भेंट की। चौहान के कार्यालय की ओर से किए गए ट्वीट के माध्यम से मुलाकात संबंधी फोटो जारी

ट्रैक-टू वार्ता के लिए क्या कमलनाथ अधिकृत हैं?

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ को क्या कांग्रेस आलाकमान ने हर मसले पर ट्रैक-टू वार्ता के लिए अधिकृत किया है? वे हर मसले पर परदे के पीछे पंचायत करने वाली वार्ताएं कर रहे हैं

माफियाओं के सामने प्रदेश सरकार असहाय : कमलनाथ

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार माफियाओं के समाने असहाय है। कमलनाथ ने ट्वीट कहा कि प्रदेश में प्रतिदिन माफ़ियाओ द्वारा पुलिस

कमल नाथ ने की शिवराज से मुलाकात, कृषि कानूनों पर हुई चर्चा

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से उनके निवास पर सौजन्य मुलाकात की। इस दौरान केंद्र सरकार के कृषि कानून

बजट से आमजन में निराशा: कमलनाथ

कोरोना महामारी के संकट के बीच आज आए देश के आम बजट को लेकर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि इस आम बजट से आमजन में निराशा है।

कांग्रेस के दोहरी जिम्मेदारी वाले नेता

कांग्रेस पार्टी में कोई भी फैसला आसानी से नहीं होता है। हर छोटे-बड़े फैसले में बहुत समय लगता है। ऐसा नहीं है कि किसी रणनीति के तहत फैसला टलता है या फैसले में देरी होती है

मध्य प्रदेश से ही दिल्ली संभालेंगे कमलनाथ!

मध्य प्रदेश के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ प्रदेश नहीं छोड़ने जा रहे हैं। उनका राजनीति से संन्यास लेने का दांव काम आ गया है। अब वे संन्यास भी नहीं लेंगे और मध्य प्रदेश भी नहीं छोड़ेंगे।

कमलनाथ का क्या करेगी कांग्रेस?

कांग्रेस पार्टी में इस बात को लेकर उधेड़बुन है कि कमलनाथ का क्या किया जाए? वे 15 साल के बाद कांग्रेस को सत्ता मिली तो मुख्यमंत्री बने थे और 15 महीने में उनके देखते-देखते सरकार चली गई।

शिवराज से मिलने उनके निवास पहुंचे कमलनाथ

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात के लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ आज यहां उनके निवास पर पहुंचे। इस संबंध में चौहान ने ट्वीट कर कहा ‘आज मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने निवास पर भेंट कर शुभकामनाएं दी

मध्य प्रदेश के नतीजों का बड़ा मतलब होगा

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा चुनावों के नतीजे बहुत मतलब वाले होंगे। इसलिए नहीं कि राज्य की शिवराज सिंह चौहान सरकार को इस नतीजे से बहुमत हासिल करना है।

ज्यादा नज़ाकत जरुरी नहीं

चुनाव आयोग ने मध्यप्रदेश के भाजपा और कांग्रेस नेताओं को वाणी-संयम के जो निर्देश दिए हैं, वे बहुत सामयिक हैं लेकिन कांग्रेसी नेता कमलनाथ का ‘मुख्य चुनाव-प्रचारक’ का दर्जा छीनकर उसने ऐसी स्थिति पैदा कर दी है कि अब अदालत ही उसका फैसला करेगी।

और लोड करें