जीएसटी कौंसिल की बैठक 14 जून को

कोरोना वायरस का संक्रमण शुरू होने और उसके बाद देश भर में लागू लॉकडाउन के बीच वस्तु व सेवा कर, जीएसटी कौंसिल की पहली बैठक 14 जून को होगी। यह जीएसटी कौंसिल की 40वीं बैठक होगी

जीएसटी कंपोजिशन स्कीम के लिए आवेदन शुरु

नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत वर्ष 2020-21 में जीएसटी कंपोजिशन स्कीम को अपनाने को इच्छुक कारोबारियों के लिए आवेदन शुरु कर दिया गया है। मौजूदा पंजीकृत करदाताओं को इसके लिए 31 मार्च 2020 से पहले जीएसटी पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। यह स्कीम विशेष रूप से छोटे व्यवसायियों के लिए बनाई गई है। इसमें छोटे व्यापारियों को अपना हिसाब-किताब रखने, रिटर्न फाइल करने और कर जमा करने के मामले में कई रियायतें दी गई हैं। आधिकारिक जानकारी के अनुसार कंपोजिशन स्कीम में व्यवसायियों को एक फिक्स रेट, एकमुश्त टैक्स पेमेंट और साल में सिर्फ एक बार रिटर्न जमा करने की विशेष सहूलियत दी गई है, जो सामान्य करदाताओं को नहीं दी जाती। इस स्कीम में वे करदाता जुड़ सकते हैं, जिनकी कुल सालाना कारोबार 1.5 करोड़ रुपए है। उत्तर-पूर्व के सात राज्यों और उत्तराखंड के लिए यह सीमा 75 लाख रुपए है। अगर कोई व्यवसायी माल के साथ-साथ सेवाएं भी प्रदान करता है, या केवल सेवाएं प्रदान करता है, तो इसके लिए,पूरे देश में,कुल कारोबार की सीमा 50 लाख रुपए है।

एसबीआई ने ब्याज दरों में कमी की

मुंबई। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने रिजर्व बैंक के रेपो रेट से जुड़े कर्ज पर ब्याज दरों में चौथाई फीसदी कटौती का ऐलान किया है। इससे आवास और वाहन के कर्ज की किश्तों में मामूली कमी आ सकती है। एसबीआई ने कर्ज के लिए बाहरी मानकों पर आधारित अपनी ब्याज दर यानी ईबीआर को 0.25 फीसदी कम कर 7.80 फीसदी करने की घोषणा की है। इससे पहले यह दर 8.05 फीसदी थी। नई दर पहली जनवरी 2020 से प्रभावी होगी। बैंक के इस फैसले से उसके आवास ऋण पर ब्याज कम हो जाएगा और उससे ईबीआर के आधार पर कर्ज लेने वाले सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यमों पर भी ब्याज के बोझ में प्रति सैकड़ा 25 पैसे की कमी हो जाएगी। बैंक नए आवास ऋण सालाना 7.90 फीसदी की दर से देगा। अब तक यह दर 8.15 फीसदी थी। भारतीय रिजर्व बैंक के निर्देशों के अनुसार, भारतीय स्टेट बैंक ने पहली अक्टूबर 2019 से ईबीआर आधारित ब्याज की व्यवस्था लागू की है। बैंक ने इसके तहत एक अक्टूबर 2016 से सूक्षम, लघु और मझोले उद्यमों, आवास खरीदारों और खुदरा ग्राहकों के लिए परिवर्तनशील दर पर लिए गए कर्जों का ब्याज रिजर्व बैंक की रेपो दर में… Continue reading एसबीआई ने ब्याज दरों में कमी की

और लोड करें