kishori-yojna
केजरीवाल मॉडल पर दिल्ली की मुहर

राजनीति के नरेंद्र मोदी मॉडल पर देश की मुहर लगी है और अरविंद केजरीवाल के मॉडल पर दिल्ली के लोगों ने मुहर लगा दी है। नरेंद्र मोदी का मॉडल दिल्ली में नहीं चला, केजरीवाल का मॉडल देश में चलेगा या नहीं, इस बारे में अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी है। पर इतना तय है कि इस मॉडल में लोगों की जिज्ञासा बढ़ गई है। जैसे नरेंद्र मोदी के गुजरात मॉडल को लेकर पूरे देश में उत्सुकता थी और उसे प्रत्यक्ष देखने के लिए लोगों ने मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा को वोट दिया, संभव है कि उसी किस्म की उत्सुकता अब केजरीवाल मॉडल को देखने की हो। पर इसका जवाब वक्त की गर्भ में है कि देश के लोग उस मॉडल को कैसे लेते हैं। फिलहाल दिल्ली के लोगों ने केजरीवाल मॉडल को उतनी ही मजबूती से स्वीकार किया है, जितनी मजबूती से पिछली बार किया था। इस बार 2015 के मुकाबले सीटें जरूर चार कम हैं पर वोट उतने ही हैं, जितने पिछली बार मिले थे। फिर भी आंकड़ों की बजाय केजरीवाल की दिल्ली की कहानी अगर उनकी सरकार के कामकाज के नजरिए से देखें तो तस्वीर बेहतर ढंग से दिखाई देगी और समझ में भी आएगी। केजरीवाल ने… Continue reading केजरीवाल मॉडल पर दिल्ली की मुहर

और लोड करें