केशवानंद भारती और तब सुप्रीम कोर्ट

मेरा मानना है हमें जीवन में अजीबो-गरीब अनुभव कम नहीं होते हैं। जैसे अगर नामों को ले तो कुछ बहुत चर्चित नामों के बारे में हम यह तय नहीं कर पाते हैं कि वे इस दुनिया में है या नहीं। ऐसा ही एक नाम पूर्व निजलिंगपा का था जोकि जवाहरलाल नेहरू के काफी करीब थे।

केशवानंद मामले के बाद अयोध्या विवाद दूसरी लंबी सुनवाई

उच्चतम न्यायालय में अयोध्या विवाद की सुनवाई न्यायिक इतिहास की दूसरी सबसे लंबी सुनवाई हो गई है।