कोरोना अपडेट : मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दिल्ली के एम्स में निकली भर्ती, सीधे इंटरव्यु से होगा सेलेक्शन

कोरोना वायरस का संक्रमण पुरे देश में बढ़ता ही जा रहा है। मरीजों की बढ़ती संख्या के सामने डॉक्टरों की संख्या कम हो रही है। ऐसे में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), नई दिल्ली में वैकेंसी निकाली गई है। दरअसल एम्स सीनियर रेजिडेंट्स, सीनियर डेमोंस्ट्रेटर के रिक्त पदों के लिए योग्य उम्मीदवारों की तलाश कर रहा है। जुलाई के लिए नियमित चयन होने तक ADHOC आधार पर भारतीय  सीनियर रेजिडेंट्स, सीनियर डेमोंस्ट्रेटर  के पद पर तत्काल भर्ती की जानी है। इसके तहत कुल 33 विभागों में 180 भर्तियां की जाएंगी। अस्पतालों में दवाइयों, बैड,ऑक्सीजन की किल्ल्त देखी जा रही है। यह भर्तियां सीधे इंटरव्यु से होगी। इसे भी पढ़ें Oppo 7 मई को भारत में लॉन्च करेगा अपना E-Store, खरीदारों के लिए रोमांचक प्रस्ताव होगा आवेदन की तारीख आवेदन करने की आखिरी तारीख- 27 अप्रैल 2021 इंटरव्यू की तारीख और समय (ऑनलाइन ऑफ़लाइन)- 28 अप्रैल 2021, दोपहर 2 बजे इन विभागों में निकाली भर्ती एनेस्थिसियोलॉजी पेन चिकित्सा और क्रिटिकल केयर, एनेस्थिसियोलॉजी (IRCH), प्रशामक चिकित्सा (IRCH, NCI, JHAJJAR), कार्डिएक एनैस्थिसियोलॉजी, न्यूरो एनेस्थेसियोलॉजी, रेडियो-निदान, कार्डियोवस्कुलर रेडियोलॉजी और एंडोवस्कुलर इंटरवेंशन, न्यूरोइमेजिंग और इंटरवेंशनल न्यूरो-रेडियोलॉजी, रेडियोथेरेपी, बाल चिकित्सा सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, फोरेंसिक मेडिसिन सहित कुल 33 विभागों में भर्ती की जानी है। उम्मीदवारों को जमा… Continue reading कोरोना अपडेट : मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दिल्ली के एम्स में निकली भर्ती, सीधे इंटरव्यु से होगा सेलेक्शन

कोरोना अपडेट : सरकार के भरोसे रहने की जरूरत नहीं, अब आप भी खरीद सकेंगे कोरोना का टीका, देखें क्या है कीमतें

पुणे: कोरोना संक्रमण पुरे देश में बढ़ता ही जा रहा है। भारत में टीकाकरण अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से हुई थी। भारत में टीकाकरण का कार्य जोरो-शोरो से चल रहा है। भारत में कोविड -19 का पहला टीका एम्स के मनीष कुमार को लगा था। सरकार ने 1 मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन देने की घोषणा की है। इसके बाद सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute) ने कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) की कीमतों की घोषणा कर दी है। भारत में एक दिन में 3 लाख करीब मामले दर्ज हो रहे है। और एक दिन में दो हजार मौतें हो रही है। जो बेहद चिंताजनक है। सभी राज्यों की सरकार ने जनता के प्रति सख्ति का रूख अपनाया है। जनता से अपील की है कि कोरोना के इस खतरनाक माहौल में कोई भी बिना काम घर से बाहर ना जाएं। इसे भी पढ़ें Bihar : Corona काल में ‘Oxygen Man’ बना ये शख्स, अब तक 900 से ज्यादा मरीजों को पहुंचा चुके हैं Oxygen सिलेंडर ये होगी कोविशील्ड वैक्सीन की कीमत सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) ने बयान जारी कर कहा कि भारत सरकार के निर्देशों के बाद हम कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine Price)… Continue reading कोरोना अपडेट : सरकार के भरोसे रहने की जरूरत नहीं, अब आप भी खरीद सकेंगे कोरोना का टीका, देखें क्या है कीमतें

कोरोना अपडेट : कोरोना से बचने के लिए कौन सा मास्क है बेहतर,जानें विशेषज्ञों की राय…

कोविड-19 ने पूरे देश में अपना आतंक फैला रखा है। भारत में कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप चल रहा है। कोरोना की दूसरी लहर पहली लहर से कई गुना खतरनाक है। दूसरी लहर में कोरोना का म्यूटेट वायरस हैं। ऐसे में लोगो का अपना और दूसरों का ज्यादा ध्यान रखना चाहिए। हम देखते है कि कई लोग मास्क लगाते है तो कई नहीं लगाते हैं।बाजार में हम देखते है कि ज्यादातर लोग कपड़े के मास्क का उपयोग करते हैं।  ऐसे में लोग ये जानने को इच्छुक है कि इस महामारी बचने के लिए कौनसा मास्क लगाये। क्योंकि कोरोना काल में जनता बाहर भी निकलती है। तो कौनसे मास्क से वायरस से बचा जा सकता है।  मेडिकल जर्नल ‘द लैंसेट’ में प्रकाशित स्टडी में यह दावा किया गया है कि कोरोना वायरस के हवा में फैलने की आशंका है। तब से यह सवाल अहम हो गया है कि कौन सा मास्क वायरस से बचा सकता है । कपड़े के मास्क से वायरस से बचा जा सकता है या फिर एन-95 से..। मैरीलैंड स्कूल ऑफ मेडिसिन के डॉ. फहीम यूनुस ने इस सवाल का जवाब देने का प्रयास किया है। उन्होंने कोरोना की दूसरी लहर से बचने के लिए N95 या… Continue reading कोरोना अपडेट : कोरोना से बचने के लिए कौन सा मास्क है बेहतर,जानें विशेषज्ञों की राय…

कोरोना और कुंभ-स्नान

यह प्रसन्नता की बात है कि हरिद्वार में चल रहे कुंभ-मेले को स्थगित किया जा रहा है। यहाँ पहले शाही स्नान पर 35 लाख लोग जुटे थे। 27 अप्रैल तक चलने वाले इस कुंभ में अभी लाखों लोग और भी जुटते याने हजारों-लाखों लोग कोरोना के नए मरीज बनते। यदि यह कुंभ चलता रहता तो कोरोना भारत के गांव-गांव में फैल जाता। गरीब लोगों का मरण हो जाता। दिल्ली, मुंबई, इंदौर और पुणें जैसे शहरों में रोगियों को पलंग, दवाइयाँ और ऑक्सीजन के बंबे नहीं मिल पा रहे हैं तो इन करोड़ों गंगाप्रेमी ग्रामीणों का हाल क्या होता ? भारत भयंकर संकट में फंस जाता। इस नाजुक मौके पर इन अखाड़ों के मुखियाओं ने बहुत साहस दिखाया है। वे पाखंड में नहीं फंसे। कई मूर्ख नेता यह कहते हुए भी पाए गए कि कोरोना हो या कोरोना का बाप हो, गंगा मैया में डुबकी लगाओ कि वह भाग खड़ा होगा।इन अंधविश्वासियों से कोई पूछे कि गंगा में डुबकी लगाने से यदि रोग भागते हों या मोक्ष मिलता हो तो उसमें दिन-रात विहार करनेवाले सारे मगरमच्छ भी क्यों नहीं निर्वाण को प्राप्त होंगे ? गंगाजल यदि मरते हुए आदमी को दिया जाए तो उसे स्वर्ग मिलेगा, ऐसा अंधविश्वास ही हरिद्वार में… Continue reading कोरोना और कुंभ-स्नान

उफ! वायरस में कुंभ

कोरोना की भयावह महामारी के बीच कुंभ मेले का आयोजन कौन सी समझदारी कही जा सकती है? शुरू में इतनी समझदारी दिखाई गई कि कुंभ मेले की अवधि घटा दी गई। लेकिन एक महीने में ही इस बात का ख्याल नहीं रखा गया कि लाखों की संख्या में लोग अगर कुंभ मेले में आते हैं या गंगा में डुबकी लगाने पहुंचते हैं तो कैसे कोरोना प्रोटोकॉल का पालन होगा, सोशल डिस्टेसिंग का पालन कैसे होगा या सबकी टेस्टिंग कैसे होगी? उलटे राज्य के मुख्यमंत्री ने लाखों की संख्या में लोगों के मेले में हिस्सा लेने की अपील की। यहां तक कहा कि गंगा में डुबकी लगाने से कोरोना खत्म हो जाएगा। देश के लगभग सभी नेता न कम या ज्यादा मात्रा में लापरवाही दिखाई, गैर जिम्मेदारी का परिचय दिया, जिसका नतीजा है कि भारत आज ऐसी बदहाल और दयनीय स्थिति में खड़ा है। चुनाव प्रचार या कुंभ मेले के आयोजन की लापरवाहियों के अलावा केंद्र और राज्यों की सरकारों ने कोरोना वायरस की महामारी के पूरे एक साल में जिस गैर जिम्मेदारी का परिचय दिया वह भी देश की बदहाली का एक कारण है। पूरे साल में कहीं भी स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास के लिए कुछ नहीं किया गया। वायरस… Continue reading उफ! वायरस में कुंभ

राजस्थान में अब यहां लाॅकडाउन की आहट! कलेक्टर ने ली बैठक

जयपुर। कोरोना संक्रमण ( Coronavirus ) ने एक बार फिर से देश में पिछले साल की तरह माहौल बना दिया है। बढ़ते कोरोना संक्रमण ( Corona ) ने कई राज्यों में मिनी लाॅकडाउन, नाइट कर्फ्यू लगवा दिया है। छत्तीसगढ़ के रायपुर में तो पूर्ण लाॅकडाउन ( Lockdown ) लगा दिया गया है। ऐसे ही कुछ हालात अब राजस्थान में भी बनते नजर आ रहे हैं। राजस्थान में भी कोरोना ( Coronavirus in Rajasthan ) लगातार काबू होता जा रहा हैं। इसी सिलसिले में राजधानी जयपुर में जिला प्रशासन ने संक्रमण को रोकने और वैक्सीनेशन को लेकर समाज में जागरूकता लाने के लिए धर्मगुरुओं के साथ बैठक की है। कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने धर्मगुरुओं से आम-अवाम को वैक्सीनेशन को लेकर जागरूक करने और धर्मिक स्थलों पर गाइडलाइन की पालना करने का आग्रह किया। बैठक में नेहरा ने साफ संकेत दे दिए है कि कोविड संक्रमित मरीजो का आंकड़ा देखते हुए हम फिर से लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। अगर जरूरत पड़ी तो लॉकडाउन भी लगाया जा सकता है। यह भी पढ़ें:- Rajasthan IAS Transfer List बदले 67 आईएएस, आठ जिलों के कलक्टर भी बदल दिए गहलोत सरकार ने, देखें सूची कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने सभी धर्मगुरुओं से लोगों को… Continue reading राजस्थान में अब यहां लाॅकडाउन की आहट! कलेक्टर ने ली बैठक

Corona Update Bihar : बिहार सरकार ने बंद कर दी स्कूलें और कॉलेज, हाईलेवल मीटिंग के बाद सीएम ने किया फैसला

पटना | बिहार राज्य सरकार ने कोरोनावायरस (Corona Virus in Bihar) महामारी के बढ़ते मामलों के मद्देनजर राज्य भर में 11 अप्रैल तक स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को बंद (School College Close in Bihar) कर दिया है। कोविड संक्रमण के बढ़ते मामले पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय मीटिंग की थी। इसके बाद संकट प्रबंधन समूह की बैठक में स्कूल और कॉलेजों को बंद करने का फैसला ले लिया गया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे किसी भी बड़े जन समूह को इकट्ठा होने की अनुमति न दें। वहीं शादी व जन्मदिन की पार्टियों में आमंत्रितों की संख्या को भी कम करने पर ध्यान दें। मुख्य सचिव व संकट प्रबंधन समूह के प्रमुख अरुण कुमार सिंह को राज्य के हर जिले में रैपिड एंटीजन और आरटी-पीसीआर परीक्षणों को तेज करने का मुख्यमंत्री ने निर्देश भी दिया है। सरकार की ओर से अधिकारियों को यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि लोग महामारी के प्रसार को रोकने के लिए एहतियात के तौर पर रेलवे स्टेशनों, बस स्टैंडों और बाजार स्थानों पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें। ​बिहार में 2.68 लाख मामले अब तक सामने… Continue reading Corona Update Bihar : बिहार सरकार ने बंद कर दी स्कूलें और कॉलेज, हाईलेवल मीटिंग के बाद सीएम ने किया फैसला

और लोड करें