kishori-yojna
Rajasthan : मंदिरों के बाद अब विद्या के मंदिर खोलने की तैयारी में सरकार

Rajasthan : मंदिरों के बाद अब विद्या के मंदिर खोलने की तैयारी में सरकार

कोरोना गाइडलाइन के साथ देश के इन राज्यों में फिर से खुले शिक्षण संस्थान, जानें अपने राज्य का हाल..

कोरोना गाइडलाइन के साथ देश के इन राज्यों में फिर से खुले शिक्षण संस्थान, जानें अपने राज्य का हाल..

भारतीय पर्यटकों के लिए खुशखबरी, 15 जुलाई से जा सकेंगे मालदीव की सैर पर, इन शर्तों के साथ होगी एंट्री

कोविड-19 के मामले बढ़ने के कारण सभी पर्यटन स्थलों पर पाबंदिया लगाई हुई थी। किसी भी पर्यटन स्थल जाने की छूट नहीं थी। ( Maldives opened its gates ) लेकिन कोरोना के मामलों में गिरावट आने के साथ अब कुछ देश छूट का प्रावधान कर रहे है। जैसे ही कोरोना गाइडलाइन में छूट का दायरा बढ़ाया गया तो सभी लोग छुट्टिया मनाने निकल पड़े। भारत में मनाली, शिमला, उत्तराखंड मे भारी संख्या में पर्यटक देखने को मिले है। वो भी कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए। लेकिन अब जो पर्यटक अंतरराष्‍ट्रीय यात्रा करने के लिए इंतजार कर रहे है उनके लिए एक अच्छी खबर है। आपको याद हो तो भारत में कोरोना के मामलें बढ़ने के कारण भारतीयों की मालदीव में एंट्री बैन कर दी गई  थी। लेकिन अब 15 जुलाई से भारतीय पर्यटकों के लिए अपने दरवाजे खोलने जा रहा है। also read: गुजरात : भगवान जगन्नाथ की 144वीं रथयात्रा में 100 ट्रक, हाथी और गायन मंडलियां शामिल, अमित शाह ने भी किये दर्शन कोरोना नियमों का पालन करना अनिवार्य अब मालदीव के राष्‍ट्र‍पति इब्राहिम मोहम्‍मद सोलिह ने घोषणा की है कि मालदीव दक्षिण एशियाई देशों, जिनमें भारत भी शामिल हैं, के पर्यटकों के लिए अपने दरवाजे खोल रहा है।… Continue reading भारतीय पर्यटकों के लिए खुशखबरी, 15 जुलाई से जा सकेंगे मालदीव की सैर पर, इन शर्तों के साथ होगी एंट्री

राजस्थान में सभी पर्यटन स्थल आबाद, आज से सभी टाइगर रिजर्व बायोलॉजिकल पार्क और चिड़ियाघर खोल दिए गए

जयपुर |  राजस्थान में बढ़ते कोरोना संक्रमण ( rajasthan tourist spot open ) के कारण गहलोत सरकार ने अप्रैल से अंतिम सप्ताह में लॉकडाउन का ऐलान किया था। इसी के साथ ही सभी पर्टन स्थलों को भी बंद कर दिया गया था। फिलहाल लॉकडाउन अब खोल दिया गया है। सभी शैक्षणिक संस्थानें बंद रहेगी। कोरोना के मामलों कम होने के कारण आज से राजस्थान के सभी टाइगर रिजर्व बायोलॉजिकल पार्क, चिड़ियाघर और वन्य जीव पार्क पर्यटकों के खोल दिए गए है। कोरोना लॉकडाउन और अनलॉक के 68 दिन बाद प्रदेश के सभी टाइगर रिजर्व, बायोलॉजिकल पार्क, वन विभाग के सभी पर्यटन स्थल खोल जा चुके है। और लंबे समय के बाद पर्यटकों के चेहरे पर खुशी देखी जा सकती है। इतने दिन तक कोरोना के कारण लोग अपने घरों में कैद थे। इतने दिन बाद पर्यटकों को खुली हवा में हरियाली के बीच और वन्यजीवों को निहारती हुए अच्छा माहौल महसूस किया। इन सभी वन्य जीव पार्क, जू और टाइगर रिजर्व में पर्यटक भ्रमण के लिए पहुंचे हैं। also  read: अजब-गजब : Rajasthan में यहां पैसों के लिए भाई बनकर अपनी ही पत्नी की करा दी दूसरी शादी लॉकडाउन के कारण आस-पास के कारोबारियों को संकट ( rajasthan tourist spot open… Continue reading राजस्थान में सभी पर्यटन स्थल आबाद, आज से सभी टाइगर रिजर्व बायोलॉजिकल पार्क और चिड़ियाघर खोल दिए गए

ये कैसी जागरूकता..ग्राहक ने मास्क नहीं लगाया तो बैंक के गार्ड ने मारी गोली, अस्पताल में कराया भर्ती

कोरोना महामारी से बचाव के लिए मास्क, सामाजिक दूरी और सैनेटाइज़र ( bank guard shoot Customer ) को हथियार बनाया गया है। कोरोना की दूसरी लहर अभी होकर गुज़री है। और सरकार भी सभी लोगों से मास्क लगाने की अपील कर रही है। कोरोना के मामले इतने अधिक बढ़ गये थे कि सभी से जबल मास्क लगाने की अपील की गई थी। बरेली में मास्क की जागरूकता के लिए लोग जान लेने पर उतर आए। बरेली में बैंक ऑफ बड़ौदा के रीजनल कार्यालय में शुक्रवार को एक ग्राहक बिना मास्क के आ गया। इसके बाद कुछ ऐसा हुआ कि गार्ड ने उस युवक को पैर में गोली मार दी। युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। also read: कोरोना को हराने का जुनून : दोनों हाथ नहीं फिर भी करवाया वैक्सीनेशन.. क्या था मामला ( bank guard shoot Customer ) गोली लगने वाले युवक का नाम राजेश कुमार बताया जा रहा है। 35 वर्षीय राजेश कुमार राठौड़ बरेली जंक्शन के पास नॉर्थ रेलवे कॉलोनी के रहने वाले बताए जा रहे है। और टेलीकॉम डिपार्टमेंट में हेल्पर का काम करते है। राजेश कुमार शुक्रवार सुबह किसी काम से सिविल लाइंस स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के क्षेत्रीय कार्यालय में गए थे। राजेश… Continue reading ये कैसी जागरूकता..ग्राहक ने मास्क नहीं लगाया तो बैंक के गार्ड ने मारी गोली, अस्पताल में कराया भर्ती

rajasthan : ना कोरोना गाइडलाइन ना जान की परवाह..आनासागर झील में 200 और 500 के नोट तैरते देख बिना कुछ सोचे समझे कूद पड़ी जनता

अजमेर| कोरोना काल में सभी ठन-ठन गोपाल हो रहे है। कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन ने सभी को सड़क पर ला दिया है। लेकिन ज़रा विचार करिए जहां एक तरफ गरीबी में आटा गीला हो रहा हो वहां पर कोई नोट का बैग फेंक कर चला जाए तो आप क्या करेंगे ..आइये जानते है लोगों ने इस पर क्या किया। ताजा मामला राजस्थान के अजमेर से जुड़ा है। अजमेर के आनासागर झील में कुछ लोगों ने 200 और 500 के नोट तैरते देख लिए। लोगों का मानना है कि कोई यहां पर नोटों से भरा बैग फेंक गया। इसके बाद रविवार शाम को अचानक 200 और 500 के नोट तैरने की सूचना से आनासागर के नजदीक हड़कंप मच गया। जैसे ही लोगों ने नोटों को तैरते हुए देखा लोगों ने बिना कुछ सोचे समझे झील में कूदना शुरु कर दिया। इस रेस में कोई भी पीछे नहीं रहा। झील के किनारे मौजूद खानाबदोश झील में गोते लगाकर नोट इकट्ठा करते नजर आए, तो नगर निगम के कर्मचारी भी नाव लेकर नोट लूटने के लिए झील में उतर गए। also read: Rajasthan Politics: मौसम की खराबी के कारण शिमला से नहीं निकल पायी प्रियंका, पायलट भी नहीं करेेंगे लैंड कोरोना गाइडलाइन भी… Continue reading rajasthan : ना कोरोना गाइडलाइन ना जान की परवाह..आनासागर झील में 200 और 500 के नोट तैरते देख बिना कुछ सोचे समझे कूद पड़ी जनता

Rajasthan : कोरोना ने मीठी ईद को किया फीका, सेवईयों की खरीद भी हुई कम

बीते वर्ष की तरह इस वर्ष भी ईद का त्यौहार कोरोना काल में ही बीतेगा। इस बार भी ईद को त्यौहार की कोई रौनक नहीं है। आज रमजान का आखिरा दिन है अगर चांद दिख गया तो कल ईद मनाई जाएगी। कोरोना की वजह से इस बार ईद पर बाजारों में कोई रौनक नहीं है। इस समय बाजारों में भीड़ जमा रहती है। लोग कपड़े, मिठाई खरीदते हुए नज़र आते है।  इन दिनों सेवइयों की खरीददारी परवान पर होती है। अगर राजस्थान की बात करें तो राजस्थान में 24 मई तक लॉकडाउन लगा हुआ है। सुबह 11 बजे तक मार्केट खुला रहता है। इस दौरान व्यापारी ग्राहकों का इंतजार करते दिखते हैं। ऐसे में मिठ्ठी ईद के नाम से जाने जानी वाली इस ईद की मिठास कुछ कम ही नजर आ रही है, जिससे व्यापार पर भी असर दिख रहा है। दुकानदारों का कहना है कि पहले जो बिक्री हुआ करती थी, वो इस साल बिलकुल नहीं है। बता दें कि लोग ईद की नमाज अदा करने के साथ ही एक-दूसरे को ईदी बांटते हैं, सेवइयां खिलाते हैं और अपनों को ईद की मुबारकबाद देते हैं लेकिन कोरोना काल के चलते इस बार ईद पर सेवइयों की मिठास फीकी पड़… Continue reading Rajasthan : कोरोना ने मीठी ईद को किया फीका, सेवईयों की खरीद भी हुई कम

Bihar: विवाह के 5 घंटे बाद ही पत्नी ने छोडा साथ, डोली उठने के बदले उठी अर्थी

मुंगेर | बिहार के मुंगेर (Munger) जिले में एक ऐसी घटना सामने आई है, जिस पर लोगों को सहसा विश्वास नहीं हो रहा। यहां दुल्हन (bride) के साथ सात फेरे लिए और दुल्हन की मांग में सिंदूर भरे पांच से छह घंटे ही हुए थे कि दुल्हन की मौत हो गई। जिस घर से ससुराल के लिए दुल्हन (bride) की डोली निकलनी थी वहां से सुबह उसकी अर्थी निकली और परंपरा के मुताबिक पति ने ही मुखाग्नि भी दी। मुंगेर (Munger) जिले के तारापुर अनुमंडल के अफजल नगर पंचायत के खुदिया गांव में रंजन यादव उर्फ रंजय की बेटी निशा कुमारी की शादी को लेकर परिवार के लोग काफी खुश और उत्साहित थे। तय समय के मुताबिक आठ मई हवेली खड़गपुर प्रखंड के महकोला गांव से सुरेश यादव के पुत्र रवीश की बारात पहुंची और शादी ब्याह की रस्म पूरी की गई। कोरोना गाइडलाइन का पालने करते हुए कुछ ही संख्या में बाराती पहुंचे, शादी को लेकर दोनों परिजनों में उत्साह था। शादी (wedding) को लेकर सभी विधि विधान चल रहे थे। दुल्हा और दुल्हन सात फेरे ले लिए थे और दुल्हा ने दुल्हन की मांग भी भर दी थी, इसके बाद अचानक दुल्हन बनी निशा की तबियत बिगड़ गई।… Continue reading Bihar: विवाह के 5 घंटे बाद ही पत्नी ने छोडा साथ, डोली उठने के बदले उठी अर्थी

खौफनाक..कोविड संक्रमित के अंतिम संस्कार में शामिल हुए 150 लोग, 21 के लिए अंतिम बन गया यह अंतिम संस्कार

राजस्थान में जहां कोरोना नये आंकड़े बनाने में कसर नहीं छोड़ रहा है वहीं राजस्थान की जनता भी लापरवाही करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। राजस्थान के सीकर जिले से ऐसी ही एक लापरवाही का मामला सामने आया है। सीकर के गांव में एक व्यक्ति की कोरोना से मौत हो गई और मृत व्यक्ति को कोरोना गाइडलाइन का पालन किए बिना दफना दिया गया। अंतिम संस्कार में 150 लोगों ने भाग लिया। इनमें 21 लोगों की अभी तक मौत हो चुकी है। राजस्थान में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। एक दिन में करीब 17,000 मामले दर्ज हो रहे है। राजस्थान सरकार ने 24 मई तक का लॉकडाउन लगाया हुआ है। सरकार के अनुसार कोरोना की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन आवश्यक है। इसे भी पढ़ें राहत! कोरोना वायरस से जंग लड़ने में शामिल हुई एक और दवा, सरकार ने दे दी मंजूरी शव को प्लास्टिक की थैली से बाहर निकाला गया हालांकि अधिकारियों ने कहा कि 15 अप्रैल से 5 मई के बीच कोरोना वायरस से केवल चार मौतें हुई हैं। अधिकारियों के अनुसार, एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति के शव को 21 अप्रैल को खीरवा गांव लाया गया था और लगभग 150 लोगों ने उसके अंतिम संस्कार में… Continue reading खौफनाक..कोविड संक्रमित के अंतिम संस्कार में शामिल हुए 150 लोग, 21 के लिए अंतिम बन गया यह अंतिम संस्कार

रमजान 2021 : आज है रमजान का आखिरी जुम्मा, मुस्लिम धर्मगुरुओं की अपील- कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए ज़ुम्मे की नमाज अदा हो..

आज रमजान महीने की आखिरी ज़ुम्मा है। माह ए रमजान मुबारक के आखिरी जुमे की नमाज आज शुक्रवार दोपहर को अदा की जाएगी। कोरोना के चलते सभी धार्मिक संस्थान बंद है। कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन ना हो इसलिए जयपुर की सबसे बड़ी जामा मस्जिद में रमजान माह में कोरोना के चलते बड़ी संख्या में समाजजनों के हुजूम के बीच होने वाली सामूहिक नमाज अदा नहीं होगी। कोरोना ने सभी त्योहारों पर अपनी काली छाया डाल रखी है। पिछले वर्ष से अभी तक कोई भी त्यौंहार सही मायने में अच्छी तरह से नहीं मान पाये है। पिछले वर्ष भी मुसलमानों के सबसे पवित्र महीने में कोरोना का आंतक था और इस वर्ष भी। ऐसा कहते है कि रमजान के महीने में हर दुआ कबूल होती है तो सभी देशवासियों की अल्लाह से यही दुआ है कि कोरोना की इस महामारी से जल्द छुटकारा मिले। इसे भी पढ़ें Rajasthan: कोरोना संक्रमण के बीच गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 10 से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन मुस्लिम धर्मगुरुओं की अपील कोरोना के चलते मुस्लिम धर्मगुरुओं ने समाज जनों से घरों से ही नमाज अदा करने की अपील की है। हर साल लाखों लोग जामा मस्जिद में नमाज अदा के लिए पहुंचते थे। सभी जगहों पर… Continue reading रमजान 2021 : आज है रमजान का आखिरी जुम्मा, मुस्लिम धर्मगुरुओं की अपील- कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए ज़ुम्मे की नमाज अदा हो..

कोरोना तुम चुनावी रैलियों से डरते हो ….कविता में बच्चे का छलका दर्द

देशभर में कोरोना  एक बार फिर से कहर बरसा रहा है.  भारत में एक दिन में 1.50 लाख के करीब मामले मिल रहे हैं. दूसरी तरफ ऐसा लगता है कि कोरोना बच्चों से कुछ बदला ले रहा हो. दो साल से बच्चो के स्कूल नहीं खुलें है. जब हालात नियंत्रण में आकर स्कूल खोलने का फैसला लिया गया तो कोरोना फिर से अपनी काली छाया लेकर आ गया…ऐसा ही एक बच्चे की  कविता में उसके स्कूल ना जाने का दर्द छलक गया. इस कविता में बच्चे ने कोरोना से शिकायत भी की है और कहा है कि ऐसा लगता है कि तुम केवल चुनाव से डरते हो. इस वीडियो को बॉलीवुड के मशहूर लिरीसिस्ट और स्क्रिप्ट राइटर मनोज यादव ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है. इसे भी पढ़ें Corona crisis: माली ले रहा कोरोना के सैंपल, पूछने पर मिला ये जवाब क्या कहा बच्चे ने कविता में वीडियो में बच्चा कहता है हमको लगता है कि केवल तुम डरते हो चुनाव से जाता हूं स्कूल तुम भी आ जाते हो। बच्चे ने अपनी कविता में आगे कहा खुलते मेरा स्कूल तुम आ जाते हो कोरोना। वहीं, मनोज यादव ने बच्चे के इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा सुनिए,… Continue reading कोरोना तुम चुनावी रैलियों से डरते हो ….कविता में बच्चे का छलका दर्द

और लोड करें