kishori-yojna
हिमंता सरमा क्या मुख्यमंत्री बनेंगे?

सम में भी इन दिनों यह बात कही जा रही है कि अगर भाजपा को पूर्ण बहुमत आ गया तब तो सर्बानंद सोनोवाल ही फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे लेकिन अगर त्रिशंकु विधानसभा बनती है और सरकार बनाने के लिए जोड़-तोड़ की जरूरत पड़ती है तो राज्य सरकार के मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा मुख्यमंत्री बनेंगे।

अखिलेश के साथ गठबंधन के लिए तैयार हैं शिवपाल यादव

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (पीएसपीएल) के प्रमुख शिवपाल यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन करने के लिए तैयार है। ताकि उनकी पार्टी और

वजूद बचाने की कोशिश

पश्चिम बंगाल में इस बार कांग्रेस और लेफ्ट फ्रंट ने औपचारिक रूप से गठबंधन करने का फैसला किया है। इसका एलान कुछ रोज पहले हुआ। इसके पहले भी इन दोनों ने आपसी तालमेल से चुनाव लड़ा था।

बंगाल में क्या महागठबंधन की जरूरत है

क्या बिहार या झारखंड की तरह पश्चिम बंगाल में भी महागठबंधन की जरूरत है? कई जानकार मान रहे हैं कि बंगाल में जिस तरह से भाजपा की ताकत बढ़ रही है और जैसा माहौल बन रहा है उसे देखते हुए भाजपा को रोकने के लिए सभी पार्टियों को साथ आना होगा

बोडोलैंड में भाजपा का नया गठबंधन

बोडोलैंड क्षेत्रीय परिषद, बीटीसी के चुनाव में भाजपा नया गठबंधन बना कर अपनी सरकार बनाएगी। भाजपा ने दो पार्टियों के साथ गठबंधन बनाया है।

तमिलनाडु में कितने गठबंधन बनेंगे?

तमिलनाडु में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में कमाल की राजनीति होगी। इतने गठबंधन बनेंगे कि सारे पुराने रिकार्ड टूट जाएंगे।

नेशनल कांफ्रेंस, पीडीपी का गठबंधन

जम्मू कश्मीर में राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। पीडीपी की नेता और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के जेल से रिहा होते ही राज्य की तीन बड़ी और भाजपा विरोधी पार्टियों ने गठबंधन का ऐलान किया है

बिहार : भाकपा (माले) ने जारी किया घोषणापत्र

बिहार विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल होकर चुनाव मैदान में उतरी भाकपा (माले) ने घोषणा पत्र जारी कर दिया।

मोदी कैबिनेट बिना सहयोगी मंत्री के!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट का स्वरूप तेजी से बदल रहा है। उन्होंने करीब डेढ़ साल बीत जाने के बाद भी अपनी कैबिनेट में फेरबदल नहीं की इसके बावजूद अपने आप उसका स्वरूप बदल रहा है। पिछले साल 30 मई को जब प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी कैबिनेट के साथ शपथ ली थी तब उसमें सहयोगी पार्टियों के तीन कैबिनेट मंत्री थे। अब सहयोगी पार्टी का एक भी कैबिनेट मंत्री नहीं है। सहयोगी पार्टियों में से अब सिर्फ रामदास अठावले अकेले बचे हैं, जो सरकार का हिस्सा हैं। आरपीआई के नेता रामदास अठावले मोदी सरकार में राज्य मंत्री हैं। पिछले साल 30 मई को कैबिनेट मंत्री के तौर पर अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल, शिव सेना के नेता अरविंद सावंत और लोक जनशक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान ने शपथ ली थी। भाजपा की पुरानी सहयोगी जनता दल यू से भी एक कैबिनेट मंत्री बनाया जाना था पर प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व दिए जाने के विरोध में नीतीश कुमार ने शपथ लेने को तैयार बैठे आरसीपी सिंह को रोक दिया था। भाजपा की और सहयोगी अपना दल को पिछली सरकार में राज्यमंत्री का पद मिला था पर इस बार उन्हें वह भी नहीं मिला। बहरहाल, सबसे पहले शिव सेना सरकार से… Continue reading मोदी कैबिनेट बिना सहयोगी मंत्री के!

गठबंधन धर्म के बारे में कांग्रेस कुछ नहीं जानती: कुमारस्वामी

कर्नाटक के नेता प्रतिपक्ष सिद्धारमैया की हालिया टिप्पणी पर कटाक्ष करते हुए कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने कहा कि कांग्रेस गठबंधन के योग्य पार्टी नहीं है

गठबंधन ऐसे ही चलता है!

अकाली दल को शिकायत है कि भाजपा अब पहले वाली भाजपा नहीं रह गई है। अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी के समय सहयोगी पार्टियों को जैसा सम्मान मिलता था, वैसा सम्मान अब नहीं मिलता है।

बिहार में नया गठबंधन क्या करेगा?

हर चुनाव से पहले बिहार में जितनी पार्टियां और जितने गठबंधन बनते हैं उसकी मिसाल कहीं और नहीं मिल सकती है। तमिलनाडु में, जहां हर जाति के नेता पार्टी बनाई है वहां भी उतनी पार्टियां नहीं हैं, जितनी बिहार में हैं।

द्रमुक को लोकतंत्र पर बात करने का अधिकार नहीं: निर्मला

भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के लिए तमिलनाडु की प्रमुख विपक्षी द्रमुक की कड़ी आलोचना

महागठबंधन के लिए मांझी की मुश्किल

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने एक बार फिर अपना सियासी नाटक चालू कर चुके हैं। उनके पास वोट की कोई पूंजी नहीं है पर संयोग से करीब एक साल के लिए मुख्यमंत्री बन जाने की आकस्मिक घटना को आधार बना कर वे किस्म किस्म से मोलभाव करते रहते हैं।

कांग्रेस अभी से बना रही गठबंधन

वैसे तो दिख रहा है कि कांग्रेस पार्टी राज्यसभा चुनावों के लिए पार्टियों से साझेदारी कर रही है पर असल में कांग्रेस अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए अभी से गठबंधन बना रही है। गौरतलब है कि अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

और लोड करें