ग्रामीण संस्कृति की ध्वजवाहक बैलगाड़ी लुप्त की कगार पर

देश में ग्रामीण संस्कृति की ध्वजवाहक पर्यावरण मित्र बैलगाड़ी यांत्रिकीकरण से मानव के जेहन और जीव से धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है।