सरकार के लिए विपक्ष है गैंग

लोकतंत्र में पार्टियां एक दूसरे की वैचारिक विरोधी होती हैं। एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ती हैं और हारती-जीतती हैं। पर कोई पार्टी दूसरी पार्टी के लिए दुश्मन नहीं होती है।

विचारधारा बड़ी या राष्ट्रभक्ति ?

जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण करते हुए प्रधानमंत्री ने एक बड़ा बुनियादी सवाल खड़ा कर दिया।

जेएनयू में विवेकानंद मूर्ति का अनावरण

आखिरकार जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में दो साल से परदे में ढक कर रखी गई स्वामी विवेकानंद की मूर्ति का अनावरण हो गया।

बॉलीवुड बनेगा जेएनयू?

मैं बॉलीवुड की न खबर रखता हूं और न उस पर ख्याल बनाता हूं। लेकिन मुंबई से जब एक जानकार ने बताया कि बॉलीवुड को कटघरे में खड़ा करना राजनीति है और यह न केवल बिहार चुनाव का मकसद लिए हुए है

भारत के ‘सुपरस्टार’ मेमने!

बुनियादी सवाल है आजाद भारत में ‘स्टार’ ‘सुपरस्टार’ कौन? मतलब 138 करोड़ लोगों की भीड के लोकमानस में नायक और महानायक कौन पैठे हैं? शायद भारत में सिने स्टार व क्रिकेटर ही अपने प्रति लोगों में सर्वाधिक दिवानगी बनवाए हुए हैं।

तीनों खानों की ओर बढ़ती जांच

यह अनायास नहीं है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मामला बॉलीवुड में ड्रग्स के चलन से लेकर हीरो-हीरोइनों के खातों की जांच, दुबई कनेक्शन और बाहरी-भीतरी की वजह से होने वाले कथित भेदभाव की जांच में परिवर्तित है।

बॉलीवुड बचेगा या उसका भी कबाड़ा?

भारत में सबसे अच्छे तरीके से कुछ संस्थाओं और कुछ कारोबार चलते हैं तो उनमें क्रिकेट के अलावा एक फिल्म उद्योग भी है। पिछले दिनों न्यायिक दखल के जरिए क्रिकेट का कबाड़ा करने का भरपूर प्रयास किया गया। यह काम भी सुधार करने और क्रिकेट में भाई-भतीजावाद  खत्म करने के नाम पर था।

दिल्ली दंगा मामले में आरोपपत्र दाखिल

इस साल के शुरू में उत्तरी दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों के मामले में दिल्ली पुलिस ने एक भारी भरकम आरोपपत्र दिल्ली की कड़कड़डूमा अदालत में पेश कर दिया है। दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा की ओर से दाखिल किए गए आरोपपत्र में 15 आरोपियों के खिलाफ विस्तार से सबूत पेश किए गए हैं। इसके मुताबिक, व्हाट्सऐप ग्रुप और चैट के जरिए हिंसा फैलाने की साजिश रची गई थी।

दिल्ली हिंसा मामले में उमर खालिद गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के पूर्व छात्र उमर खालिद को गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत पूर्वोत्तर दिल्ली हिंसा के सिलसिले में

शरजील के खिलाफ मुकदमों पर रोक से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

उच्चतम न्यायालय ने भड़काऊ भाषण मामले में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र शरजील इमाम के खिलाफ विभिन्न राज्यों में चल रहे मुकदमों पर रोक

जेएनयू का चरित्र बदलने वालों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई : निशंक

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने गुरूवार को राज्यसभा में कहा कि केन्द्र उन लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करेगा जो जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के मूलभूत चरित्र को बदलने का प्रयास करेंगे।

कन्हैया से किसे खतरा और किसको फायदा?

सीपीआई के नेता और जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के खिलाफ दिल्ली सरकार ने देशद्रोह का मुकदमा चलाने की मंजूरी दे दी है। कन्हैया के साथ साथ आठ और लोगों के ऊपर मुकदमा चलेगा। दिल्ली सरकार की ओर से दी गई टाइमिंग को लेकर सवाल उठ रहे हैं।

अमूल्य पटनायक के ऊपर ठीकरा

दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों की ठीकरा दिल्ली पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक पर फोड़ा जा रहा है और इस बहाने केंद्र सरकार के एक शीर्ष अधिकारी भी निशाने पर आए हैं। आमतौर पर चुनाव के समय अगर किसी अधिकारी का कार्यकाल खत्म हो रहा होता है तो उसे चुनाव ड्यूटी से अलग कर दिया जाता है।

कन्हैया पर हमले विरोध की रणनीति

पटना। मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने आरोप लगाया है कि जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) या उनके समर्थित संगठनों द्वारा हमले कराए जा रहे हैं। कन्हैया इन दिनों नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) व राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में अपनी जन-गण-मन यात्रा के दौरान बिहार के दौरे पर हैं और सभाएं कर रहे हैं। इस दौरान राज्य के विभिन्न इलाकों में असामाजिक तत्वों द्वारा उनके काफिले पर नौ हमले हो चुके हैं। माना जा रहा है कि भूमिहार जाति से आने वाले कन्हैया की इस यात्रा के दौरान हो रही सभाओं में भारी भीड़ एकत्रित हो रही है, जिसमें मुस्लिम और हिंदू बड़ी संख्या में जुट रहे हैं। भूमिहार जाति को भाजपा का वोट बंैक माना जाता है। ऐसे में कहा जा रहा है कि दक्षिणपंथी संगठन वामपंथ के विरोध में खड़े हो गए हैं। माकपा सचिव सत्यनारायण सिंह ने कहा कन्हैया पर हमले करने वाले कोई और नहीं हैं, बल्कि हताश और हिंदुवादी संगठनों के कार्यकर्ता हैं। जितनी सुरक्षा कन्हैया की यात्रा को मिलनी चाहिए, उतनी नहीं मिल रही है, जिस कारण कई लोगों को हमला करने का मौका मिल जाता है। कन्हैया की चर्चित छवि से… Continue reading कन्हैया पर हमले विरोध की रणनीति

बिहार में कन्हैया के काफिले पर पथराव

आरा। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और भाकपा नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर बिहार में एकबार फिर पथराव किया गया। इस पथराव में हालांकि कन्हैया कुमार सुरक्षित रहे, परंतु उनके काफिले के कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। पुलिस के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि कन्हैया बक्सर में सभा कर आरा जा रहे थे, तभी काफिले पर बीबीगंज बाजार के पास असामाजिक तत्वों ने हमला कर दिया। इस हमले में कन्हैया की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। किसी तरह पुलिस ने कन्हैया को दूसरी गाड़ी पर बैठाकर आरा की ओर निकाला। आरोप है कि शुक्रवार को जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के काफिले ने कुछ बाइक सवारों को कुचल दिया था। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने जमकर पथराव कर दिया। घटना के बाद बड़ी संख्या में पुलिस पहुंची और काफिले को आगे बढ़ाया। उल्लेखनीय है कि एनआरसी और सीएए के खिलाफ कन्हैया अपनी ‘जन-गण-मन यात्रा’ पर हैं। इसे भी पढ़ें : प्रधानमंत्री मोदी का 16 फरवरी को वाराणसी दौरा एक महीने तक चलने वाली इस यात्रा के दौरान वह बिहार के लगभग सभी प्रमुख शहरों में पहुंचेंगे और करीब 50 सभाएं करेंगे। कन्हैया ने इस यात्रा की शुरुआत 30 जनवरी को बेतिया… Continue reading बिहार में कन्हैया के काफिले पर पथराव

और लोड करें