Rajasthan: इस बार कोरोना ग्रामीणों की लापरवाही की वजह से फैला है..लेकिन राजस्थान के इस गांव में कोरोना ने किसी को छूआ तक नहीं

जैसलमेर : 2021 में कोरोना की दूसरी लहर ने सभी पर अपना डंक मारा है। और यह कहा जा रहा है कि कोरोना की दूसरी लहर ने इस बार गांवों पर कहर बरसाया हैं। और ये सही भी हैं। गांवों में इस बार करोना की वजह से मौतों के आंकड़े शहरों के मुकाबले कई गुना ज्यादा थे। लेकिन कुछ गांव कोरोना से बिल्कुल अछुते रहे हैं। इसी कड़ी में राजस्थान के जैसलमेर का यह इलाका कोरोना से जंग जीत गया है। यह इलाका पश्चिमी राजस्थान में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित जैसलमेर जिले में स्थित है। जैसलमेर जिले मुख्यालय से करीब 125 से 250 किलोमीटर तक का शाहगढ़ क्षेत्र आकार में काफी बड़ा है। सैकड़ों किलोमीटर क्षेत्र में फैले इस इलाके में करीब 10 हजार लोगों की आबादी निवास करती है। लेकिन कोरोना महामारी यहां दस्तक तक नहीं दे पाई है।  यह इलाका अब तक इस महामारी से पूरी तरह से सुरक्षित रहा हैं। जहां एक तरफ गांवों में कोरोना मरीजों की लाशे उठ रही थी शमशान घाट में जलाने के लिए जगह तक नहीं थी उस समय इस गांव में कोई कोरोना संक्रमित भी नहीं हुआ था। राजस्थान का यह गांव अब पुरे देश के लिए मिसाल बन गया हैं।बॉर्डर… Continue reading Rajasthan: इस बार कोरोना ग्रामीणों की लापरवाही की वजह से फैला है..लेकिन राजस्थान के इस गांव में कोरोना ने किसी को छूआ तक नहीं

जैसलमेर की इस शादी में दुल्हा घोड़ी पर नहीं  रेगिस्तान के जहाज ऊंट पर पहुंचा अपनी दुल्हन को लेने

राजस्थान सरकार ने 17 मई तक लॉकडाउन लगा रखा है। जिसमें कई तरह की पाबंंदिया लगा रखी है। सरकार ने ये फैसला जनता के हित में ही किया है। शादी समारोह में 31 लोग ही आ सकते है। शादी का समारोह भी सिर्फ तीन घंटे ही आयेजित हो सकेगा। कुछ लोग नियमों का पालन मजबूरी में कर रहे है तो कुछ लोग समाज में नई परंपरा लाने के लिए ऐसा कर रहे है। ऐसे में राजस्थान के जैसलमेर से एक अनोखी शादी देखने को मिली है। जैसलमेर (Jaisalmer) जिले के बांधेवा पंचायत के दूल्हे महिपाल सिंह (Mahipal Singh) एवं परिजन कोरोना (Corona) के चलते सोशल डिस्टेंसिंग मेन्टेन करते हुए शादी करने के लिए रेगिस्तान के जहाज ऊंटों पर बारात लेकर दुल्हन लेने पहुंचे। इसे भी पढ़ें Rajasthan Cm Update : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने होम आइसोलेशन के दौरान बताया देवानंद की फिटनेस का राज, खुद भी कर रहे है Follow दुल्हा ऊंट पर पहुंचा दुल्हन को लेने परिजनों ने ऐसा तरीका निकाला, जो काफी हटकर था। इससे कोरोना के नियमों का उल्लंघन भी हुआ। इस शादी को देख कर पूरे क्षेत्र में चर्चा छा गई। बारात ग्राम पंचायत बांधेवा के केसुला पाना महेचो की ढाणी से कालजिरो भाटियो की… Continue reading जैसलमेर की इस शादी में दुल्हा घोड़ी पर नहीं रेगिस्तान के जहाज ऊंट पर पहुंचा अपनी दुल्हन को लेने

जवानी में हुआ प्यार, 50 साल बाद बुढ़ापे में आया लेटर, 82 वर्षीय राजस्थानी गेटकीपर व ऑस्ट्रेलियन मरीना की प्रेम कहानी

जैसलमेर। इनका इश्का गुड़ से भी मीठा है। पूरी प्रेम कहानी मोहब्बत की मिसाल है। ना इसे सात समंदर पार की दूरियां रोक पाई और ना ही पांच दशकों का वक्त इसे धुंधला सका। भारतीय पुरुष और विदेशी महिला की संभवतया यह पहली लव स्टोरी होगी, जिसमें दोनों जवानी के दिनों में एक-दूसरे को दिल दे बैठे और बुढ़ापे में प्रेम पत्र लिख व पढ़ रहे हैं। विजय कथेरिया ने 2 माह की बेटी को तोहफे में दिया चांद पर प्लॉट, जानिए कैसे खरीदी जाती है चांद पर जमीन?   भारत में राजस्थान के जैसलमेर जिले के धोरों में आज से 50 साल पहले पनपी यह मोहब्बत फिर से चर्चा में है। वजह है करीब 78 सौ किलोमीटर दूर से आया लव लेटर, जो ऑस्ट्रेलिया की मरीना ने जैसलमेर के गांव कुलधरा निवासी अपने ​प्रेमी गेटकीपर को लिखा है। गेटकीपर इस वक्त 82 साल के हो चुके हैं। जैसलमेर को कहते हैं स्वर्ण नगरी बता दें कि राजस्थान का जैसलमेर भारत-पाकिस्तान इंटरनेशनल बॉर्डर से लगता जिला है। पूरा शहर पीले पत्थरों से निर्मित होने के कारण इसे गोल्डन सिटी या स्वर्ण नगरी भी कहा जाता है। यहां के सम के धोरे ​(​मिट्टी के टीले) विश्व प्रसिद्ध हैं। दुनियाभर से लाखों सैलानी… Continue reading जवानी में हुआ प्यार, 50 साल बाद बुढ़ापे में आया लेटर, 82 वर्षीय राजस्थानी गेटकीपर व ऑस्ट्रेलियन मरीना की प्रेम कहानी

Rajasthan : क्या जैसलमेर में आंधी ने तोड़ा 49 साल का रिकॉर्ड, मिट्टी में दफन हुईं एक हजार करोड़ की फसलें, देखें Viral Video

वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि किसान रेत में दफन फसलों को बाहर निकाल रहे हैं। साथ ही एक किसान कहता है कि…

जैकलीन ने ‘बच्चन पांडे’ के लिए रस्सी पर चलना सीखा

जैसलमेर में हाल ही में ‘बच्चन पांडे’ की शूटिंग पूरी करने वालीं अभिनेत्री जैकलीन फर्नाडीज ने फिल्म में अपनी भूमिका के लिए रस्सी पर चलने का प्रशिक्षण लिया।

पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल करवाते परीक्षा केंद्र के सह प्रभारी गिरफ्तार

राजस्थान में जैसलमेर के एक सेंट्रर में चल रही पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में आज पुलिस ने एक अभ्यर्थी को नकल करवाते परीक्षा केंद्र के सहप्रभारी को गिरफ़तार किया।

जैसलमेर में हर मोर्चे पर सतर्क है प्रशासन

राजस्थान के जैसलमेर में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के ऎहतियाती उपायों के साथ ही लॉक डाउन की कड़ाई से पालना कराई जा रही है।

कोरोना वायरस की पुष्टि के बाद 40 व्यक्ति निगरानी में

राजस्थान के जैसलमेर में घूमने आए इटली के पर्यटक में कोरोना वायरस की पुष्टि के बाद जिले के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया है।

होलकाष्टमी से फागोत्सव की हुई शुरुआत

फाल्गुन महीने में हाेलकाष्टमी लगने के साथ ही जैसलमेर में लक्ष्मीनाथ मंदिर में परंपरागत फागोत्सव की शुरूआत हो गई।

जैसलमेर में पक्षी पर्यटन को लग सकते हैं पंख

पीत पाषाणों से सज्जित किले, हवेलियों, झरोखों, रेगिस्तान, लोक कला संस्कृति, लोक जीवन और परंपराओं के लिये विख्यात जैसलमेर में अब पक्षी पर्यटन के लिये भी अपार संभवानायें नजर आ रही हैं।

जैसलमेर के लाठी क्षेत्र में देखे गये दुर्लभ प्रजाति के गिद्ध

राजस्थान के सीमांत जैसलमेर वन्यजीव बहुल क्षेत्र लाठी में विलुप्त होने के कगार पर पहुंचे दुर्लभ प्रजाति के गिद्ध देखे गये हैं।

मरु महोत्सव का सात फरवरी को होगा आगाज

राजस्थान के सीमांत जैसलमेर में पिछले बयालीस सालो में अपनी खास पहचान बनाने वाले मरू महोत्सव का इस वर्ष आगामी सात फरवरी से आगाज़ होगा।

राजस्थान में जैसलमेर एवं उदयपुर जिले में टिड्डी दल का हमला

राजस्थान में जैसलमेर एवं उदयपुर जिले के कुछ क्षेत्रों में टिड्डी दलाें ने हमला कर दिया है। राज्य के कृषि मंत्री लालचन्द कटारिया ने टिड्डी नियंत्रण के लिए प्रशासन को सभी संभव उपाय करने के निर्देश दिये है।

और लोड करें