प्रचंड जीत से हेमंत गदगद, पिता से लिया आशीर्वाद

झारखंड चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के शानदार प्रदर्शन से गदगद नजर आ रहे पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने आज अपने पिता और पार्टी के संस्थापक शिबू सोरेन से मिलकर उनका आर्शीवाद लिया।

झारखंड चुनाव : कांग्रेस-झामुमो गठबंध सरकार बनाने की ओर

नई दिल्ली। झारखंड में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को झटका मिल सकता है। झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो)-कांग्रेस गठबंध 42 विधानसभा सीटों पर आगे चल रहा है। जो सरकार बनाने के लिए जादुई आंकड़ा है। जहां एक ओर झामुमो-कांग्रेस-राजद (राष्ट्रीय जनता दल) पूर्ण रूप से बढ़त बनाए हुए हैं, वहीं भाजपा 29 सीटों पर आगे है। खुद मुख्यमंत्री रघुबर दास अपने विधानसभा क्षेत्र जमशेदपुर पूर्व से साढ़े चार हजार से अधिक मतों से पीछे चल रहे हैं। चुनाव आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 81 सीटों वाली विधानसभा में झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंध आधे पर बढ़त बनाए हुए है। हेमंत सोरेन के नेतृत्व वाली झामुमो 24 सीटों, कांग्रेस 14 और राजद 5 सीटों पर आगे चल रहीं है। गठबंध के जीतने पर हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री बन सकते हैं। यहां कांग्रेस मुख्यालय में जश्न की तैयारियों के बीच कार्यकर्ता मिठाई बांट रहे हैं। झारखंड के मुख्यमंत्री राघुबर दास ने सोमवार सुबह कहा कि भाजपा राज्य की सत्ता में वापस आएगी और शुरुआती रुझानों में प्रतिक्रिया देना जल्दबाजी होगी। दास ने पत्रकारों से बात करते हुए यहां कहा मुझे पूरा विश्वास है कि हम जीत रहे हैं और भाजपा के नेतृत्व में राज्य में पुन: सरकार का गठन किया जाएगा। जहां भाजपा बैकफुट पर खड़ी… Continue reading झारखंड चुनाव : कांग्रेस-झामुमो गठबंध सरकार बनाने की ओर

झारखंड चुनाव : बाबूलाल मरांडी 9416 मतों से आगे

रांची। झारखंड विकास मोर्चा (पी) के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी विधानसभा चुनाव में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्‍सवादी-लेनिनवादी) के उम्मीदवार राज कुमार यादव से धनवर निर्वाचन क्षेत्र में 9416 वोटों से आगे चल रहे हैं। शुरुआती रुझानों पर टिप्पणी करते हुए, मरांडी ने संवाददाताओं से कहा कि वे लोगों के जनादेश को स्वीकार करेंगे। उन्होंने कहा नतीजे आने दीजिए, हम बैठेंगे और चर्चा करेंगे कि क्या करना है। हम लोगों के जनादेश को स्वीकार करेंगे। भाजपा के लक्ष्मण प्रसाद सिंह को अब तक तीन हजार से कम मत प्राप्त हुए हैं। झामुमो प्रत्याशी निजामुद्दीन अंसारी को अब तक 1076 वोट ही मिले हैं। 2014 के विधानसभा चुनावों में, यादव ने बाबूलाल मरांडी को 10,712 मतों के अंतर से हराया था। इसे भी पढ़ें : झारखंड चुनाव : पांचवीं बार सरकार बनाने की ओर झामुमो धनवार विधानसभा कोडरमा लोकसभा क्षेत्र का एक हिस्सा है। धनवार तेजी से बढ़ते इलेक्ट्रॉनिक बाजार के अलावा चांदी के आभूषणों और धातु के बर्तनों के लिए भी प्रसिद्ध है। इस बार चुनाव में इस सीट पर मतदान 61.68 प्रतिशत दर्ज किया गया था। सीट पर 12 दिसंबर, 2019 को विधानसभा चुनावों के तीसरे चरण में मतदान हुआ था। सात निर्दलीय सहित कुल 14 उम्मीदवारों ने… Continue reading झारखंड चुनाव : बाबूलाल मरांडी 9416 मतों से आगे

झारखंड चुनाव : पांचवीं बार सरकार बनाने की ओर झामुमो

नई दिल्ली। झारखंड की 81 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव के लिए सोमवार को जारी मतगणना के रुझानों बाद झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) राज्य में पाचंवीं बार अपना मुख्यमंत्री बनाने की ओर अग्रसर है। लगभग दो दशक पहले प्रथक राज्य की मांग करने वालों में झामुमो सबसे आगे था। चुनाव में हेमंत सोरेन की अगुआई में झामुमो ने राष्ट्रीय परिदृश्य पर आधारित और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की अगुआई वाले भाजपा के चुनाव प्रचार को चुनौती दी। विधानसभा चुनाव में मोदी की अगुआई में भाजपा ने जहां राष्ट्रीय मुद्दों को हथियार बनाया, वहीं सोरेन ने स्थानीय मुद्दे चुने। साल 2000 में राज्य के गठन के बाद 2019 में यह चौथे विधानसभा चुनाव हैं। राज्य में झामुमो ने 2005, 2009, 2014 और 2019 में सरकार बनाई। वर्ष 2019 के चुनाव में झामुमो ने राज्य की 81 सीटों में से 43 पर चुनाव लड़ा है। उसकी सहयोग पार्टियों- कांग्रेस ने 31 और राजद ने सात सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए हैं। इसे भी पढ़ें : झारखंड में सत्ता गंवा सकती है भाजपा हेमंत जुलाई 2013 से दिसंबर 2014 तक 16 महीनों के लिए राज्य के मुख्यमंत्री रहे। जहां उनके पिता और झामुमो के संस्थापक शिबू सोरेन पहली बार… Continue reading झारखंड चुनाव : पांचवीं बार सरकार बनाने की ओर झामुमो

झारखंड चुनाव : बरहेट, दुमका से हेमंत आगे, सिल्ली से सुदेश

झारखंड विधानसभा की 81 सीटों के लिए आज हो रही मतगणना में झामुमो, राजद और कांग्रेस गठबंधन के मुख्यमंत्री प्रत्याशी हेमंत सोरेन अपनी दोनों सीटों दुमका और बरहेट से आगे चल रहे हैं।

झारखंड में नागरिकता मुद्दा फेल?

ऐसा लग रहा है कि नागरिकता कानून का मुद्दा झारखंड चुनाव में भाजपा के लिए फायदेमंद नहीं रहा है। पांच चरण का मतदान खत्म होने के बाद जो एक्जिट पोल के नतीजे आए हैं उनसे लग रहा है कि भाजपा नुकसान में है। ध्यान रहे लोकसभा में नागरिकता कानून नौ दिसंबर को पास हो गया था और 12 दिसंबर को इस पर राज्यसभा की भी मुहर लग गई थी।

झारखंड चुनाव: पांचवें चरण में 62.77 फीसदी हुआ मतदान

पांच सीटों पर सुरक्षा कारणों से आज अपराह्न तीन बजे मतदान समाप्त हो गया और इस दौरान सभी सीटों के लिए कुल 62.77 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

और लोड करें