kishori-yojna
ऑक्सीजन कंट्रोल कर रहा है केंद्र

देश के कई राज्यों में ऑक्सीजन की कमी हुई तो भाजपा के नेताओं, प्रवक्ताओं और समर्थकों  ने चारों तरफ राज्यों को जिम्मेदार ठहराना शुरू कर दिया। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल पर ठीकरा फोड़ा गया कि उन्होंने ऑक्सीजन का बंदोबस्त नहीं किया इसलिए दिल्ली में मुश्किल हुई है। एक तरह से ऑक्सीजन की कमी से जुड़ी खबरों से केंद्र सरकार को दूर किया गया। यह मैसेज बनवाया गया कि केंद्र सरकार की यह जिम्मेदारी नहीं है फिर भी वह राज्यों की मदद के लिए कोऑर्डिनेशन का काम कर रही है। लेकिन अब खुद सरकार ने ही मान लिया है कि ऑक्सीजन की आपूर्ति का पूरा काम वह कंट्रोल कर रही है। ऑक्सीजन की आपूर्ति और कमी को लेकर हाई कोर्ट में हो रही चुनवाई के दौरान देश के दूसरे नंबर के कानूनी अधिकारी तुषार मेहता ने इस बात पर आपत्ति जताई कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उद्योगपति सज्जन जिंदल को ऑक्सीजन और टैंकर के लिए चिट्ठी क्यों लिखी। तुषार मेहता ने कहा कि ऑक्सीजन का अतिरिक्त उत्पादन सेंट्रल पूल में जाएगा और वहां से राज्यों को दिया जाएगा। राज्य सीधे उद्योगपतियों से अपील नहीं कर सकते हैं। फिर केंद्र सरकार ऑक्सीजन की कमी का जिम्मा क्यों नहीं ले रही… Continue reading ऑक्सीजन कंट्रोल कर रहा है केंद्र

नए अटॉर्नी जनरल की तलाश!

तुषार मेहता केंद्र सरकार के सॉलिसीटर जनरल हैं। पर कहा जा सकता है कि वे ही असली अटॉर्नी जनरल भी हैं।

कौन गिद्ध है और कौन यमदूत?

देश के दूसरे नंबर के कानूनी अधिकारी तुषार मेहता ने पलायन कर रहे मजदूरों के मसले पर सुप्रीम कोर्ट में पिछले हफ्ते सुनवाई के दौरान कई बेहद आपत्तिजनक बातें कहीं।

और लोड करें