छठ पूजा की मंजूरी से अदालत का इंकार

दिल्ली उच्च न्यायालय ने कोविड-19 के मद्देनजर सार्वजनिक स्थलों जैसे तालाबों और नदी तटों पर छठ पूजा के आयोजन पर दिल्ली सरकार द्वारा लगाए गए प्रतिबंध में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया।

कोरोना मरीजों के घर के बाहर पोस्टर लगाना मना है : दिल्ली सरकार

आम आदमी पार्टी सरकार ने मंगलवार को दिल्ली हाईकोर्ट में बताया कि उसने अपने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे घर में क्वारंटीन रह रहे कोविड-19 मरीजों के घर के बाहर पोस्टर न लगाएं।

दिल्ली हाईकोर्ट ने इशरत की याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा

दिल्ली हाईकोर्ट ने कांग्रेस की पूर्व पार्षद इशरत जहां की याचिका पर अपना आदेश सुरक्षित रख लिया। याचिका में राष्ट्रीय राजधानी में फरवरी में हुई

शफूरा जरगर के लिए अपवाद बनाने का मतलब

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी की छात्रा और सामाजिक कार्यकर्ता शफूरा जरगर को मानवीय आधार पर लेकिन अपवाद के तौर पर जमानत मिली है।

कोरोना से ज्यादा लॉकडाउन की वजह से परेशानियां हुईं : दिल्ली हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट ने आज ‘अनलॉक 1’ के सरकारी आदेश को चुनौती देने वाली विभिन्न याचिकाओं को खारिज कर दिया और कहा कि ‘लॉकडाउन कोविड-19 महामारी से ज्यादा तकलीफदेह रहा।

आरटीआई से क्यों बाहर रखना है पीएम केयर्स को?

यह बहुत हैरान करने वाली बात है कि सरकार या प्रधानंमत्री कार्यालय चाहते हैं कि कोरोना वायरस या इस किस्म की महामारी से लड़ने में मदद करने के लिए बनाए गए पीएम केयर्स फंड को सूचना के अधिकार कानून के दायरे से बाहर रखा जाए।

सीएए को लेकर हुई गिरफ्तारियों पर रुख स्पष्ट करे केंद्र: हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा है कि वह नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान हुए दंगों के आरोपियों की गिरफ्तारी पर रोक लगाने वाली याचिका पर

दिल्ली हाईकोर्ट में वकीलों के चैंबर 31 मार्च तक बंद

कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव को लेकर देश की अदालतें और वकील भी एहतियात बरत रहे हैं। इसी के तहत अब दिल्ली हाईकोर्ट के वकीलों के चैंबर 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिए गए हैं।

दिल्ली हिंसा: हाईकोर्ट ने सरकार, नेताओं को भेजे नोटिस

दिल्ली हाईकोर्ट ने आज कथित रूप से घृणास्पद भाषण देने और आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त होने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने वाली याचिका पर

नफरती भाषणों पर 12 मार्च को सुनवाई

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव के दौरान और उसके बाद दिए गए नफरत फैलाने वाले भाषणों से जुड़ी याचिकाओं पर दिल्ली हाई कोर्ट में 12 मार्च को सुनवाई होगी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर शुक्रवार को इस मामले की सुनवाई हुई। पहले दिल्ली हाई कोर्ट ने इस पर सुनवाई के लिए 13 अप्रैल की तारीख तय की थी। पर सुप्रीम कोर्ट ने उसे जल्दी सुनवाई के लिए कहा था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद शुक्रवार को दिल्ली हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डीएन पटेल और जस्टिस सी हरिशंकर की पीठ ने संशोधित नागरिकता कानून, सीएए को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगे और नेताओं के कथित तौर पर नफरत फैलाने वाले भाषणों पर एफआईआर दर्ज करने और गिरफ्तारी की मांग करने वाली जनहित याचिका को 12 मार्च को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया। याचिका में भाजपा के नेता और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, सांसद प्रवेश वर्मा और विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार रहे पूर्व विधायक कपिल मिश्रा के खिलाफ उनके कथित नफरत फैलाने वाले भाषणों के लिए मामला दर्ज करने की मांग की गई है। याचिका में कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा सहित दूसरे नेताओं के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज करने… Continue reading नफरती भाषणों पर 12 मार्च को सुनवाई

दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों के पोस्टमार्टम की होगी वीडियोग्राफी

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने शुक्रवार को सभी सरकारी अस्पतालों को निर्देश दिया कि दिल्ली हिंसा में मारे गए सभी लोगों के पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी की जाए। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने अस्पतालों को 11 मार्च तक किसी भी अज्ञात शव का समापन नहीं करने का निर्देश दिया। साथ ही अधिकारियों को सभी मृतकों के डीएनए नमूने सुरक्षित रखने को कहा गया है। न्यायमूर्ति सिद्धार्थ मृदुल और न्यायमूर्ति आई. एस. मेहता ने यह फैसला सुनाया है। पीठ लापता लोगों से संबंधित विभिन्न याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी, जिनमें एक हमजा नामक व्यक्ति भी शामिल है। हमजा के बहनोई अंसारी एम. आरिफ राष्ट्रीय राजधानी के पूर्वोत्तर इलाके में 23 फरवरी को हुई हिंसा के दौरान हमजा के लापता होने के बाद दिल्ली हाईकोर्ट में पहुंचे थे। हिंसा में मरने वालों की संख्या 53 तक पहुंच चुकी है। इस मामले की सुनवाई करते हुए अदालत ने गुरुवार को दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया था कि वह अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर सरकारी मुर्दाघरों में रखे गए सभी अज्ञात शवों की तस्वीरों सहित उनकी तमाम जानकारी प्रकाशित करे। इसके साथ ही अदालत ने पुलिस को आधिकारिक वेबसाइट पर पोस्टमार्टम और डीएनए नमूनों सहित विशिष्ट जानकारी प्रकाशित करने का भी आदेश दिया है।

हाईकोर्ट में दिल्ली हिंसा पर सुनवाई 12 मार्च तक स्थगित

दिल्ली हाईकोर्ट ने आज उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा से संबंधित याचिकाओं पर सुनवाई 12 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी। मुख्य न्यायाधीश डी. एन. पटेल और न्यायमूर्ति सी. हरिशंकर की खंडपीठ ने हिंसा से संबंधित विभिन्न याचिकाओं पर अगले सप्ताह 12 मार्च को सुनवाई करने का फैसला किया।

दिल्ली हिंसा: बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर सुनवाई करेगा हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट उत्तर पूर्वी दिल्ली में 23-25 फरवरी को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) विरोधी हिंसा के संबंध में दो लोगों को कथित रूप से अवैध हिरासत में लिए जाने के खिलाफ दायर बंदी प्रत्यक्षीकरण मामले में शुक्रवार को सुनवाई करेगा।

दिल्ली हिंसा: शवों के संग्रह पर कल सुनवाई करेगा हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट आज एक याचिका पर सुनवाई पर तैयार हो गया, जिसमें दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान मारे गए लोगों के शवों को संग्रह करने की मांग की गई थी।

न्यायाधीश ने कोर्टरूम में चलाया कपिल मिश्रा का वीडियो

नई दिल्ली। देश की राजधानी के उत्तरी-पूर्वी क्षेत्रों में हिंसा भड़काने वाले राजनीतिक नेताओं की गिरफ्तारी और पीड़ितों के लिए मुआवजा और स्वतंत्र जांच की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई के दौरान दिल्ली हाईकोर्ट में बुधवार को हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। न्यायाधीश मुरलीधर ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा वहां की परिस्थिति बेहद अप्रिय है। इस दौरान कोर्टरूम में न्यायाधीश द्वारा भाजपा नेता कपिल मिश्रा की कथित भड़काऊ बयान वाले वीडियो को भी चलाया गया। इस वीडियो को तब चलाया गया, जब पुलिस अधिकारी ने कहा कि उसने वीडियो नहीं देखा है। न्यायाधीश मुरलीधर ने कहा सब इसे देखिए। कोर्ट में कपिल मिश्रा का भाषण सुनने के बाद पुलिस अधिकारी ने वीडियो में मौजूद सब-इंस्पेक्टर की पहचान की। मेहता ने समय मांगते हुए कोर्ट से इस मामले पर गुरुवार को सुनवाई करने की मांग की। हालांकि इस मामले पर दोपहर 2.30 बजे फिर सुनवाई होगी। कोर्ट ने बुधवार को सुबह याचिका पर सुनवाई के लिए हामी भरी थी और दिल्ली के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को भी सुनवाई के दौरान उपस्थित रहने के लिए कहा था।

और लोड करें