राज्यपालों के तबादले, नियुक्तियों की तैयारी

modi government transfer : केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में फेरबदल को लेकर चल रही अटकलों के बीच खबर है कि सरकार कुछ राज्यपालों के तबादले और कुछ नई नियुक्तियों की सिफारिश राष्ट्रपति को करने वाली है। कुछ राज्यों में राज्यपाल, उप राज्यपाल, प्रशासक आदि के पद खाली हैं। कुछ जगह खाली होने वाले हैं… Continue reading राज्यपालों के तबादले, नियुक्तियों की तैयारी

मोदी मंत्रिमंडलः फेरबदल कब?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी सरकार में कब फेरबदल करेंगे? यह सवाल अब भाजपा नेताओं को परेशान करने लगा है। केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल की अटकलें लगाते लगाते नेता अब थकने लगे हैं और इस बारे में बात करने से बचने लगे हैं। कई नेताओं को इंतजार तो फ्रस्ट्रेशन की हद तक पहुंच गया है। पर… Continue reading मोदी मंत्रिमंडलः फेरबदल कब?

सिंधिया, सुशील मोदी का लंबा इंतजार

कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया और बिहार छुड़ा कर केंद्र की राजनीति में लाए गए सुशील कुमार मोदी का इंतजार क्या खत्म होगा? सिंधिया पिछले साल मार्च से इंतजार कर रहे हैं। उनके और उनके समर्थकों का धीरज छूट रहा है तभी पिछले दिनों 21 मई को पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव… Continue reading सिंधिया, सुशील मोदी का लंबा इंतजार

सहयोगी पार्टियों को मिलेगी जगह

इस बार केंद्र सरकार में सहयोगी पार्टियों को जगह मिल सकती है। ध्यान रहे नरेंद्र मोदी की मौजूदा सरकार में सिर्फ एक ही सहयोगी पार्टी का मंत्री है। रामदास अठावले अकेले मंत्री हैं, जो गैर भाजपाई हैं। वे भी ऐसी पार्टी के नेता हैं, जिसका कोई भी लोकसभा सदस्य नहीं है। उनके अलावा अकाली दल… Continue reading सहयोगी पार्टियों को मिलेगी जगह

कौन-कौन बनेगा केंद्र में मंत्री?

दिल्ली में एक बार फिर गेसिंग गेम शुरू हो गया है कि केंद्र में कौन कौन मंत्री बनेगा। हालांकि सबको पता है कि नरेंद्र मोदी सरकार बनने के बाद किसी पद के लिए जिसके नाम की ज्यादा चर्चा हो जाती है उसका पत्ता कट जाता है। फिर भी कई तरह की अटकलें चल रही हैं।… Continue reading कौन-कौन बनेगा केंद्र में मंत्री?

एनजीओ कैसे मदद कर पाएंगे?

भारत सरकार ने देश की गैर सरकारी संस्थाओं यानी एनजीओ से अपील की है कि उन्हें महामारी के इस समय में लोगों की मदद करने के लिए आगे आना चाहिए। ध्यान रहे भारत में पिछले दो दशक में गैर सरकारी संस्थाओं के कामकाज का बहुत शानदार इतिहास रहा है। उन्होंने स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र… Continue reading एनजीओ कैसे मदद कर पाएंगे?

केंद्र के मसखरे मंत्री और राहुल

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के कुछ मंत्रियों के अंदर हर मसले पर बयान देने और अपना मजाक बनवाने की अद्भुत क्षमता है। अभी पिछले दिनों रविशंकर प्रसाद और स्मृति ईरानी ने अपना मजाक बनवाया था, जब उन्होंने राहुल गांधी को दवा और वैक्सीन कंपनियों का दलाल कहा था। असल में राहुल ने दुनिया के… Continue reading केंद्र के मसखरे मंत्री और राहुल

सच तो छिपता नहीं!

नरेंद्र मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था से लेकर कोरोना तक में अपना सबसे कारगर हथियार सच पर परदा डालने को माना। तरीका यह रहा कि अगर आर्थिक आंकड़े अनुकूल ना हों, तो आंकड़े जुटाने का पैमाना बदल दो। बड़े समर्थक जमातों में ये तरीका कारगर रहा। तो इसे कोरोना महामारी में आरंभ से अपनाया गया। संक्रमण… Continue reading सच तो छिपता नहीं!

राजनीतिक भ्रांतियों में उलझा शहर

लेखक: सुशील कुमार सिंह ये डबल इंजिन की सरकार क्या होता है? अगर इस जुमले में कोई दम होता यानी अगर इससे सचमुच किसी बेहतरी की गारंटी होती तो अब तक कई प्रदेशों की काया पलट हो चुकी होती। ठीक ऐसी ही एक भ्रांति दिल्ली को लेकर भी बनी हुई है। यह कि दिल्ली और… Continue reading राजनीतिक भ्रांतियों में उलझा शहर

असली विपक्ष डॉक्टर स्वामी!

अगर ट्विटर को राजनीतिक लड़ाइयों का सबसे बड़ा मैदान मानें तो वहां केंद्र सरकार और नरेंद्र मोदी का सबसे बड़ा विपक्ष सुब्रह्मण्यम स्वामी हैं। राहुल गांधी भी ट्विट करते हैं और सवाल उठाते हैं पर उनका अटैक सीमित विषयों पर होता है। उनके मुकाबले स्वामी का हमला अलग अलग और ऐसे विषयों पर होता है,… Continue reading असली विपक्ष डॉक्टर स्वामी!

जीएसटी को लेकर केंद्र पर राहुल का हमला

केंद्र सरकार के प्रति हमलावर रुख जारी रखते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जीएसएटी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना की है।

सरकार की स्वर्ण बांड योजना 31 अगस्त से होगी शुरू

सोने में निवेश के इच्छुक निवेशकों के लिए नरेंद्र मोदी सरकार की स्वर्ण बांड योजना 31 अगस्त को शुरू हो रही है जो चार सितंबर तक चलेगी।

भाजपा ने शुरू किया परिवार संपर्क अभियान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले वर्ष की उपलब्धियों को लोगों के बीच पहुंचाने के लिए एक जून से प्रारंभ हुए संपर्क व संवाद के तहत भाजपा ने आज से परिवार संपर्क अभियान शुरू किया है।

बिन सोचे-समझे लॉकडाऊन से लोगों की दुर्गति हुई : वाम दल

कोरोना वायरस महामारी के दौरान देश की जनता को उसके हाल पर छोड़ दिये जाने का आरोप लगाते हुए मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) कार्यकर्ताओं ने आज यहां प्रदर्शन किया।

बजट के मद्देनजर मोदी ने की प्रत्येक योजना की समीक्षा

नरेंद्र मोदी सरकार एक बहुप्रतीक्षित व बदलाव लाने वाला बजट पेश करने के लिए तैयार है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2020-21 के लिए केंद्रीय बजट पर इंडियन इंक, अर्थशास्त्रियों और विशेषज्ञों के साथ कई बैठकें की हैं।

सीएए पर सरकार को संघ का साथ

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दो टूक अंदाज में कहा था कि सरकार संशोधित नागरिकता कानून पर एक इंच भी पीछे नहीं हटने जा रही है। यह बहुत सोचा समझा बयान था। वैसे भी नरेंद्र मोदी सरकार का रिकार्ड पीछे नहीं हटने का रहा है।

जनरल रावत होंगे पहले सीडीएस!

नई दिल्ली। थल सेना प्रमुख के पद से 31 दिसंबर को रिटायर होने जा रहे जनरल बिपिन रावत देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ होंगे। उनके नाम पहले से ही तय माना जा रहा था पर 30 दिसंबर को उन्हें बधाई देने का सिलसिला भी शुरू हो गया। कांग्रेस के नेता और पंजाब के… Continue reading जनरल रावत होंगे पहले सीडीएस!

बेतुकेपन पर आक्रोश वाजिब

नरेंद्र मोदी सरकार के मंत्री बेतुकी बात करें, अब इसमें कोई हैरत नहीं होती। लेकिन केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने हाल में जो कहा, उस पर लोगों में हिकारत के बजाय आक्रोश ज्यादा पैदा हुआ। यहां तक कि संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी इस पर आपत्ति जताई है।

मुनाफे वाली कंपनियों को बेचने की मजबूरी!

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को अपनी जरूरतें पूरी करने के लिए पैसे की सख्त जरूरत है। सरकार यह बात कह नहीं रही है। यहां तक कि सरकार के मंत्री घूम घूम कर यह बता रहे हैं कि कोई आर्थिक मंदी जैसी स्थिति नहीं है।

अब क्या होगा भाजपा का एजेंडा?

भारतीय जनता पार्टी अब आगे क्या करेगी? भारतीय जनसंघ के संस्थापकों ने जिस अनुच्छेद 370 को खत्म करने का मुद्दा बनाया था, उसे नरेंद्र मोदी की सरकार ने सुलझा दिया है। अटल बिहारी वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी की तिकड़ी ने अयोध्या में राममंदिर के निर्माण का जो संकल्प बनाया था, वह भी पूरा हो गया है।

जदयू क्या केंद्र सरकार में शामिल होगी?

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में कब फेरबदल होगी? यह लाख टके का सवाल है। इसी महीने संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने वाला है और जब सत्र खत्म होगा उसके बाद मलमास शुरू हो जाएगा। सो, एक चर्चा 18 नवंबर से पहले फेरबदल की है और दूसरी 15 जनवरी से लेकर संसद का बजट सत्र शुरू होने से पहले तक की है।

एनडीए के सहयोगियों दलों में भी बदलाव

ऐसा लग रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी सरकार में फेरबदल करेंगे तो कैबिनेट का स्वरूप बदलेगा। कुछ लोग हटेंगे और कुछ नए चेहरे आएंगे। सभी सहयोगी पार्टियों को सरकार में जगह मिल सकती है।

देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई : दीपंकर

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी-लेनिनवादी (भाकपा-माले) के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए आज कहा कि इस सरकार में न केवल रोजगार के अवसर समाप्त कर दिए गए बल्कि देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है।

जश्न अगर भ्रामक ना हो

नरेंद्र मोदी सरकार हेडलाइन मैनेजमेंट में माहिर है, ये बात तो अब सारी दुनिया मानती है। मगर मैनेजमेंट जब ऐसा होने लगे कि हकीकत को पलट कर दिखाया जाए, तो सरकार को यह समझना चाहिए कि इसकी एक सीमा होती है।

“ऐसी व्यवस्था” आरटीआई की जरूरत ही न पड़े : शाह

गृह मंत्री अमित शाह ने आज को केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) के 14वें स्थापना दिवस पर कहा कि देश में ऐसी व्यवस्था होनी चाहिए कि लोगों को आरटीआई दाखिल करने की जरूरत ही न पड़े, बल्कि सरकार खुद सामने आकर सूचनाएं दे।