• डाउनलोड ऐप
Friday, May 7, 2021
No menu items!
spot_img

नो एंटी जोन

दुर्गापूजा पंडाल ‘नो एंट्री जोन’

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के सबसे लोकप्रिय त्योहार दुर्गापूजा के लिए पंडाल तो सजाए गए हैं पर कलकत्ता हाई कोर्ट ने पंडालों को नो एंट्री जोन बना दिया है। कोई भी दर्शक पूजा पंडाल में नहीं जा सकेगा। आयोजकों को भी सीमित संख्या में पंडाल में एंट्री मिलेगी। कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने की चिंता में यह कदम उठाया गया है। सोमवार को हाई कोर्ट ने कहा कि पूजा पंडाल दर्शनार्थियों के लिए नो एंट्री जोन होंगे। अदालत ने यह भी कहा कि पंडाल के अंदर सिर्फ आयोजकों को ही रहने की इजाजत होगी। कोरोना महामारी को देखते हुए बड़े पंडालों के लिए आयोजकों की संख्‍या 25 और छोटे पंडालों के लिए यह संख्‍या 15 सीमित की गई है। कलकत्‍ता हाई कोर्ट की खंडपीठ की ओर से कहा गया है कि सभी बड़े पंडाल को 10 मीटर की दूरी पर बैरिकेड लगाने होंगे जबकि छोटे पंडाल के लिए पांच मीटर की दूरी पर बैरिकेड लगाने होंगे। लोगों के स्‍वास्‍थ्‍य को अहम बताते हुए अदालत ने कहा कि कोलकाता में इतनी पुलिस नहीं है कि तीन हजार पंडालों में श्रद्धालुओं को नियंत्रित कर सके।
- Advertisement -spot_img

Latest News

यमराज

मृत्यु का देवता!... पर देवता?..कैसे देवता मानूं? वह नाम, वह सत्ता भला कैसे देवतुल्य, जो नारायण के नर की...
- Advertisement -spot_img