हिंसा का कौन दोषी?

ये बात बार-बार उचित ही दोहराई जाती है कि लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं है। दरअसल, किसी सामाजिक या राजनीतिक व्यवस्था में हिंसा के लिए जगह नहीं होनी चाहिए। मतभेद कितने सद्भावपूर्ण ढंग से निपटाए जाते हैं, दरअसल, यही किसी समाज की सभ्यता को मापने की कसौटी होनी चाहिए। बहरहाल, यह आदर्श स्थिति है। भारत में चुनावी हिंसा अक्सर होती है। इसे नहीं होना चाहिए। लेकिन यह तभी संभव है, जब सभी संबंधित पक्ष अपनी जिम्मेदारी निभाएं। इस सिलसिले में जो दल जितना बड़ा है, और जिसे जनता ने जितनी बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है, उचित ही है कि उससे उतनी अधिक अपेक्षा रखी जाएगी। जाहिर है, आज की तारीख में यह दायित्व सबसे ज्यादा भारतीय जनता पार्टी को उठाना चाहिए। लेकिन पार्टी का हिंसा के प्रति क्या नजरिया है? फिलहाल, दो राज्यों में हुई चुनावी हिंसा चर्चा में है। पश्चिम बंगाल में विधान सभा चुनाव और उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के बाद हिंसा की अनेक घटनाएं हुईं। लेकिन पश्चिम बंगाल के बारे में जितना सुना गया, उतना उप्र के बारे में नहीं सुना गया। कारण साफ है। भाजपा और उसके समर्थक मीडिया ने जहां शोर मचाया, उसे लोगों ने ज्यादा सुना। लेकिन अगर मानदंड ऐसे दोहरे हों,… Continue reading हिंसा का कौन दोषी?

Corona Virus : ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना का कहर, पंचायत चुनाव के बाद बिगड़े हालात

नोएडा | गौतम बुद्ध नगर में कस्बों और गांवों (villages) में कोरोना (Corona) के तेजी से फैल रहे प्रकोप के मद्देनजर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं (Health facilities) उपलब्ध कराने के प्रयास किए जा रहे हैं। एक अधिकारी ने आज बताया कि जरूरी दवाएं (medicines) मुहैया कराने और संक्रमण की जांच कराने के लिए कई केंद्र खोले गए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दीपक अहोरी (Dr. Deepak Ahori) ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं (Health facilities) बेहतर की जा रही हैं जिसके तहत दवाइयां एवं ऑक्सीजन उपलब्ध कराने तथा कोरोना की जांच के लिए कई केंद्र खोले गए हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि संक्रमण के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत जांच कराएं तथा संक्रमित पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग से संपर्क कर दवाइयों का कीट हासिल करें। सीएमओ ने बताया कि घर में रहकर इलाज करा रहे लोगों के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने दवाइयों की किट उनके घरों पर पहुंचानी शुरू कर दी है। साथ ही बताया कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए पांच केंद्र बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) तथा रेमडेसिविर इंजेक्शन की दर तय कर दी गई है। अब… Continue reading Corona Virus : ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना का कहर, पंचायत चुनाव के बाद बिगड़े हालात

Corona संकट के बीच बसपा मुखिया Mayawati का ट्वीट, राज्य सरकार से की ये मांग

लखनऊ | कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बहुजन समाज पार्टी (BSP) अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश (UP) की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती (Mayawati) ने राज्य सरकार (State government) से आज मांग की कि वह उन सरकारी कर्मियों के आश्रितों को नौकरी एवं आर्थिक मदद मुहैया कराए, जिनकी पंचायत चुनाव में तैनाती के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित (Corona virus infected) होने के कारण मौत हो गई। मायावती (Mayawati) ने उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार (BJP Government) पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते यदि उत्तर प्रदेश सरकार पंचायत चुनाव टाल देती, अर्थात उन्हें थोड़ा आगे बढ़ा देती, तो यह उचित होता और चुनाव ड्यूटी में लगे कई कर्मचारियों की मौत नहीं होती। इन कमियों की मौत होना अत्यंत दुःखद है। इसे भी पढ़ें – पिता को कोरोना से जूझते देख केट गारवे की बेटी ने उनसे पूछा ये सवाल मायावती (Mayawati) ने मांग की कि राज्य सरकार उन सरकारी कर्मियों के आश्रितों को नौकरी एवं आर्थिक मदद मुहैया कराए, जिनकी पंचायत चुनाव में तैनाती के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण मौत हो गई। उन्होंने कहा, ‘इसके साथ ही, अब कोरोना वायरस प्रकोप के गांव-देहात में भी काफी फैलने की आशंका है। ऐसी… Continue reading Corona संकट के बीच बसपा मुखिया Mayawati का ट्वीट, राज्य सरकार से की ये मांग

बंगाल में आठवें चरण में 76 फीसदी मतदान

चुनाव आयोग के प्रारंभिक आंकड़ों के मुताबिक शाम छह बजे तक 76.06 फीसदी मतदान हुआ। अंतिम आंकड़ों में इसमें बढ़ोतरी हो सकती है।

UP Panchayat Election : अंतिम चरण के लिए वोटिंग शुरू, 17 जिलों में हो रहा मतदान

लखनऊ | कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार के बीच यूपी (UP) में गांव की सरकार (Government) बनाने का जोश नजर आ रहा है। चौथे और अंतिम चरण का मतदान (Voting) आज सुबह सात बजे से शुरू हो गया है। 17 जिलों में शाम को छह बजे तक चलने वाले मतदान के लिए मतदाताओं के साथ पोलिंग पार्टियां व सुरक्षा कर्मी मुस्तैद हैं। प्रदेश में आज बुलंदशहर, हापुड़, संभल, शाहजहांपुर, अलीगढ़, मथुरा, फरुर्खाबाद, बांदा, कौशांबी, सीतापुर, अंबेडकरनगर, बहराइच, बस्ती, कुशीनगर, गाजीपुर, सोनभद्र और मऊ जिलों में मतदान शुरू हो गया है। चुनाव आयोग (Election Commission) से मिली जानकारी के अनुसार, इस फेज में कुल 19035 मतदान केंद्र और 48554 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। कुल 2 करोड़ 98 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग इस चरण में कर सकेंगे। इसे भी पढ़ें – Kerala: नीलांबुर से कांग्रेस उम्मीदवार वी. वी. प्रकाश का दिल का दौरा पड़ने से निधन चतुर्थ चरण के 17 जनपदों में 738 जिला पंचायत वार्ड के जिला पंचायत सदस्यों के लिए 10679 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। 18356 क्षेत्र पंचायत वार्ड के क्षेत्र पंचायत सदस्य के लिए 85408 उम्मीदवार मैदान में हैं। इसी तरह इन 17 जिलों में 14111 ग्राम पंचायत के प्रधान पद के लिए 114400… Continue reading UP Panchayat Election : अंतिम चरण के लिए वोटिंग शुरू, 17 जिलों में हो रहा मतदान

आयोग- यूपी सरकार को हाई कोर्ट की फटकार

लखनऊ। मद्रास हाई कोर्ट के बाद अब इलाहाबाद हाई कोर्ट ने चुनाव आयोग को फटकार लगाई है। राज्य में चल रहे पंचायत चुनावों में कोरोना दिशा-निर्देशों का पालन नहीं होने को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने राज्य चुनाव आयोग को नोटिस जारी किया है। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने भी मद्रास हाई कोर्ट की तर्ज पर कहा है कि क्यों नहीं चुनाव आयोग के खिलाफ आपराधिक मुकदमा चलाया जाए। हाई कोर्ट ने राज्य चुनाव आयोग को नोटिस जारी करके पूछा है कि पंचायत चुनाव के दौरान सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन क्यों नहीं किया गया, जिसकी वजह से चुनाव ड्यूटी कर रहे 135 लोगों की मौत की खबर है। अदालत ने पूछा कि क्यों न आयोग के खिलाफ आपराधिक केस चलाया जाए। हाई कोर्ट ने बचे हुए चुनाव में सरकारी दिशा-निर्देश का पालन करने का निर्देश भी दिया है। हाई कोर्ट ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण से निपटने के सरकारी तौर तरीकों पर भी नाराजगी जताई और कहा कि सरकार माई-वे या नो-वे का रास्ता छोड़े और लोगों के सुझावों पर भी अमल करे। नागरिकों को ऑक्सीजन न दे पाना शर्मनाक है। हाई कोर्ट ने तीखी टिप्पणी करते हुए कहा कि कोरोना का भूत गली, सड़क पर दिन-रात मार्च कर रहा… Continue reading आयोग- यूपी सरकार को हाई कोर्ट की फटकार

उत्तर प्रदेश : योगी सरकार ने कहा, कोर्ट के आदेश पर हो रहे Panchayat Election

लखनऊ | कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर राज्य में हो रहे पंचायत चुनाव (Panchayat Election) को लेकर उत्तर प्रदेश (UP) में योगी आदित्यनाथ की सरकार (Yogi Adityanath government) ने कहा है कि वह पंचायत चुनाव (Panchayat Election) कराने की इच्छा नहीं रखती है लेकिन इलाहाबाद उच्च न्यायालय (Allahabad High Court) के आदेश का पालन करते हुए ऐसा करना पड़ा, ताकि 10 मई तक चुनाव प्रक्रिया पूरी हो सके। एक सरकारी प्रवक्ता ने कहा, पिछले साल दिसंबर में चुनाव (Election) होने वाले थे। महामारी के कारण पंचायतों के पुनर्गठन और परिसीमन में देरी हुई। याचिकाओं और उच्च न्यायालय के बाद के फैसले ने राज्य सरकार को चुनाव कराने के लिए मजबूर किया। इसे भी पढ़ें – सुंदर पिचाई का एलान, Corona से लड़ने के लिए भारत को 135 करोड़ देगा गूगल प्रवक्ता ने कहा, उत्तर प्रदेश राज्य के खिलाफ विनोद उपाध्याय द्वारा दायर एक याचिका में, इलाहाबाद उच्च न्यायालय (Allahabad High Court) ने 4 फरवरी के अपने आदेश में राज्य निर्वाचन आयोग को 30 अप्रैल तक पंचायतों के लिए चुनाव प्रक्रिया को पूरा करने का निर्देश दिया। 15 मार्च तक आरक्षण और आवंटन की प्रक्रिया करने का निर्देश दिया। राज्य सरकार ने कहा कि राज्य चुनाव आयोग द्वारा जारी कोविड-19 प्रोटोकॉल को ध्यान… Continue reading उत्तर प्रदेश : योगी सरकार ने कहा, कोर्ट के आदेश पर हो रहे Panchayat Election

यूपी में पंचायत चुनाव के लिए आज वोटिंग

लखनऊ। कोरोना वायरस की भयावह महामारी के बीच उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के तीसरे चरण का मतदान सोमवार को होगा। त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों के तीसरे चरण में 20 जिलों की करीब 2.14 लाख सीटों पर 3.52 लाख से अधिक उम्मीदवारों की तकदीर का फैसला सोमवार को होगा। इस दौरान राज्य के 20 जिलों में 49,789 मतदान केंद्रों पर तीन करोड़ से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। राज्य चुनाव आयोग ने बताया है कि मतदान सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक होगा। तीसरे चरण में अमेठी, उन्नाव, औरैया, कानपुर देहात, कासगंज, चंदौली, जालौन, देवरिया, पीलीभीत, फतेहपुर, फिरोजाबाद, बलरामपुर, बलिया, बाराबंकी, मेरठ, मुरादाबाद, मिर्जापुर, शामली, सिद्धार्थनगर और हमीरपुर में मतदान होगा। राज्‍य चुनाव आयोग के आयुक्त मनोज कुमार ने सभी संबंधित जिलों के जिला चुनाव अधिकारियों सहित चुनाव प्रक्रिया से जुड़े सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है कि ऐसी बेहतर व्यवस्था कराई जाए कि किसी भी मतदान केंद्र पर दोबारा मतदान की स्थिति न बने। तीसरे चरण में जिला पंचायत सदस्य की 746 सीटों के लिए 10,627 उम्मीदवार, क्षेत्र पंचायत सदस्य की 18,530 सीटों के लिए 89,188 उम्मीदवार, ग्राम प्रधान की 14,379 सीटों के लिए 1,17,789 उम्मीदवार और ग्राम पंचायत वार्ड की  80,473 सीटों के लिए 1,34,510… Continue reading यूपी में पंचायत चुनाव के लिए आज वोटिंग

UP Panchayat Election: लखनऊ समेत 20 जिलों में आज दूसरे चरण का मतदान शुरू ,सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम

लखनऊ| उत्तर प्रदेश में बढ़ते कोरोना (Corona) मामलों के बीच पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के लिए दूसरे चरण का मतदान (voting) आज सुबह सात बजे से शुरू हो गया है। सुरक्षा व्यवस्था (Security System) के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इस दौरान पीएसी के 57 कंपनी और केंद्रीय अर्ध सैनिक बलों की 10 कंपनियों की तैनाती की गई है। लखनऊ, (Lucknow) सुल्तानपुर, गोंडा, मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतमबुद्धनगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा, ललितपुर, चित्रकूट, प्रतापगढ़, लखीमपुर खीरी, महराजगंज, वाराणसी और आजमगढ़ में आज वोटिंग हो रही है। इसे भी पढ़ें –राजस्थान में कर्फ्यू भी नहीं रोक पा रहा कोरोना ब्लास्ट, 10 हजार पार गए नए मामले, मौतों ने भी बनाया रिकॉर्ड इस चरण के मतदान (voting) में 3,54,999 उम्मीदवारों के भाग्य का निर्णय करीब 3.2 करोड़ मतदाता (voting) करेंगे। इस दौरान प्रदेश में 2,23,118 पदों के लिए वोटिंग हो रही है। उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के लिए वोट डालने के लिए लोगों की कतार लग रही। वाराणसी के कोइराजपुर प्राइमरी स्कूल के मतदान केंद्र पर सुबह से ही मतदाताओं की लाइन लगी है। एटा के सकीट ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय अंगदपुर में वोटिंग के लिए मतदाताओं में खासा उत्साह देखा जा रहा है। पोलिंग बूथों पर… Continue reading UP Panchayat Election: लखनऊ समेत 20 जिलों में आज दूसरे चरण का मतदान शुरू ,सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम

Uttar Pradesh: पंचायत चुनाव के उम्मीदवार राकेश बाबू की चाकू मारकर हत्या

मैनपुरी| उत्तर प्रदेश के मैनपुरी (Mainpuri) में 19 अप्रैल को होने वाले पंचायत चुनाव (Panchayat Election) से पहले 60 वर्षीय एक ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (BDC) के उम्मीदवार राकेश बाबू (Rakesh Babu( की कथित तौर पर चाकू मारकर हत्या कर दी गई है। गुरुवार को उनका शव खेत में पड़ा मिला। मृतक के रिश्तेदार के अनुसार, वह बुधवार को चुनाव प्रचार (Election Campaign) के लिए गए हुए थे, लेकिन वापस नहीं आए और गुरुवार को उनका शव खेत में पड़ा मिला। पुलिस अधीक्षक (एसपी) अविनाश पांडे ने कहा कि सबूत जुटाने के लिए फोरेंसिक और डॉग स्क्वॉड की टीमों ने अपराध स्थल का दौरा किया है। प्रारंभिक जांच में पता चला कि उसी जगह उनकी हत्या हुई है, जहां उनका शव मिला था। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इसे भी पढ़ें – Ramadan 2021 : कोरोना के साये के बीच रमजान का पहला जुमा, घरों पर ही इबादत की अपील  

Uttar Pradesh: कोरोना के बीच Panchayat Election के लिए आज मतदान शुरू

लखनऊ| यूपी में कोरोना (Corona) की दूसरी लहर उफान पर है। इसी के बीच गांव में सरकार (Government) बनाने के लिए मतदान सुबह सात बजे से शुरू हो गया है। सुबह से ही मतदान केंद्रों पर भीड़ उमड़ने लगी है। सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करते हुए लोग अपने मताधिकार का प्रयोग करते देखे गए। कोरोना संक्रमित लोगों को पीपीई किट पहनकर वोट डालने की अनुमति दी गई है। 18 जिलों में जिला पंचायत सदस्य के 779, क्षेत्र पंचायत के 19,313 व ग्राम प्रधान के 14,789 पदों के चयन के लिए लोग सुबह सात बजे से ही मतदान केंद्र पहुंच रहे हैं। 51176 मतदान केंद्रों पर 3,16,46,162 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। चुनाव में 2,99,012 उम्मीदवारों का भाग्य मतपेटियों में बंद होगा। इसे भी पढ़ें – Corona Blast In Rajasthan! मौतों के आंकड़ों ने बनाया रिकाॅर्ड, 6,200 नए पॉजिटिव मामलों ने बढ़ाई सरकार की चिंता राज्य निर्वाचन आयोग ने मतदान (Voting) के दौरान सुरक्षा और कोविड-19 प्रोटोकॉल के पालन का दावा किया है। 18 जिला पंचायतों के 779 वार्डो में 11,749, क्षेत्र पंचायत के 19313 वार्डो में 71,418 उम्मीवादर चुनाव लड़ रहे हैं। 14,789 ग्राम पंचायतों में प्रधान पद के लिए 108562 और ग्राम पंचायतों के 186583 वार्डो में… Continue reading Uttar Pradesh: कोरोना के बीच Panchayat Election के लिए आज मतदान शुरू

Panchayat Election 2021: यूपी में हो रहा कमाल, आपसी रजामंदी से चुने जा रहे ग्राम प्रधान

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में हर गांव में आज कल माहौल बदला हुआ है। एक तरफ जहां हर गांव में मुख्यमंत्री के निर्देश पर कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए विशेष स्वच्छता (सफाई-सेनिटाइजेशन) अभियान चलाया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण (Corona Transition) से बचाव के निर्देशों का पालन करते हुए प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों (Rural Areas) में पंचायत चुनावों (Panchayat Election) को लेकर जोरशोर से चुनाव प्रचार भी किया जा रहा है।  गांवों के ऐसे माहौल में पंचायत चुनावों के पहले चरण में सूबे के 18 जिलों में 15 अप्रैल को मतदान होना है। इस मतदान को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए प्रदेश पुलिस ने पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए हुए हैं। सरकार और पुलिस के सुरक्षा प्रबंधो के चलते सूबे में पंचायत चुनावों का परिदृश्य भी बदला है। जिसके चलते अब बड़ी संख्या में ग्राम प्रधान, जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, और ग्राम पंचायत सदस्यों का ग्रामीण निर्विरोध चुनाव कर रहे हैं। ग्रामीण लोकतंत्र और आपसी भाई-चारे को मजबूत करने की यह नई पहल है। इसे भी पढ़ें – Corona Blast in India : 24 घंटे में 1.85 लाख से ज्यादा नए केस, 1000 पार पहुंचा मौत का आंकड़ा सूबे के राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने… Continue reading Panchayat Election 2021: यूपी में हो रहा कमाल, आपसी रजामंदी से चुने जा रहे ग्राम प्रधान

UP Panchayat Election: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरित होकर यह महिला लड़ रही पंचायत चुनाव

मुजफ्फरनगर| मुजफ्फरनगर में आयोजित होने वाले पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में 35 वर्षीय मीनाक्षी (Meenakshi) ग्राम प्रधान पद की उम्मीदवार हैं। मेरठ विश्वविद्यालय से स्नातक मीनाक्षी के पति ज्ञान सिंह एक स्थानीय मजदूर हैं। मीनाक्षी अपने गांव चोरावाला से चुनाव (Election) लड़ने की तैयारियों में जुटी हुई हैं, जहां करीब 7,000 मतदाताओं में अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट भी है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजना (National Rural Livelihood Mission Scheme) के तहत मीनाक्षी के लिए एक चाय के दुकान की व्यवस्था कर दी गई। पिछले तीन सालों से वह चाय बेचकर अपने परिवार की आजीविका चलाती हैं। मीनाक्षी कहती हैं, मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के सफर से प्रेरित हूं। अगर चाय बेचने के बाद वह प्रधानमंत्री बन सकते हैं, तो मैं एक चायवाली होकर ग्राम प्रधान (Village Head) क्यों नहीं बन सकती हूं? इसे भी पढ़ें – देशभर में कोरोना हो रहा बेकाबू! एक ही दिन में 1 लाख 70 हजार के करीब नए मामले आए सामने वह एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुनाव (Election) लड़ रही हैं। मीनाक्षी का कहना है कि उन्हें किसी भी राजनीतिक दल का समर्थन प्राप्त नहीं है, लेकिन उनके पास गांव के लोगों का पूरा साथ है। उनके पति ज्ञान सिंह… Continue reading UP Panchayat Election: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरित होकर यह महिला लड़ रही पंचायत चुनाव

Panchayat Election: कुलदीप सेंगर की पत्नी Sangeeta Sanger को भाजपा ने दिया टिकट, सपा ने साधा निशाना

Kuldeep Singh Sanger उन्नाव की बांगरमऊ से BJP के टिकट पर विधायक रह चुके हैं। साल 2017 में उन्नाव के चर्चित…

UP Panchayat Election: आजादी के 70 साल बाद 23 गांव को मिला वोटिंग अधिकार, पहली बार करेंगे मतदान

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के 23 वनटांगिया (Tribal community) गांवों के निवासी प्रदेश के मौजूदा Panchayat Election में पहली बार voting करेंगे। इनमें से 5 गांव गोरखपुर के और महराजगंज जिले के 18 गांव हैं। इन 23 वनटांगिया गांवों को Yogi Adityanath government ने 1 जनवरी 2018 को “राजस्व गांव” घोषित किया था। Vantangiya Tribal Community का CM Yogi Adityanath के दिल में एक विशेष स्थान है, जो इस क्षेत्र में ‘टॉफी वाले बाबा’ के नाम से प्रसिद्ध हैं। मुख्यमंत्री पिछले कई सालों से वनटांगिया बच्चों के साथ दिवाली मना रहे हैं। इसे भी पढ़ें – West Bengal Assembly Election: बंगाल में भाजपा की लहर, तृणमूल कांग्रेस का सत्ता से बेदखल होना तय : मोदी वनटांगिया लोग पिछले साल 25 दिसंबर को तब सुर्खियों में आए, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुबंध खेती का उदाहरण स्थापित करने के लिए एक एफपीओ ‘महाराजगंज सब्जी उत्पादक कंपनी’ के निदेशक राम गुलाब के साथ आभासी बातचीत की। महाराजगंज के वनटांगिया गांवों के किसानों ने गोल्डेन स्वीट टोमैटो (टमाटर) की खरीद के लिए अहमदाबाद की एक कंपनी के साथ करार किया था। डीडीयू गोरखपुर विश्वविद्यालय के एक रिसर्च स्कॉलर (शोध शिक्षाविद) संदीप राय ने कहा, “लगभग 99 वर्ष पहले ब्रिटिश सरकार ने जंगलों की सफाई के… Continue reading UP Panchayat Election: आजादी के 70 साल बाद 23 गांव को मिला वोटिंग अधिकार, पहली बार करेंगे मतदान

और लोड करें