kishori-yojna
AAP विधायक राघव चड्ढा ने सिद्धू को बताया पंजाब का  Rakhi Sawant, जवाब में कहा- “चड्ढा का चड्ढा उतार दूंगी” … (Watch Video)

AAP विधायक राघव चड्ढा ने नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब का राखी सावंत बता दिया था. उन्होंने नवजोत सिंह सिद्धू के अरविंद केजरीवाल पर किए गए एक बयान पर..

क्या सिद्धु का फैसला कायाकल्प वाला?

पंजाब और राजस्थान दोनों जगह मुख्यमंत्री अपने आपको पार्टी समझने का मुगालता पालने लगे थे। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की शराफत को वे उनकी कमजोरी समझ रहे थे। इसमें कोई दो राय नहीं है कि सोनिया धीमे फैसला लेती हैं। मगर ये समझना की वे फैसला ले ही नहीं सकतीं कुछ नेताओं को अब भारी पड़ने वाला है।

आलाकमान का आदेश मानेंगे कैप्टेन

amarinder singh sonia gandhi : नई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस में चल रही खींचतान और नवजोत सिंह सिद्धू के साथ चल रहे विवाद के बीच राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। सोनिया से मिलने के बाद कैप्टेन ने कहा कि वे पार्टी आलाकमान के हर निर्देश को मानने के लिए तैयार हैं। माना जा रहा है कि जल्दी ही पार्टी आलाकमान की ओर से पंजाब में सुलह का कोई फॉर्मूला जारी किया जाएगा। बहरहाल, मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष से कैप्टेन अमरिंदर सिंह की मुलाकात से पहले पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोनिया गांधी से मुलाकात की थी। ध्यान रहे प्रियंका गांधी वाड्रा पंजाब के मामले में खासी दिलचस्पी ले रही हैं और पिछले हफ्ते वे नवजोत सिद्धू से मिली थीं। कहा जा रहा है कि प्रियंका के जोर देने पर ही राहुल गांधी ने भी सिद्धू से मुलाकात की थी। मोदी की नई कैबिनेट के 90 प्रतिशत मंत्री करोड़पति हैं, 42% पर आपराधिक मामले : ADR की रिपोर्ट Joe Biden ने लॉस एंजिल्स के मेयर Eric Garcetti को बनाया भारत में अमेरिका का नया राजदूत गौरतलब है कि पंजाब में अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच… Continue reading आलाकमान का आदेश मानेंगे कैप्टेन

सोनिया से आज मिलेंगे कैप्टेन

sonia gandhi and captain : नई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस में चल रही कलह को खत्म करने के लिए कांग्रेस आलाकमान की ओर से सोमवार को निर्णायक फैसला हो सकता है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह सोमवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने वाले हैं। माना जा रहा है कि इसमें पंजाब कांग्रेस की कलह और खास कर नवजोत सिंह सिद्धू के साथ चल रहे कैप्टेन के विवाद को सुलझाने के लिए कोई बड़ा फैसला किया जा सकता है। मोदी की नई कैबिनेट के 90 प्रतिशत मंत्री करोड़पति हैं, 42% पर आपराधिक मामले : ADR की रिपोर्ट अमरिंदर सिंह और उनकी सरकार में मंत्री रहे पार्टी के विधायक नवजोत सिंह सिद्धू के बीच विवाद को खत्म करने की दिशा में कई बैठकें हो चुकी हैं। सोनिया गांधी की बनाई तीन सदस्यों की कमेटी ने भी दोनों से मुलाकात की थी और अपनी रिपोर्ट सोनिया को सौंप दी है। इसके बाद पिछले दिनों नवजोत सिंह सिद्धू ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात की। Joe Biden ने लॉस एंजिल्स के मेयर Eric Garcetti को बनाया भारत में अमेरिका का नया राजदूत sonia gandhi and captain : बताया जा रहा है कि पंजाब कांग्रेस में चल रही… Continue reading सोनिया से आज मिलेंगे कैप्टेन

केंद्रीय नेतृत्व की हैसियत बता रहे हैं कैप्टेन

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू को उनकी हैसियत दिखाई है। राज्य के प्रभारी महासचिव हरीश रावत के तमाम प्रयास के बावजूद अमरिंदर सिंह ने सिद्धू का पुनर्वास नहीं होने दिया है। वे सिद्धू को न तो उप मुख्यमंत्री बना कर राजी हैं और न प्रदेश अध्यक्ष बनाना चाहते हैं। ऊपर से सिद्धू के सोशल मीडिया पोस्ट्स को आधार बना कर उन पर अनुशासन की कार्रवाई की अलग तैयारी की हुई है। उन्होंने सिद्धू को यह भी कह दिया कि उनको अपनी लोकप्रियता पर इतना गुमान है तो पटियाल में उनके खिलाफ चुनाव लड़ लें। अब सिद्धू की तरफ से यह कहा जाना बाकी है कि कैप्टेन ही आकर उनके खिलाफ अमृतसर से चुनाव लड़ लें। बहरहाल, कैप्टेन ने सिद्धू के बहाने पार्टी आलाकमान को हैसियत बताई है। वे परिवार के बहुत करीबी हैं और राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने की सबसे ज्यादा पैरवी वे करते हैं। पर बदले में वे चाहते हैं कि पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व उनके कामकाज में कोई दखल न दे। वे जिसे चाहें उसे अध्यक्ष बनाया जाए और जिसे चाहें उसे मंत्री बनाया जाए। उनकी पसंद का प्रभारी भी होना चाहिए। ऐसा वे इसलिए कर रहे… Continue reading केंद्रीय नेतृत्व की हैसियत बता रहे हैं कैप्टेन

राजस्थान में भाजपा कर रही है लोकतंत्र की हत्या : जाखड़

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनिल जाखड़ ने आज आरोेप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार सत्ता के लालच में अपनी विरोधी पार्टियों की राज्य सरकारों को धनबल से अस्थिर कर लोकतंत्र की हत्या कर रही है।

और लोड करें