kishori-yojna
भारत-पुर्तगाल में सात समझौते

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पुर्तगाल के राष्ट्रपति मार्सेलो रेबेलो डी सूसा ने शुक्रवार को द्विपक्षीय संबंधों के विविध आयामों पर व्यापक चर्चा की और दोनों देशों ने कारोबार, परिवहन, संस्कृति, निवेश, बौद्धिक संपदा सहित कई क्षेत्रों से जुड़े सात समझौते किये। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया,  हमारा गठजोड़ अधिक मजबूती हासिल कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पुर्तगाल के राष्ट्रपति रेबेलो डी सूसा ने भारत-पुर्तगाल संबंध के व्यापक आयामों पर चर्चा की जिसमें विभिन्न क्षेत्रों में एक-दूसरे की ताकत से फायदा उठाना शामिल है। दोनों नेताओं की वार्ता के बाद दोनों पक्षों ने निवेश, कारोबार, परिवहन, पोत, संस्कृति, औद्योगिक एवं बौद्धिक संपदा जैसे क्षेत्रों में सहयोग से जुड़े समझौते किये। गौरतलब है कि पुर्तगाल दक्षिणी यूरोप में भारत के लिये एक महत्वपूर्ण देश है और पिछले 15 वर्षो में द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति हुई है। अक्तूबर 2005 में पुर्तगाल ने अबू सलेम और मोनिका बेदी का प्रत्यर्पण किया था जिनपर आतंक से जुड़े आरोप थे। भारत और पुर्तगाल ने गुजरात के लोथल में राष्ट्रीय नौवहन धरोहर संग्रहालय स्थापित करने के लिये पुर्तगाल के रक्षा मंत्रालय और भारत के पोत परिवहन मंत्रालय के बीच एक समझौता ज्ञापन किया। इसके अलावा दोनों देशों के बीच औद्योगिक… Continue reading भारत-पुर्तगाल में सात समझौते

और लोड करें