kishori-yojna
प्रणव मुखर्जीः कांग्रेस में संघ के गाइड?

समय हो या इतिहास कभी कभी इतनी जल्दी न्याय कर देता है कि लोगों को और भ्रम फैलाने का मौका ही नहीं मिल पाता! इस बार समय ने जवाब दिया संघ प्रमुख मोहन भागवत जी के जरिए।

प्रणब दा पंचतत्व में विलीन

पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न प्रणब मुखर्जी का आज दोपहर पूरे राजकीय सम्मान के साथ लोधी रोड श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया।

प्रणब मुखर्जी का निधन!

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का दिल्ली में देहांत हो गया। प्रणब मुखर्जी का आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में इलाज चल रहा था। प्रणव मुखर्जी 84 साल के थे। प्रणब मुखर्जी

प्रणब मुखर्जी की स्थिति और बिगड़ी: अस्पताल

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का स्वास्थ्य सोमवार को और खराब हो गया क्योंकि फेफड़े में संक्रमण की वजह से उन्हें सेप्टिक शॉक लगा है ।

प्रणब मुखर्जी गहरे कोमा में, वेंटिलेटर सपोर्ट जारी

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी गहरे कोमा में चले गए हैं। वह लगातार वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं। आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल (आर एंड आर) ने जारी मेडिकल बुलेटिन में

प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में थोड़ा सुधार

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में हल्का सुधार हो रहा है। आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल ने आज यह जानकारी दी।

प्रणब मुखर्जी की हालत स्थिर : अस्पताल

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत में आज कोई परिवर्तन नहीं हुआ और अब भी वह वेंटिलेटर पर हैं। मुखर्जी का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने यह जानकारी दी।

प्रणब मुखर्जी वेंटिलेटर सपोर्ट पर, हालत गंभीर

आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल ने आज कहा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ब्रेन सर्जरी के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट हैं और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

प्रणब मुखर्जी कोरोना संक्रमित हुए

कई केंद्रीय मंत्रियों, कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों और अधिकारियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबरों के बीच अब पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं।

प्रणब मुखर्जी के सुर क्यों बदले हैं

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के सुर बदले हैं। राष्ट्रपति रहते और पद से हटने के बाद भी वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों का समर्थन करते रहे हैं। मोदी के प्रति उनका सद्भाव समय समय पर जाहिर होता रहा है। मोदी भी उनके प्रति खुल कर सम्मान दिखाते रहते हैं।

और लोड करें