प्रशांत किशोर राजनीति के टेंट!

मेरा मानना है कि इस देश में कुछ लोगों का व्यक्तित्व इंसान की तरह नहीं बल्कि टेंट की तरह होता है। उन्हें वे कहीं भी कभी भी ,किसी भी आयोजन में इस्तेमालकर लिया जाता है। वे शादी से लेकर मरने के बाद चौथे तक के कार् में टेंट की तरह सीना तान कर खड़े हो… Continue reading प्रशांत किशोर राजनीति के टेंट!