kishori-yojna
पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने दीदी का दामन थामते ही कहा- दो लोगों का नहीं है देश

Kolkata :  भाजपा के पूर्व दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री  यशवंत सिन्हा (Former Union Minister and former BJP leader Yashwant Sinha) ने आज तृणमूल कांग्रेस (TMC) का दामन थाम लिया. यशवंत सिन्हा  ने कोलकाता में टीएमसी का झंडा पकड़ते ही भाजपा पर कड़ा हमला किया. यहां बते दें कि कि यशवंत काफी दिनों से भाजपा के शीर्ष नेतृत्व  से नाराज चल रहे थे इसके साथ की मौके पर भाजपा (BJP) की आलोचना भी कर चुके हैं. टीएमसी में शामिल होने के बाद यशवंत सिन्हा ने कहा कि लोकतंत्र (DEMOCRACY) की ताकत लोकतंत्र की संस्थाएं होती हैं. लेकिन आज की केंद्र में बैठी सरकार ने लगभग हर संस्था को  कमजोर कर दिया है, यहां तक की उन्होंने देश की  न्यायपालिका को भी नहीं छोड़ा है. इससे हमारे देश के लिए ये सबसे बड़ा खतरा बन गया है. उन्होंने सीधे तौर पर मोदी और शाह की जोड़ी पर हमला करते हुए कहा कि  एक समय था जब  अटल और आडवाणी हमेशा जनभावना का सम्मान करते थे साथ ही उस समय की  ये पार्टी सर्वसम्मति पर विश्वास करती थी. लेकिन आज की सरकार जनता की भावनाओं को  कुचलने का प्रयास करती है. इसके साथ ही चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद… Continue reading पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने दीदी का दामन थामते ही कहा- दो लोगों का नहीं है देश

घायल बाघिन होती है ज्यादा ‘आक्रामक और हिंसक’- शिवसेना

Kolkata: बंगाल चुनाव (Bengal elections) ने पूरे देश की राजनीतिक पार्टियों (political parties ) को सक्रिय कर दिया है. शायद ही कोई ऐसी पार्टी होगी जो बंगाल की मौजूदा राजनीतिक परिस्थितयों पर टिप्पणी कर सुर्खियां बटोरने से बचना चाहेगा. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सत्ता की बागडोर संभालने वाली शिवसेना भी अब खुलकर ममता के साथ खड़ी हो गयी है. शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ (Samana Editorial) में ममता बनर्जी (Mamta Banerjee)को बंगाल की बाघिन बताया है . इसके साथ ही लिखा है कि घायल बाघिन और भी ज्यादा आक्रामक और हिंसक हो जाती है. शिवसेना का कहना है कि एक ओर तो ममता के पैर में चोट आयी है और प्लास्टर भी चढ़ा है. दूसरी ओर भाजपा के नेता प्लास्टर की सीबीआई जांच करवाने को कह रहे हैं. राजनीति के लिए इससे बूरा और क्या हो सकता है. इसके बाद शिवसेना ने तंज कसते हुए लिखा है कि ममता के पैर का प्लास्टर निश्चय ही भाजपा को दस से बीस सीटों पर घायल कर देगा. भाजपा कर रही है हर संभव प्रयास ‘सामना’ में कहा गया है कि भाजपा ने पश्चिम बंगाल के चुनाव में अपनी पूरी ताकत लगा दी है. घायल होने के बाद भी भाजपा को ममता बनर्जी से… Continue reading घायल बाघिन होती है ज्यादा ‘आक्रामक और हिंसक’- शिवसेना

पॉलिटिक्स एट द पिक :  थिएटर आर्टिस्ट  के भाजपा जॉइन  करने पर किया नाटक से बाहर

Kolkata: पश्चिम बंगाल में चुनाव (Bengal Elections) का असर अब आम लोगों पर भी पड़ने लगा है. टीएमसी (TMC) और भाजपा (BJP) के टकराव से आम लोग भी प्रभावित हो रहे हैं. यह मामला कौशिक कार नाम के एक थिएटर आर्टिस्ट का है. जिसे प्ले से इसलिए हटा दिया गया क्यों कि उसने  बीजेपी जॉइन कर ली थी. इस घटना के बाद से बंगाल के सांस्कृतिक कलाकार भी दो हिस्सों में बंटटे हुए नजर आ रहे हैं. सोशल मीडिया (SOCIAL MEDIA) में भी इस बात को लेकर गहमागहमी बढ़ गयी है. हालांकि इस घटना के बाद से कुछ वरिष्ठ कलाकारों ने मोर्चा संभाला है. उनका कहना है कि कलाकर सिर्फ कलाकार होता है उसे राजनीति का चश्मा पहनाकर नहीं देखा जाना चाहिए.  कलाकार की भी एक निजी जिंदगी होती है जिसमें वो अपनी इच्छा से कुछ भी कर सकता है. इसे कलाकार की क्षमता से के साथ जोड़ कर नहीं देखा जाना चाहिए. क्या कहना प्ले का मंचन करने वाले सौरव का प्ले का मंचन करने वाले सौरव पलोधी (SOURAV PALODHI) का कहना है कि नाटक का वर्तमान राजनीतिक जुड़ाव (POLITICAL CONNECTION)  ही उन्हें हटाये जाने कारण है. उन्होंने कहा कि  2019 में पलोधी ग्रुप ने उन्हें कैरेक्टर प्ले करने… Continue reading पॉलिटिक्स एट द पिक :  थिएटर आर्टिस्ट  के भाजपा जॉइन  करने पर किया नाटक से बाहर

बंगाल चुनाव : दोस्तों का बीच भी होगा मुकाबला, एक भाजपा की ओर से डालेगा यॉर्कर तो दूसरा टीएमसी के लिए जड़ेगा सिक्सर

Kolkata: देश में बंगाल चुनाव (Bengal elections) को लेकर चर्चाओं का बाजार (market of discussions) गर्म है. ऐसे में बंगाल से भी चुनाव के पास आने के साथ ही रोज नया बवाल (new uproar) सामने आ रहा है. कल ही ममता बनर्जी पर हुए हमले के बाद से बंगाल में चुनावी रण के और भी ज्यादा गंभीर होने के कयास लगाए जा रहे हैं . इन सबके बीच भारत के ओर से खेल चुके दो क्रिकेटर भी बंगाल चुनाव में अपनी पार्टियों को सपोर्ट करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. बता दें कि ये दोनों ही क्रिकेटर मैदान पर काफी अच्छे दोस्त माने जाते रहे हैं. बंगाल चुनाव ने इन्हें भी एक दूसरे का विरोधी बना दिया है. ऐसे में ये देखना भी दिलचस्प होगी कि आने वाले समय में क्या इन दोनों के बीच खेल भावना जैसी ही प्रतिस्पर्धा देखने को मिलेगी या फिर ये भी चुनावी रंग (electoral colors) में एक दूसरे के खिलाफ विरोधी स्वर लगाएंगे . दोस्ती पर नहीं पड़ेगा असर – मनोज तिवारी भारतीय टीम के लिए खेल चुके मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) ने हाल में ही टीएमसी का हाथ थाम लिया. मनोज तिवारी के उनके साथी खिलाड़ी अशोक डिंडा (Ashok Dinda) के… Continue reading बंगाल चुनाव : दोस्तों का बीच भी होगा मुकाबला, एक भाजपा की ओर से डालेगा यॉर्कर तो दूसरा टीएमसी के लिए जड़ेगा सिक्सर

बंगाल चुनाव :  मुस्लिम वोटर थामेंगे ममता का हाथ या फिर मिलेगा ओवैसी को साथ

Kolkata: बंगाल चुनाव( Bangal Election) के करीब आने के साथ ही ये और भी ज्यादा दिलचस्प होता जा रहा है. बंगाल में सीधे तौर पर मुकाबला भाजपा (BJP) और टीएमसी ( TMC) के बीच देखा जा रहा है. लेकिन बिहार चुनाव में सबको चौंकाने वाले ओवैसी को कम आंकने की गलती किसी को भी नहीं करनी चाहिए. हालांकि ओवैसी( OWAISI) का डर बंगाल में भाजपा को नहीं है. इसके पीछे कारण भी जगजाहिर है क्योंकि बंगाल में ओवैसी भाजपा को कुछ खास नुकसान नहीं पहुंचा सकेंगे. बल्कि अप्रत्यक्ष रूप से ओवैसी के मैदान में आने से भाजपा को ही फायदा होने वाला है. इसके पीछे का कारण है कि ओवैसी कहीं ना कहीं ममता बनर्जी के लिए परेशानी का सबक बन सकते हैं. ऐसे में बंगाल में रहने वाले मुस्लिमों के वोट पर बहुत कुछ फर्क पड़ने वाला है.  साथ ही ये कहना भी गलत नहीं होगा कि अगर औवैसी ममता बैनर्जी(Mamata Banerjee) के वोट बैंक में सेंधमारी करने में कामयाब हो जाते हैं तो भाजपा को बहुत हद तक अप्रत्याशित(Unexpected) बढ़त मिल सकती है. इसे भी पढ़ें- इंडियन यूथ कांग्रेस ने प्रस्ताव पारित कर कहा,  राहुल गांधी में कांग्रेस ही नहीं देश का प्रतिनिधित्व करने की क्षमता 27 से 30… Continue reading बंगाल चुनाव :  मुस्लिम वोटर थामेंगे ममता का हाथ या फिर मिलेगा ओवैसी को साथ

बंगाल पर ही फोकस रहेगा मोदी का

औसतन हर चरण में 36-37 सीटों पर विधानसभा का चुनाव होना है। अगर हर चरण में प्रधानमंत्री की दो या उससे ज्यादा सभाएं होती हैं तो इसका मतलब है कि उनकी एक सभा से करीब 20 सीटें कवर की जाएंगी।

तेजस्वी ने दिया ममता को समर्थन

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और बिहार विधानसभा में नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने सोमवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी से मुलाकात की

तृणमूल में अभिषेक व प्रशांत से नाराजगी

भारतीय जनता पार्टी प्रचार कर रही है कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस में हो रही टूट-फूट और उसके नेताओं के इधऱ-उधऱ भागने का कारण यह है कि राज्य में हवा बदल रही है

कांग्रेस और लेफ्ट में एक राय नहीं

पश्चिम बंगाल की रणनीति को लेकर कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों के बीच एक राय नहीं है। जानकार सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस की प्राथमिकता किसी तरह से भाजपा को रोकने की है तो लेफ्ट पार्टियों की प्राथमिकता किसी तरह से ममता बनर्जी को हराने की है।

एक अदद चेहरे की तलाश में भाजपा

भारतीय जनता पार्टी को पश्चिम बंगाल में एक अदद चेहरे की तलाश है, जिस पर दांव लगा कर पार्टी चुनाव मैदान में उतर सके।

चुनाव से पहले बंगाल में माइंडगेम

चुनावी राजनीति दूसरे किसी भी खेल की तरह माइंडगेम है, इस बात को अमित शाह से बेहतर शायद ही कोई राजनेता जानता होगा और खेलता होगा

लोकसभा की जीत दोहराने की चुनौती

नए साल का पहला महीना बीत गया। पहले महीने से पूरे साल का जो संकेत है वह ये है कि साल के पहले छह महीने राजनीति में जाने हैं। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, जिनकी घोषणा मार्च में किसी समय होगी।

तृणमूल कांग्रेस में भगदड़ रोकने की कोशिश

पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस में गजब की भगदड़ मची है। एक महीने पहले ही पार्टी के एक सांसद सुनील मंडल ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा ज्वाइन की थी।

ट्रंप के नाम की राजनीति

भारत में किसी भी चीज पर राजनीति होती है। इसलिए यह हैरानी की बात नहीं है कि अब ट्रंप के नाम पर राजनीति हो रही है

बंगाल के किसानों के खाते में जाएगी मोटी रकम

किसान सम्मान निधि का मुद्दा पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में बड़ा मुद्दा बन सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले कई भाषणों में यह मुद्दा उठाया

और लोड करें