• डाउनलोड ऐप
Thursday, May 13, 2021
No menu items!
spot_img

मजदूर

Corona in MP : मजदूरों की घर वापसी से कोरोना बढ़ने का खतरा, गांवों में बनाए जा रहे Quarantine Center

भोपाल | कोरोना संक्रमण (Corona infection) को रोकने के मकसद से कई इलाकों में किए गए लॉकडाउन के कारण मजदूर (Laborer) बड़ी संख्या में घरों को वापस लौट रहे हैं। भारी संख्या में घरों को लौटते मजदूरों (Laborers) के...

Corona : महामारी और रोजी रोटी की जंग में हारा प्रवासी मजदूर, घर वापसी करने पर मजबूर

नई दिल्ली| देश में बढ़ती कोरोना महामारी (Corona Epidemic) को लेकर मजदूर लोगों की हालत ख़राब होती जा रही है और कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ोतरी जारी है लोग बेवस, हताश हो कर अपने घरों के लिए निकल...

Bollywood Actor सोनू सूद ने फिर दिखाया बड़ा दिल, जरूरतमंद लोगों को दिलाएंगे नौकरी

मुंबई। बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर एक फिर गरीबों की मदद करने के लिए आगे आए बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood) ने जरूरतमंदों के लिए एक नई मुहिम शुरू की है, जिसके तहत वह गरीबों को रोजगार (Employment)...

Bihar: कोरोना के बढ़ते मामलों साथ दिहाड़ी मजदूरों की बढ़ी परेशानी, जानें मजदूरों की बातें

पटना। बिहार में Corona मरीजों की बढ़ती संख्या अब लोगों को डराने लगी है। लोग तमाम आशंकाओं के बीच अपने कार्य तो कर रहे हैं, लेकिन वे अनजाने भय से सहमे हुए हैं। और Corona के मामले भी प्रतिदिन...

बिहार के किसान मजदूर बन गए : तेजस्वी

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने आज कहा कि बिहार के किसान पंजाब, हरियाणा जाकर मजदूर बन गए।

संप्रग की सरकार बनी तो बिहार के युवाओं को मिलेगा रोजगार : राहुल

बिहार में नवादा के हिसुआ में चुनावी रैली को संबोधित करने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी शुक्रवार को भागलपुर के कहलगांव पहुंचे और केंद्र सरकार पर सियासी हमला बोलते हुए महागठबंधन के प्रत्याशियों के लिए वोट मांगे।

भारत के हाल का आईना

कोरोना महामारी और लॉकडाउन की आम जिंदगी पर कैसी मार पड़ी है, इसे अगर देखना हो तो गुजरात के शहर सूरत पर गौर करनी चाहिए। वहां के हाल पर हाल में आई रिपोर्टों ने मार्मिक तस्वीर पेश की है।

मजदूरों का कोई देश नहीं!

मजदूरों के शोषण की किसी खबर को पढ़ते वक्त अगर यह भुला दिया जाए कि वो खबर कहां की है, तो फिर उसे कहीं का भी समझा जा सकता है। कहने का मतलब यह कि मजदूर चाहे जहां भी हों, उनकी कहानी एक जैसी है।

महामारी के मारे मजदूर

लॉकडाउन में ढील के बावजूद शहरों में कारोबार अभी सामान्य नहीं हुआ है। इसके बावजूद यहां से वापस गए प्रवासी मजदूर यहां लौटने को मजबूर हो रहे हैं। दरअसल, गांवों में सीमित विकल्पों के कारण उन्हें वापस शहर की ओर लौटना पड़ रहा है।

20 हजार मजदूरों के लिए घर का इंतजाम करेंगे सोनू सूद

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद 20 हजार मजदूरों के लिये घर का इंतजाम करने जा रहे हैं। सोनू सूद कोरोना संकट के दौरान प्रवासी मजदूरों के मसीहा बनकर सामने आए हैं।
- Advertisement -spot_img

Latest News

सुशील मोदी की मंत्री बनने की बेचैनी

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी को जब इस बार राज्य सरकार में जगह नहीं मिली और पार्टी...
- Advertisement -spot_img