जेटली, सुषमा और पर्रिकर का सम्मान

नरेंद्र मोदी अपने पुराने साथियों और उनकी पहली सरकार में मंत्री रहे नेताओं को मरणोपरांत सम्मानित कर रहे हैं। दूसरी पार्टियों में भी ऐसा होता है पर आमतौर पर यह चलन रहा है कि जिस नेता के बेटे-पोते राजनीति में सक्रिय होते हैं वे ही अपने पिता या दादा की याद में कोई सड़क, इमारत या किसी संस्थान का नाम रखवाते हैं।