Rajasthan : कांग्रेस के इस विधायक ने पीएम मोदी से नोटों पर से महात्मा गांधी की तस्वीर हटाने को कहा, जानें क्या है मामला…

विधायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अजीब मांग की है. उन्होंने पीएम मोदी से अपील की है कि 500 और 2,000 रुपये के नोटों से महात्मा गांधी की तस्वीरें हटाने की मांग की है….

गांधी के प्रति विकलांग श्रद्धा

महात्मा गांधी के प्रति हम भारतीयों की विकलांग श्रद्धा का दौर उनके जीवन काल में ही शुरू हो गया था। दुर्भाग्य से श्रद्धा की उस विकलांगता को दिव्यांगता में बदलने का कोई प्रयास भारत में नहीं किया गया

Gandhi Jayanti : माल्यार्पण के बाद फूट-फूटकर रोने लगे सपा नेता, कुछ ने तो कर दी हद…

महात्मा गांधी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया गया और उसके बाद धीरे-धीरे सारे सपा नेता भावुक हो गए. एक के बाद एक नेता बापू की मूर्ति के पास आकर रोने…

Gandhi Jayanti : कांग्रेस शासित इस राज्य़ में अब गोबर से बनेगी बिजली, ऐतिहासिक परियोजना का हुआ शुभारंभ…

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज गांधी जयंती के मौके पर किसान सम्मेलन में गोबर से बिजली उत्पादन की महत्वाकांक्षी और ऐतिहासिक परियोजना का शुभारंभ किया….

Punjab Politics : सिद्धू के तेवर में आई कमी कहा- पद की चिंता नहीं है हमेशा राहुल और प्रियंका के साथ…

सिद्धू ने ट्वीट कर कहा कि हर हालात में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ खड़ा रहूंगा…

गांधी जयंती – गोडसे जिंदाबाद से नाराज हुए भाजपा नेता वरुण गांधी, कही ये बड़ी बात…

सोशल मीडिया में गोडसे का नाम ट्रेंड करने से भाजपा नेता वरुण गांधी नाराज हो गए. वरुण गांधी ने इस बारे में तीखी प्रतिक्रिया देते…

विश्व को महात्मा गांधी के शांति के संदेश पर ध्यान देना चाहिए, विश्वास के नए युग की शुरुआत करनी चाहिए – संयुक्त राष्ट्र महासचिव

घृणा, विभाजन और संघर्ष का अपना दिन रहा है। यह शांति, विश्वास और सहिष्णुता के एक नए युग की शुरुआत करने का समय है।

गांधी अब भी प्रासंगिक

गांधी ने जो विराटता अर्जित की थी वह अपने चरित्र और कर्म से, त्याग और बलिदान से, राष्ट्र के प्रति अपने समर्पण से और समाज सेवा के भाव से अर्जित थी।

व्यवहार की भाषा ही देश की भाषा हो

जातीय अर्थात राष्ट्रीय उत्थान और सुरक्षा के लिये किसी भी देश की भाषा वही होना श्रेयस्कर होता है, जो जाति अर्थात राष्ट्र के कामकाज और व्यवहार की भाषा हो। समाज की बोल-चाल की भाषा का प्रश्न पृथक् है।

गांधी और मंडेला: नया समाज

सबसे पहले हमें यही जानना चाहिए कि इस लंबी आयु का रहस्य क्या हो सकता है ? नेल्सन मंडेल का मैं महात्मा गांधी की तरह दक्षिण अफ्रीका ही नहीं, संपूर्ण अफ्रीका का गांधी मानता हूं। वे द. अफ्रीका के उसी तरह राष्ट्रपिता हैं, जैसे गांधी भारत के हैं।

महात्मा गांधी की परपोती को इस जुर्म के लिए हुई सात साल की जेल, जानें पूरा मामला

डरबन : आज भी महात्मा गांधी का नाम सुनकर दिल में सम्मान जाग जाता है। महात्मा गांधी ने भारत को आजाद करने के लिए अपनी अहम भूमिका निभाई थी। कई बार आंदोलन के लिए वे जेल भी गये थे। लेकिन अब महात्मा गांधी की पोती को सात साल की जेल की सजा हुई है। दक्षिण अफ्रीका के डरबन में एक अदालत ने महात्मा गांधी की परपोती आशीष लता रामगोबिन धोखाधड़ी और जालसाजी के तहत सात साल जेल की सजा सुनाई है। कोर्ट ने 6.2 मिलियन रैंड (अफ्रीकन मुद्रा) यानी करीब 3.22 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और जालसाजी मामले में कोर्ट ने आशीष लता के दषी करार दिया है। also read: Pune Fire : पुणे की केमिकल फैक्ट्री में आग से जिंदा जले 18 लोगों में 15 महिलाएं, PM Modi ने की 2 लाख के मुआवजे की घोषणा इस जुर्म के तहत हुई सजा WION के मुताबिक, 56 वर्षीय आशीष लता रामगोबिन पर आरोप है कि उन्होंने बिजनेसमैन एसआर महाराज को धोखा दिया था। एसआर महाराज ने महात्मा गांधी की पोती को भारत में मौजूद एक कंसाइनमेंट के लिए आयात और सीमा शुल्क के तौर पर 6.2 मिलियन रैंड (अफ्रीकन मुद्रा) एडवांस में दिए थे। आशीष लता रामगोबिन ने उस मुनाफे में… Continue reading महात्मा गांधी की परपोती को इस जुर्म के लिए हुई सात साल की जेल, जानें पूरा मामला

गांधी के स्वरोजगार के सपने को आकार दे रहा है ‘श्रमदान’

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने चरखा और खादी के जरिए स्वरोजगार का सपना संजोया था और उसे नई रोशनी मिली है जैन मुनि आचार्य विद्यासागर के प्रयासों से।

गोडसे पर टिप्पणी करने पर कांग्रेस ने प्रज्ञा ठाकुर पर बोला हमला

कांग्रेस ने आज मालेगांव बम धमाकों की आरोपी भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर हमला बोला। सांसद ने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथू राम गोडसे का नाम लिये बिना उसे ‘सच्चा देशभक्त’ कहा था।

गांधी क्या ऐसे संघ, भाजपा के हो जाएंगे?

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी दोनों बहुत सोच समझ कर, धीरे-धीरे आजादी के नायकों को अपना बनाने का अभियान चला रहे हैं। सुभाष चंद्र बोस, सरदार वल्लभ भाई पटेल, मदन मोहन मालवीय आदि इसकी मिसाल हैं, जिनको अपना बनाया और बताया जा रहा है।

गहलोत ने गांधी जयंती पर महात्मा गांधी को किया नमन

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट एवं कई मंत्रियों ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर आज उन्हें नमन किया।

और लोड करें