असलियत के लिए मूल इस्लामी किताबे पढ़े

 ‘इस्लामोफोबिया’ एक झूठा शब्द है, जिसे अनजान लोगों को बरगलाने के लिए गढ़ा गया। अनजान लोगों में असंख्य भले मुसलमान भी हैं जिन्हें झूठी बातों से गैर-मुसलमानों के विरुद्ध भड़काया जाता है।

कुरान और हैरिस के कई प्रश्न

हैरिस की रुचि वैज्ञानिक विश्लेषण में है। इसीलिए ‘द कर्स ऑफ गॉड:  ह्वाय आई लेफ्ट इस्लाम’  में इस पर केंद्रित अध्याय काफी मौलिक है।

प्रोफेट मुहम्मद की जीवनी अनुकरणीय नहीं

इस्लामी सीखों में बेढ़ब बातें अपवाद नहीं हैं। उन्हें सारी मानवजाति और ‘सदा के लिए’ एक मात्र ‘अनुकरणीय’ बताया जाता है!

इस्लाम में स्वतंत्र चिंतन की मांग

हैरिस सुलतान की पुस्तक ‘द कर्स ऑफ गॉड:  ह्वाय आई लेफ्ट इस्लाम’  में वैज्ञानिक तर्कों से इस्लामी विचारों और परंपराओं की समालोचना है।

मुलहिद और मुस्लिम नवजागरण

यूरोप में पूर्व-कैथोलिक संज्ञा जानी-मानी है। यानी ऐसे लोग जो पहले क्रिश्चियन थे, पर अब उस में विश्वास नहीं रखते। वे अब स्वतंत्र बुद्धिवादी या नास्तिक हैं।