विश्व मंच पर तानाशाहों के साथ भारत

संयुक्त राष्ट्र संघ में दो दिन पहले म्यामांर का मसला आया था। एक अभूतपूर्व कदम उठाते हुए संयुक्त राष्ट्र ने म्यांमार में सैन्य तख्ता पलट के खिलाफ प्रस्ताव पेश किया। माना जा रहा था कि बिना वोटिंग के एक राय से सभी 193 देश इसका समर्थन करेंगे। लेकिन ऐन मौके पर रूस और चीन की… Continue reading विश्व मंच पर तानाशाहों के साथ भारत

एक उम्मीद तो जगी

म्यांमार की हालत के बारे में दुनिया में एक तरह का असहाय होने का भाव रहा है। म्यांमार के सैनिक शासक बेरहमी से लोकतंत्र समर्थक आंदोलनकारियों की जान लेते रहे हैं, लेकिन बाहरी दुनिया से वहां किसी तरह का हस्तक्षेप नहीं हुआ है। पश्चिमी देशों ने जो पहल की उसे चीन और रूस ने नाकाम… Continue reading एक उम्मीद तो जगी

क्या बदलेगी भारत की म्यांमार नीति?

अब क्या म्यांमार के प्रति भारत की नीति बदलेगी? यह सवाल इसलिए उठ रहा है क्योंकि अमेरिका के एसएंडपी डाउ जोंस के इंडेक्स से अडानी पोर्ट एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन को हटाने का फैसला किया गया है। डाउ जोंस की ओर से कहा गया है कि 15 अप्रैल को एपीएसईजेड को इंडेक्स से हटा दिया… Continue reading क्या बदलेगी भारत की म्यांमार नीति?

शरणार्थियों से बेरुखी क्यों?

म्यांमार के शरणार्थियों के मामले में भारत सरकार ने क्यों निर्मम रुख अपना रखा है, इसे समझना मुश्किल है। रोहिंग्या शरणार्थियों के बारे में सरकार के ऐसे रुख पर समझा गया था कि चूंकि रोहिंग्या मुसलमान हैं, इसलिए ये मौजूदा भाजपा सरकार की हिंदुत्व की नीति से मेल नहीं खाते। सरकार किसी रूप में मुस्लिम… Continue reading शरणार्थियों से बेरुखी क्यों?

म्यांमारः भारत दृढ़ता दिखाए

म्यांमार में सेना का दमन जारी है। 600 से ज्यादा लोग मारे गए हैं। आजादी के बाद भारत के पड़ौसी देशों— पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, नेपाल, मालदीव— आदि में कई बार फौजी और राजनीतिक तख्ता-पलट हुए और उनके खिलाफ इन देशों की जनता भड़की भी लेकिन म्यांमार में जिस तरह से 600 लोग पिछले 60-70 दिनों… Continue reading म्यांमारः भारत दृढ़ता दिखाए

म्यांमार पर कूटनीति अब ठीक

मैने चार-पांच दिन पहले लिखा था कि म्यांमार (बर्मा) में चल रहे नर-संहार पर भारत चुप क्यों है ? उसका 56 इंच का सीना कहां गया लेकिन अब मुझे संतोष है कि भारत सरकार ने संयुक्त राष्ट्र संघ और दिल्ली, दोनों स्थानों से म्यांमार में चल रहे फौजी रक्तपात पर अपना मुंह खोलना शुरु कर… Continue reading म्यांमार पर कूटनीति अब ठीक

भारत की विदेश नीति खत्म!

बहुत बुरा लगा अपनी ही प्रजा पर गोलियां चलाने वाली सेना के साथ भारतीय सेना की उपस्थिति की खबर सुन कर! उफ! क्या हो गया है भारत? हम किन मूल्यों, आदर्शों और संविधान में जीते हुए हैं? जो हमारा धर्म है, हमारा संविधान है, हमारी व्यवस्था है, उसमें कैसे यह संभव जो हम खूनी के… Continue reading भारत की विदेश नीति खत्म!

कहानी से संभलेगी बात?

म्यांमार के सैनिक शासक अपनी छवि सुधारना चाहते हैं। यानी वे चाहते हैं कि जिस तरह का दमन कर रहे हैं, दुनिया उस पर ध्यान ना दे। या ध्यान दे तो यह समझे कि आखिर वे क्यों ऐसा कर रहे हैं।

आखिर क्या अच्छा हो रहा है भारत में?

म्यांमार में लोकतंत्र खत्म करके सैनिक तानाशाही आई तो भाजपा के सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने ट्विट करके भारत सरकार को ललकारा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार इस पर चुप नहीं बैठे

जहां चाह, वहां राह

म्यांमार में इस बार सैनिक शासकों के लिए पहले जैसी आसानी नहीं है। इस बार वहां की जनता ने साफ कर दिया है कि उन्हें लोकतंत्र का गला घोंटा जाना मंजूर नहीं है

म्यांमार में गजब का जज्बा

म्यांमार में सैनिक तख्ता पलट के बाद इस बार वहां की जनता ने गजब का जज्बा दिखाया है। सैनिक शासकों की तमाम ज्यादतियों का विरोध करते हुए लगभग रोज ही दसियों हजार लोग शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन में भाग ले रहे हैं।

फेसबुक ने म्यांमार के मिलिट्री कंटेंट पर प्रतिबंध लगाया

दक्षिण एशियाई देश म्यांमार में सैन्य तख्तापलट के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी है। इस बीच फेसबुक ने म्यांमार की सेना द्वारा ‘गलत सूचना’ के प्रसार को रोकने के लिए चलाए जा रहे

म्यांमार में सैन्य शासन के खिलाफ प्रदर्शन

म्यांमार के सबसे बड़े शहर यंगून में सैन्य तख्तापलट के खिलाफ रविवार को हजारों लोगों ने प्रदर्शन किया और देश की सर्वोच्च नेता आंग सान सू ची की रिहाई की मांग की।

जो अंदेशा था, वो हुआ

तो आखिरकार म्यांमार में सेना ने तख्ता पलट दी। नव निर्वाचित संसद की बैठक से ठीक पहले वाली रात में वहां एक दशक पहले वाली हालत बहाल कर दी गई। आंग सान सू ची सहित तमाम राजनेता जेल में डाल दिए गए।

म्यांमार में तख्ता—पलट

भारत के पड़ौसी देश म्यांमार (बर्मा या ब्रह्मदेश) में आज सुबह-सुबह तख्ता-पलट हो गया। उसके राष्ट्रपति बिन मिन्त और सर्वोच्च नेता श्रीमती आंग सान सू की को नजरबंद कर दिया गया है

म्यांमार में सेना ने किया तख्तापलट

म्यांमार की सेना ने स्टेट काउंसलर आंग सान सु की और राष्ट्रपति विन मिंट तथा सत्तारूढ पार्टी के अन्य सदस्यों को सोमवार को हिरासत में लेने के बाद एक साल के लिए देश में आपातकाल स्थिति की घोषणा की।

भारत ने म्यांमार से लोकतांत्रिक व्यवस्था बहाल करने का आग्रह किया

भारत ने म्यांमार में तख्तापलट की घटना पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए पड़ोसी देश से लोकतांत्रिक व्यवस्था बहाल करने का आग्रह किया है। विदेश मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है

म्यांमार ने कोविड-19 के खिलाफ राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान शुरू किया

म्यांमार ने बुधवार को देशभर में कोविड -19 टीकाकरण कार्यक्रम शुरू किया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इस अभियान की शुरुआत उन चिकित्सा कर्मचारियों के साथ हुई

म्यांमार में फिर से सू ची

म्यांमार के चुनाव में आंग सान सू ची की नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी पार्टी की फिर जीत हुई है। एनएलडी ने कहा है कि उसने संसदीय चुनाव में अभूतपूर्व जीत दर्ज की है।

म्यांमार के आम चुनावों के लिए मतदान शुरू

म्यांमार में रविवार को आम चुनाव के लिए मतदान शुरू हो गया है, जिसमें देश भर के 3.7 करोड़ मतदाता अपना उम्मीदवार चुनेंगे। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, चुनावों के लिए

एक ठोस कूटनीतिक पहल

गुजरे हफ्ते ये अहम बात हुई कि भारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन शृंगला और थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने एक साथ म्यांमार पहुंचे। भारतीय विदेश नीति और कूटनीति में ऐसा अवसर कभी-कभार ही आता है, जब सेना और विदेश सेवा के शीर्ष अधिकारी साथ साथ दिखें।

मोदी ने कोरोना पर आंग सान सू की से चर्चा की

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सान सू की के साथ कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न स्थिति पर चर्चा की।

म्यांमार पर चीनी घेरा

श्रीलंका के बाद चीनी राष्ट्रपति शी चिन फिंग अब म्यांमार पहुंचे हैं। म्यामांर में अपने दो-दिन के प्रवास में उन्होंने 33 आपसी समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं। म्यांमार की नेता सू ची का बयान ध्यान देने लायक है। उसमें कहा गया है कि ‘‘यह कहने की जरुरत ही नहीं है कि पड़ौसी देश (म्यांमार) के… Continue reading म्यांमार पर चीनी घेरा

शी चिनफिंग म्यांमार की राजकीय यात्रा पर

बीजिंग। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग म्यांमार की राजकीय यात्रा पर शुक्रवार को नैप्यीदा पहुंचे। शी चिनफिंग के विशेष विमान के म्यांमार के हवाई क्षेत्र पहुंचने के बाद म्यांमार की वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने उन्हें एस्कोर्ट दिया। प्रथम उप राष्ट्रपति माइंट स्वे उनके स्वागत में हवाई अड्डे पर पहुंचे। यह इस वर्ष राष्ट्रपति… Continue reading शी चिनफिंग म्यांमार की राजकीय यात्रा पर

मोदी-सू ने सीमांकन और सितवे पोर्ट के संचालन पर की चर्चा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सान सू की ने नई दिल्ली द्वारा बनाए जा रहे सितवे बंदरगाह के परिचालन से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की।