रणजी ट्रॉफी में ईशांत को लगी चोट

नई दिल्ली। भारतीय टीम के सीनियर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा को सोमवार को रणजी ट्रॉफी मैच के दौरान टखने में चोट लग गई। यहां अरुण जेटली स्टेडियम में विदर्भ के साथ खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी मैच के दूसरे दिन सोमवार को ईशांत अपना टखना चोटिल करा बैठे। विदर्भ की दूसरी पारी के पांचवें ओवर के दौरान ईशांत को चोट लगी। यह ईशांत का इस पारी का तीसरा ओवर था। ईशांत दर्द से करहा रहे थे और कुछ देर बाद उन्हें मैदान से बाहर ले जाया गया। ईशांत के टकने में सूजन भी आ गई इसलिए उन्हें लेकर जोखिम नहीं लिया गया। न्यूजीलैंड दौरे के लिए जल्द ही भारतीय टेस्ट टीम का ऐलान होना है। ईशांत को अब चोट ठीक करने के लिए बेंगलुरू स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) जाना होगा ताकि वह अपना रिटर्न टू प्ले (आरटीपी) सर्टिफिकेट हासिल कर सकें। भारत को न्यूजीलैंड में दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी हैं। सीरीज का पहला टेस्ट 21 से 25 फरवरी और दूसरा मैच 29 फरवरी से चार मार्च के बीच खेला जाएगा।

पता ही नहीं आगे क्या होगा : मनोज तिवारी

कल्याणी (पश्चिम बंगाल)। रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए मैच में हैदराबाद के खिलाफ तिहरा शतक जड़ने वाले पश्चिम बंगाल के दांए हाथ के मध्यक्रम बल्लेबाज मनोज तिवारी ने कहा है कि भारतीय टीम में जगह बनाना अब काफी मुश्किल हो गया है। उन्होंने साथ ही कहा कि हालांकि कुछ भी असंभव नहीं है। 34 साल के तिवारी के करियर का यह पहला तिहरा शतक है। उन्होंने अपनी इस पारी के दौरान 414 गेंदों का सामना किया, जिसपर उन्होंने 303 रनों की नाबाद पारी खेली। इस दौरान उन्हें 30 चौके और पांच छक्के भी लगाए। भारत के लिए 12 वनडे और तीन टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलने वाले तिवारी ने दिन का खेल समाप्त होने के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, “इस दुनिया में कुछ भी संभव है। मेरा विश्वास हमेशा मजबूत रहता है चाहे मैं जीरो रन बनाऊं या फिर शतक लगाऊं। मैंने हमेशा अपनी क्षमता और कड़ी मेहनत पर विश्वास किया है। तिवारी ने भारत के लिए अपना आखिरी वनडे मैच 2015 में जिम्बाब्वे दौरे पर खेला था। उन्होंने कहा, “इसके लिए मैं अपने निजी कोच मनबेंद्र घोष को धन्यवाद देना चाहता हूं। उन्होंने मुझे बेहतर बनने में मदद की है। अगर आपको खुद पर विश्वास हो तो आत्मविश्वास आ ही… Continue reading पता ही नहीं आगे क्या होगा : मनोज तिवारी

रणजी ट्रॉफी : पुनिया के सामने महाराष्ट्र 44 रनों पर ढेर

दिल्ली। दाएं हाथ के तेज गेंदबाज पूनम पुनिया की बेहतरीन गेंदबाजी के दम पर सर्विसेस ने यहां पालम स्टेडियम में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-सी के मैच में महाराष्ट्र को पहले दिन शुक्रवार को पहली पारी में सिर्फ 44 रनों पर ही ढेर कर दिया। दिन का खेल खत्म होने तक सर्विसेस ने अपनी पहली पारी में चार विकेट खोकर 141 रन बना 97 रनों की बढ़त ले ली है। महाराष्ट्र के सिर्फ दो बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक पहुंचे जबकि पांच बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल पाए। चिराग खुराना ने सबसे ज्यादा 14 और उनके बाद सत्यजीत बच्चाव ने 11 रन बनाए। सर्विसेस के लिए पुनिया ने पांच विकेट लिए। सच्चिदानंद पांडे ने तीन और दिवेश पठानिया ने दो विकेट अपने नाम किए। सर्विसेस को भी हालांकि अच्छी शुरुआत नहीं मिली। इसे भी पढ़ें : टी-20 विश्व कप को ध्यान में रख वापसी करना चाहते हैं स्टेन एक के कुल स्कोर पर नकुल वर्मा बिना खाता खोले आउट हो गए। अभिजीत साल्वी ने 16, अरुण बामल ने 10 रनों का योगदान दिया और जल्दी पवेलियन लौट लिए। सर्विसेस ने यह तीनों विकेट 36 के कुल स्कोर तक खो दिए थे। कप्तान रजत पालीवाल ने इसके बाद रवि… Continue reading रणजी ट्रॉफी : पुनिया के सामने महाराष्ट्र 44 रनों पर ढेर

रणजी ट्रॉफी : दिल्ली ने हैदराबाद को 7 विकेटों से दी मात

दिल्ली ने अपने दो अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों शिखर धवन और ईशांत शर्मा के दम पर रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए के मैच के चौथे और आखिरी दिन शनिवार को हैदराबाद को सात विकेट से हरा दिया। इस सीजन में दिल्ली की यह पहली जीत है।

और लोड करें