• डाउनलोड ऐप
Monday, May 10, 2021
No menu items!
spot_img

राम मंदिर

राम मंदिर का काम तभी पूरा होगा, जब देश एक साथ होगा : आरएसएस

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का काम केवल तभी पूरा होगा, जब देश भर में सामाजिक-सांस्कृतिक-आर्थिक आत्मसात (समावेश) संबंधी कार्य पूरा हो जाएगा।

परंपरा – कर्मकांड किसकी ? राष्ट्र की या धर्म की…?

क्या ऋषिकेश की गंगा को कानपुर की मैली गंगा में भी शुद्ध रखा जा सकता हैं ? वर्षों से केंद्र की काँग्रेस और अब मोदी सरकार कोशिश करती रही हैं, पर परिणाम वही “ढाक के तीन पात” रहे।

वक्त मंदिर और किसानों के चंदे का!

खबर है कि राम मंदिर के लिए रिर्काड तोड़ चंदा इकठ्ठा हो रहा है। तभी धारणा बनती है कि हिंदू राजनीति अभी भी पीक पर है।

राम मंदिर और मुसलमान

अयोध्या के राम मंदिर और मस्जिद का मामला शांतिपूर्वक हल हो रहा है, यह भारत के हिंदुओं और मुसलमानों दोनों की उदारता और सहिष्णुता का प्रमाण है। इससे भी बड़ी बात यह है कि कुछ मुसलमान संस्थाएं और सज्जन राम मंदिर निर्माण में उत्साहपूर्वक सहयोग कर रहे हैं।

अयोध्या का श्रेय अकेले मोदी को!

अब अयोध्या आंदोलन की विरासत का क्या होगा? यह आंदोलन इतिहास में किस रूप में दर्ज होगा? इसका जवाब यह है कि बाबरी मस्जिद के विवादित ढांचे को तोड़े जाने के मामले में लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले के बाद अब इस आंदोलन की स्मृतियां धीरे धीरे लोगों के जेहन से खत्म हो जाएंगी।

पितृपक्ष के बाद शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण

अयोध्या में बहुप्रतीक्षित राम मंदिर का निर्माण पितृपक्ष की समाप्ति यानी 17 सितंबर के बाद शुरू होगा। पितृपक्ष के दौरान हिंदू अपने पूर्वजों के प्रति आभार जताते हैं और इस दौरान कोई भी पवित्र कार्य नहीं किया जाता।

अयोध्या में राम मंदिर का नक्शा पास

अयोध्या में श्रीराम जन्मभू मंदिर के नक्शे को मंजूरी मिल गई है। बुधवार को अयोध्या विकास प्राधिकरण, एडीए बोर्ड की बैठक में इसे कुछ मिनटों में मंजूरी दे दी गई।

बिहार में 370 और मंदिर का मुद्दा!

भारतीय जनता पार्टी ने भले ऐलान किया है कि बिहार में नीतीश कुमार के चेहरे पर चुनाव लड़ा जाएगा और वे मुख्यमंत्री के दावेदार हैं पर असल में भाजपा के अपने उम्मीदवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम, चेहरे और काम पर चुनाव लड़ेंगे।

सन 2022-23 में चुनाव सब हों साथ!

हां,वक्त यदि वायरस का है तो क्योंकर बिहार में विधानसभा चुनाव हो? वायरस की हकीकत, जान-माल की बरबादी में आगामी सभी विधानसभा चुनाव टलने चाहिए। कोई फर्क नहीं पड़ेगा यदि विधानसभा के कार्यकाल के खत्म होने के बाद प्रदेशों में राष्ट्रपति शासन लगे।

अब क्या मथुरा-काशी की बारी है

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमिपूजन और शिलान्यास के बाद अचानक पूरे देश में मथुरा और काशी की चर्चा शुरू हो गई है।
- Advertisement -spot_img

Latest News

अमेरिका-यूरोप के बनो शुक्रगुजार!

अच्छी खबर जो पुर्तगाल के पोर्तो में यूरोपीय संघ के नेताओं ने भारत की चिंता की। भारत के साथ...
- Advertisement -spot_img