• डाउनलोड ऐप
Friday, May 14, 2021
No menu items!
spot_img

रुस

विदेश नीतिः मौलिक पहल जरुरी

अन्तरराष्ट्रीय राजनीति का खेल कितना मजेदार है, इसका पता हमें चीन और अमेरिका के ताजा रवैयों से पता चल रहा है। चीन हमसे कह रहा है कि हम अमेरिका से सावधान रहें और अमेरिका हमसे कह रहा है कि...

लावरोव और कुरैशी की चतुराई

रूसी विदेश मंत्री सर्गेइ लावरोव और पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कल इस्लामाबाद में बड़ी चतुराई दिखाने की कोशिश की। दोनों ने दुनिया को यह बताने की कोशिश की कि रूस और पाकिस्तान आतंकवाद से लड़ने के...

भारत-रूसः हमें हुआ क्या है ?

रूसी विदेश मंत्री सर्गेइ लावरोव और भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर के बीच हुई बातचीत के जो अंश प्रकाशित हुए हैं और उन दोनों ने अपनी पत्रकार-परिषद में जो कुछ कहा है, अगर उसकी गहराई में उतरें तो आपको थोड़ा-बहुत...

अपने-अपने दांव

अमेरिका ने एक साथ चीन और रूस दोनों के प्रति हमलावर रुख अपनाया है। नतीजा यह हुआ है कि चीन और रूस अब ज्यादा करीब आने को मजबूर हो गए हैं। पिछले हफ्ते अमेरिका और चीन के बीच अलास्का नाकाम रही। वहीं जो बाइडेन ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन के ‘हत्यारा’ कह दिया।

रूस की असल समस्या

रूस इन दिनों राष्ट्रपति पुतिन विरोधी नेता अलेक्सी नवालनी की गिरफ्तारी की खबरों से दुनिया में चर्चा में है। लेकिन रूस के अंदर से आने वाली खबरों पर गौर करें, तो यह साफ होता है कि रूस के लोग असल में इस बात से परेशान नहीं हैं कि नवालनी के साथ क्या हो रहा है।

ऑस्ट्रेलियन ओपन : नडाल, मेदवेदेव दूसरे दौर में, अगुत बाहर

विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल और रुस के डेनियल मेदवेदेव आज वर्ष के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन के पुरुष एकल वर्ग के पहले राउंड में अपने-अपने मुकाबले जीत कर दूसरे दौर में पहुंच गए

रूस में पुतिन की मुसीबत

क्या कभी कोई कल्पना कर सकता था कि मास्को से व्लादिवस्तोक तक दर्जनों शहरों में हजारों लोग सड़कों पर उतर आएंगे और ‘पुतिन तुम हत्यारे हो’, ऐसे नारे लगाएंगे? लेकिन आजकल पूरा रूस जन-प्रदर्शनों से खदबदा रहा है।

भारत किसी का पिछलग्गू नहीं

रुस के विदेश मंत्री सर्गेइ लावरोव ने बर्र के छत्ते को छेड़ दिया है। उन्होंने रुस की अंतरराष्ट्रीय राजनीति परिषद को संबोधित करते हुए ऐसा कुछ कह दिया, जो रुस के किसी नेता या राजनयिक या विद्वान ने अब तक नहीं कहा था। 

यह मुर्गियों का दड़बा?

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में वही हुआ, जो अक्सर दक्षेस (सार्क) की बैठकों में होता है। चीन, रुस, पाकिस्तान और मध्य एशिया के चार गणतंत्रों के नेता अपनी दूरस्थ बैठक में अपना-अपना राग अलापते रहे और कोई परस्पर लाभदायक बड़ा फैसला करने की बजाय नाम लिये बिना एक-दूसरे की टांग खींचते रहे।

चुनाव से पहले डरा अमेरिका

अमेरिका में 2016 के चुनाव में रूसी दखल इतना चर्चित हुआ कि उसकी जांच हुई। जांच रिपोर्ट से इस बात की पुष्टि हुई कि रूस ने चुनाव नतीजों को प्रभावित किया। अब एक बार फिर वैसी ही आशंकाएं घर गई हैं।
- Advertisement -spot_img

Latest News

Team India के खिलाड़ी Yuzvendra Chahal के परिवार में कोरोना की एंट्री, पिता हाॅस्पिटल में एडमिट, मां का घर में चल रहा इलाज

नई दिल्ली। टीम इंडिया के खिलाड़ी ( Team India Player ) युजवेंद्र चहल ( Yuzvendra Chahal ) के परिवार...
- Advertisement -spot_img