एक थे शास्त्री, एक हैं मोदी: दो विपदा, दो प्रधानमंत्री!

हम हिंदू इतिहास-याद्दाश्त में कच्चे हैं। आंखें मोतियाबिंद की मारी व बुद्धि मंद! सिर्फ वर्तमान के कुएं में जीते हैं। कितनों को भान है कि 1947 में आजादी के बाद भूख और भूखे पेट की विपदा कब थी? तो जवाब है साठ का दशक। यों भारत आजादी पहले से भूख, अकाल का मारा था। तेज… Continue reading एक थे शास्त्री, एक हैं मोदी: दो विपदा, दो प्रधानमंत्री!

हम शिकार हैं शिकारी नहीं!

जरा पिछले 72 सालों के इतिहास में भारत-पाकिस्तान के रिश्तों पर गौर करें। सोचिए, इन रिश्तों में शिकारी और शिकार की प्रवृत्ति, डीएनए लिए कौन देश है? किसने शिकार करने की फितरत में तीर ताना हुआ और निशाना साधा हुआ है? किसने बार-बार तीर छोड़ कर दूसरे को घायल करना या मारना चाहा?