कोरोना और हमारे साधु-संत

मैंने कल लिखा था कि देश के राजनीतिक दल और नेता यदि अपने करोड़ों कार्यकर्ताओं को सक्रिय कर दें तो ऑक्सीजन घर-घर पहुंच सकती है। इंजेक्शन और दवाइयों के लिए लोगों को दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा। कालाबाजारियों के हौंसले पस्त हो जाएंगे। उन्हें पकड़ना आसान होगा। मेरे सुझावों का बहुत-से पाठकों ने बहुत स्वागत किया… Continue reading कोरोना और हमारे साधु-संत

यह है ‘प्लेग’ से आगे की गाथा

लेखक: सुशील कुमार सिंह किसी के पास इसका हिसाब नहीं है कि पिछले दो-तीन हफ्तों में, किन्हीं भी मजबूरियों में, कहां-कहां कितने डॉक्टरों ने कहा कि ‘अब तो हमसे भी नहीं देखा जाता।‘ अखबारों और न्यूज़ एजेंसियों के कई फोटोग्राफ़र दिल्ली और एनसीआर के श्मशानों की तस्वीरें खींचने के बाद कई दिनों तक ठीक से… Continue reading यह है ‘प्लेग’ से आगे की गाथा

अब भी सच से तौबा!

देश में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या दो लाख से ज्यादा हो चुकी है। यह सरकारी आंकड़ा है। लेकिन क्या यही सही तस्वीर है? अगर कुछ समय पहले तक कुछ लोग इस आंकड़े में भरोसा करते भी होंगे, तो अब ये विश्वास करना ज्यादा से ज्यादा लोगों के मुश्किल हो गया है।… Continue reading अब भी सच से तौबा!

दुनिया में डंका बज रहा है!

भारत सरकार, सत्तारूढ़ पार्टी और सरकार व सत्तारूढ़ पार्टी की हर बात का समर्थन करने वाले पत्रकार और काफी संख्या में आम लोग भी इस बात के आहत हैं कि दुनिया भर में मीडिया में सरकार के खिलाफ नकारात्मक खबरें छप रही हैं और देश यानी प्रधानमंत्री को बदनाम किया जा रहा है। भारत में… Continue reading दुनिया में डंका बज रहा है!

वहां बुद्धि, यहां कौवा काला!

सुबह दिमाग को ‘द इकॉनोमिस्ट’ से चीन, ब्रिटेन और अमेरिका पर खुराक मिली। फिर सोचने लगा पत्रिका पर। लंदन से प्रकाशित इस पत्रिका को मैं 1976 से देखता-पढ़ता आ रहा हूं। इसके संपादकीय पढ़ कर मेरी वैश्विक समझदारी पकी।

विदेशी मीडिया से संपर्क कर सीएए पर सरकार का पक्ष रखेगी भाजपा

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस कानून को लेकर विदेशी मीडिया में झूठी और भ्रामक खबरें छापी जा रही हैं।

अमेरिकी सांसदों ने कश्मीर में पत्रकारों को जाने देने की मांग की

वाशिंगटन। अमेरिका के छह सांसदों ने अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला को एक पत्र लिख कर कश्मीर में विदेशी पत्रकारों और सांसदों की पहुंच की मांग की और दावा किया कि भारत द्वारा पेश की जा रही घाटी की तस्वीर उनके पक्ष द्वारा दी जानकारी से अलग है। अमेरिका के कश्मीर में राजनीतिक… Continue reading अमेरिकी सांसदों ने कश्मीर में पत्रकारों को जाने देने की मांग की