• डाउनलोड ऐप
Monday, May 10, 2021
No menu items!
spot_img

व्हाइट हाउस

व्हाइट हाउस से विदाई के बाद पहले भाषण में ट्रंप ने की भारत की आलोचना

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस छोड़ने के बाद दिए गए अपने पहले भाषण में भारत के पर्यावरण रिकॉर्ड की आलोचना की है।

बाइडेन की शपथ में असली अमेरिका!

बाइडेन जीते हैं तो अमेरिका जीता है! बाइडेन की जीत अमेरिका की महान लोकतांत्रिक परंपराओं और लोकतांत्रिक संस्थाओं की जीत है

अमेरिकाः आज असुर राज से मुक्ति!

वाह! ईश्वर की अमेरिका पर आज अनुकंपा। उसकी चार साला मूर्ख-अहंकारी-रावण राज से आज मुक्ति। पर कहीं ऐन वक्त विध्न-बाधा तो नहीं? हां, दुनिया के तमाम भले, सभ्य, सत्यवादी और खुद अमेरिका के बुद्धिमना, जाग्रत नागरिक और वहां की व्यवस्था चिंता में है कि जो बाइडेन की बतौर राष्ट्रपति शपथ शांतिपूर्वक हो पाती है या नहीं।

अमेरिका में अभूतपूर्व

डॉनल्ड ट्रंप का चार साल का कार्यकाल आज जो बाइडेन के राष्ट्रपति पद का शपथ लेने के साथ ही खत्म हो जाएगा। लेकिन अपने चार साल के शासनकाल में अमेरिका को कहां पहुंचा दिया, उसकी एक झलक पिछले कई दिनों से देखने को मिल रही है।

ट्रंप की भक्तीः भय-खौफ का मनोविकार!

डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार कहा था- मैं फिफ्थ एवेन्यू (वाशिंगटन की सड़क) के बीच खड़े हो कर किसी को गोली मारू तब भी मुझसे मेरा वोटर नाराज नहीं होगा। हां, यही हकीकत है, एकदम अविश्वसनीय।

भावना है समस्या और समाधान है बुद्धी!

बड़ा मुश्किल है सोचना कि डोनाल्ड़ ट्रंप कैसे सवा सात करोड अमेरिकियों की भावना में भगवान बने! लोगों ने अंतर्दृष्टि, इन्टूइशन में उन्हे सच्चा मान महाबली समझा या राजनीति-नेताओं के पिछले अनुभव (अश्वेत ओबामा, उदारवाद आदि) ने उन्हे गौरों में सुरक्षादायी बनाया

भावना पहले फिर बुद्धी की दुम!

आधे से कुछ ही कम अमेरिकी मतदाता डोनाल्ड ट्रंप को विजेता मान रहे है! वे चुनाव नतीजों का सत्य मानने को तैयार नहीं है। वे ट्रंप को चुनाव जीता मानते है।

ट्रंप की भेड़ों से इंसान का सवाल

वक्त आधुनिक इंसान की बुद्धी पर गंभीर सवाल बनाता हुआ है। मनुष्य जानवर-भेड़ बकरी है या जीव जगत में दिमाग का बिरला विकास प्राप्त किए हुए प्राणी

जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे ट्रंप

व्हाइट हाउस ने घोषणा की है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आज और कल वर्चुअल तरीके से होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे।

झूठ की ट्रंप गंगौत्री और भक्त!

झूठ छूत है, संक्रमण है और उसका वाहक क्योंकि इक्कीसवीं सदी का मीडिया-सोशल मीडिया है तो इस महामारी का सर्वाधिक घोषित संक्रमित अमेरिका व अघोषित नंबर एक संक्रमित भारत ही होगा।
- Advertisement -spot_img

Latest News

अमेरिका-यूरोप के बनो शुक्रगुजार!

अच्छी खबर जो पुर्तगाल के पोर्तो में यूरोपीय संघ के नेताओं ने भारत की चिंता की। भारत के साथ...
- Advertisement -spot_img