बदलती परिस्थितियां भारतीय अर्थव्यवस्था के पक्ष में : दास

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने देश में हुए पांच बड़े बदलावों को उल्लेखित करते हुये आज कहा कि इन बदलावों को ‘संरचानत्मक परिवर्तन’ में बदले जाने की जरूरत है

आरबीआई गवर्नर ने साख निर्धारक एजेंसियों के साथ की बैठक

रिजर्व बैंक (आरबीआई) गवर्नर शक्तिकांता दास ने आज साख निर्धारक एजेंसियों के शीर्ष अधिकारियों के साथ अर्थव्यवस्था की स्थिति और परिदृश्य पर चर्चा की। दास ने इन एजेंसियों

बैंकों के लिए आरबीआई का नया पैकेज

मुंबई। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लागू लॉकडाउन की वजह से थमी हुई आर्थिकी की गाड़ी को आगे बढ़ाने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक, आरबीआई ने बैंकों व वित्तीय संस्थाओं के लिए नए पैकेज का ऐलान किया। रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार की सुबह जारी एक वीडियो संदेश के जरिए एक लाख करोड़ रुपए के बूस्टर पैकेज का ऐलान किया, जिसका फायदा नाबार्ड जैसी वित्तीय संस्थाओं और कुछ बैंकों को मिलेगा। आरबीआई की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विट करके कहा कि इससे नकदी की तरलता बढ़ेगी। लोगों को कर्ज मिलने में आसानी हो इसके लिए रिजर्व बैंक ने रिवर्स रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कमी कर दी। बैंक ने रेपो रेट को जस का तस रखा। रिवर्स रेपो रेट में ताजा कटौती से अब यह 3.75 फीसदी हो गया है। रिवर्स रेपो के तहत वाणिज्यिक बैंक अपने पास उपलब्ध अतिरिक्त नकदी को फौरी तौर पर रिजर्व बैंक के पास रखते हैं। इसकी दर में कमी करने से लोगों को सस्ते कर्ज मिलने में आसानी होगी। आरबीआई के प्रमुख शक्तिकांत दास ने कहा- प्रमुख नीतिगत दर यानी रेपो रेट को 4.4 फीसदी  पर ही रखा गया है… Continue reading बैंकों के लिए आरबीआई का नया पैकेज

मौद्रिक नीति से नहीं, सुधार से होगा काम

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक, आरबीआई के गवर्नर ने कहा है कि देश में आर्थिक मंदी में सुधार सिर्फ मौद्रिक नीति से नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा है कि मौद्रिक नीति की कुछ सीमाएं होती हैं, इसलिए विकास बढ़ाने के लिए ढांचागत सुधारों और वित्तीय उपायों की भी जरूरत है। आम बजट आने से ठीक पहले आरबीआई के गवर्नर का यह बयान बहुत अहम माना जा रहा है। बताया जा रहा है कि इस बार बजट में कुछ ढांचागत सुधार हो सकता है। शक्तिकांत दास का कहना है कि फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्रीज, टूरिज्म, ई-कॉमर्स, स्टार्टअप्स और ग्लोबल सप्लाई चेन का हिस्सा बनने के प्रयासों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। शक्तिकांत दास का यह बयान जीडीपी बढ़ोतरी की दर में गिरावट और आने वाले बजट के लिहाज से अहम माना जा रहा है। गौरतलब है कि सितंबर तिमाही में विकास सिर्फ साढ़े चार फीसदी रह गई, यह छह साल में सबसे कम है। आरबीआई गवर्नर का कहना है कि केंद्र सरकार बुनियादी खर्च पर ध्यान दे रही है, इससे अर्थव्यवस्था में विकास की गति बढ़ेगी। लेकिन, राज्यों को भी खर्च बढ़ा कर विकास में योगदान देना चाहिए, इससे कई गुना ज्यादा असर होगा। दास ने कहा कि देश की संभावित विकास… Continue reading मौद्रिक नीति से नहीं, सुधार से होगा काम

विदेशी मुद्रा भंडार 452 अरब डालर के रिकार्ड स्तर पर : शक्तिकांत

चालू वित्त वर्ष के दौरान अब तक देश के विदेशी मुद्रा भंडार में 38:8 अरब डालर की बड़ी बढ़ोतरी हो चुकी है और यह तीन दिसंबर को 451.7 अरब डालर के रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया।

और लोड करें