• डाउनलोड ऐप
Thursday, May 13, 2021
No menu items!
spot_img

सैनिक

Bangladesh Independence की सच्ची कहानी : वह सगत सिंह राठौड़ थे जिनकी वजह से भी पूर्वी पाकिस्तान आज बांग्लादेश है

जयपुर | मोदीजी एक दिन पहले बोल गए कि बांग्लादेश की स्वाधीनता में उनका भी किंचित योगदान है। रहा होगा, बहुतों का रहा है। इसीलिए तो इंदिरा गांधी ने दुनिया के नक्शे से पूर्वी पाकिस्तान का निशान और नाम...

बजट में सैनिकों के साथ हुआ विश्वासघात : राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रक्षा बजट को लेकर सरकार पर फिर हमला करते हुए कहा है कि इसमें सिर्फ पूंजीपति मित्रों को लाभ पहुंचाने का काम हुआ है और देश की रक्षा में जुटे सैनिकों के साथ विश्वासघात किया गया है।

नाकुला में भारत और चीन के सैनिकों में झड़प, कई घायल

उत्तरी सिक्किम के नाकुला में भारतीय और चीनी सैनिक आपस में भिड़ गए। ये झड़प पिछले हफ्ते हुई और इसमें कई सैनिक घायल हो गए हैं।

राहुल ने ‘थल सेना दिवस’ पर सैनिकों को दी शुभकामनाएं

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने 'थल सेना दिवस' पर शुक्रवार को सैनिकों तथा उनके परिजनों को बधाई देते हुए सैनिकों के अदम्य साहस और बलिदान को नमन किया है।

चीन के घुसपैठिए सैनिक को भारत ने लौटाया

भारतीय अधिकारियों ने आज चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के एक सैनिक को रिहा कर दिया। इस सैनिक को पूर्वी लद्दाख में विवादित सीमा पार कर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने पर पकड़ लिया गया था।

त्योहारों पर प्रधानमंत्री की अपील

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों से कहा है कि वे त्यौहार मनाते समय सीमाओं पर तैनात सैनिकों तथा रोजमर्रा के जीवन में उनकी मदद करने वाले कामगारों

राहुल ने सैनिकों की सुविधा का मामला उठाया

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय सैनिकों को मिलने वाली सुविधाओं का मामला एक बार फिर उठाया है। उन्होंने एक वीडिया जारी करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऊपर तंज भी किया है।

उम्मीद तो नहीं बंधती

भारत और चीन की सेनाओं के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर लद्दाख में चल रहे गंभीर तनाव के बीच दोनों देशों के विदेश मंत्रियों ने मॉस्को में बातचीत की। पहले खबर आई कि दोनों देश एलएसी पर आमना-सामना खत्म करने के लिए सहमत हो गए हैं।

चीन से लौटे अगवा भारतीय नागरिक

अरुणाचल प्रदेश से अगवा किए गए पांच भारतीय नागरिकों को चीन ने वापस लौटा दिया है। पांचों भारतीय नागरिकों को चीन की सेना ने शनिवार को भारतीय सेना को सौंप दिए। इन पांचों नागरिकों की 12 दिन बाद वापसी हुई।

चीन से इतना डरना क्यों?

दुनिया का हर जानकार मानता है कि चीन ने सीमा पर यथास्थिति तोड़ी। वह आक्रामक है। मई 2020 से पहले भारतीय सेना का जो गश्ती इलाका था उसमें चीनी सेना घुसी है। सीमा पर वह लड़ाई का इंफ्रास्ट्रक्चर बना रहा है।
- Advertisement -spot_img

Latest News

सुशील मोदी की मंत्री बनने की बेचैनी

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी को जब इस बार राज्य सरकार में जगह नहीं मिली और पार्टी...
- Advertisement -spot_img