बुरे से कुरूप होते जाने की कहानी!

भारत आखिर किस दिशा में जा रहा है? आने वाले अगले दशक में भारत की क्या कहानी होगी? क्या हम गरजते हुए नजर आएंगे या हकलाते हुए? क्या हम तेज विकास की और बढ़ेंगे या पतन की खाई में गिरेंगे? जिस जोरदार संख्याबल से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने क्या वे उसे काम का साबित कर… Continue reading बुरे से कुरूप होते जाने की कहानी!

तो भारत बहुत पहले हिंदू राष्ट्र हो चुका होता!

बात-बात में विपक्ष के एक आला नेता ने कहा, यदि गोडसे ने गांधी को नहीं मारा होता तो भारत बहुत पहले हिंदू राष्ट्र हो चुका होता! वाक्य ने दिमाग के रसायन को खदबदा दिया। लगा कि यह वाक्य मौजूदा वक्त की राजनीति पर एक निष्कर्ष है।

भागवत का कहा और संघ व सिख

एक पुरानी कहावत है कि दूर के ढोल सुहावने होते हैं। जिसने यह कहावत बनाई वह वास्तव में बहुत बड़ा विद्वान था। मैंने तो अपने जीवन में इस कहावत को शब्दशः सत्य होते देखा है।