नियम तो सबके लिए हैं!

असल में इस घटना ने उड़ान संबंधी अंतरराष्ट्रीय नियमों पर सख्ती से अमल की जरूरत फिर से साफ कर दी है। लेकिन मुश्किल यह है कि जब अपने हित सामने होते हैं, तो कोई देश नियमों की परवाह नहीं करता। ऐसे मामलों में सभी देशों का रिकॉर्ड दागदार रहा है। ग्रीस से लिथुआनिया जा रहे… Continue reading नियम तो सबके लिए हैं!

अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था को चुनौती

अपने वायु क्षेत्र से किसी विमान के उड़ने का मतलब यह नहीं होता कि संबंधित देश उसे अपने यहां उतरने के लिए मजबूर कर दे।फिर ये समझना भी मुश्किल है कि आखिर लुकाशेंको सरकार एक ब्लॉगर से इतना क्यों डरती है कि उसने पकड़ने के लिए उसने तमाम अंतरराष्ट्रीय कायदों को ताक पर रख दिया?… Continue reading अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था को चुनौती