एक इंच जमीन नहीं खोई: नरवणे

चीन के साथ सीमा पर कई महीनों तक रहे गतिरोध के बाद दोनों देशों के सैनिकों के पीछे हटने के मसले पर सेना की ओर से पहली बार आधिकारिक प्रतिक्रिया दी गई है।

एक ठोस कूटनीतिक पहल

गुजरे हफ्ते ये अहम बात हुई कि भारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन शृंगला और थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने एक साथ म्यांमार पहुंचे। भारतीय विदेश नीति और कूटनीति में ऐसा अवसर कभी-कभार ही आता है, जब सेना और विदेश सेवा के शीर्ष अधिकारी साथ साथ दिखें।