• डाउनलोड ऐप
Friday, May 14, 2021
No menu items!
spot_img

arrest

संदेशों पर नेताओं की लट्ठबाजी

देशद्रोह और अशांति भड़काने के आरोप में दिल्ली की पुलिस ने तीन लोगों पर अपना शिकंजा कस लिया है। बेंगलुरु की सामाजिक कार्यकर्ता युवती दिशा रवि को गिरफ्तार कर ही लिया गया है

कहानी के लिए सबूत!

सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के समर्थक इको-सिस्टम ने किसान आंदोलन को लेकर यह कहानी शुरुआत से बनाई कि आंदोलनकारी असल में खालिस्तानी हैं। लेकिन ये अब तक ये कहानी लोगों के गले नहीं उतारने में उन्हें ज्यादा कामयाबी नहीं मिली है।

म्यांमार में गजब का जज्बा

म्यांमार में सैनिक तख्ता पलट के बाद इस बार वहां की जनता ने गजब का जज्बा दिखाया है। सैनिक शासकों की तमाम ज्यादतियों का विरोध करते हुए लगभग रोज ही दसियों हजार लोग शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन में भाग ले रहे हैं।

दिशा रवि की गिरफ्तारी, दिल्ली महिला आयोग ने भेजा पुलिस को नोटिस

दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को 21 वर्षीय पर्यावरण एक्टिविस्ट दिशा रवि की गिरफ्तारी के मामले में नोटिस जारी किया है।

22 साला दिशा पर देशद्रोह!

दिल्ली पुलिस ने ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि को गिरफ्तार करने के बाद आरोप लगाया है कि टूलकिट तैयार करने में दिशा के साथ दो और लोग शामिल थे।

दिशा को दुनिया, विपक्ष का समर्थन

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट माममे में गिरफ्तार पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि को देश के पूरे विपक्ष का समर्थन मिला है। कांग्रेस सहित लगभग सभी विपक्षी पार्टियों ने दिशा की गिरफ्तारी का विरोध किया है।

दिशा रवि की गिरफ्तारी पर भारत चुप नहीं रहेगा : राहुल

दिशा रवि की गिरफ्तारी के एक दिन बाद और 'टूलकिट' मामले को लेकर निकिता जैकब और शांतनु के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किए जाने के मद्देनजर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि भारत चुप नहीं रहेगा।

आप नेता संजय सिंह को सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तारी से दी राहत

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह सिंह को राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें उत्तर प्रदेश में उनके खिलाफ दर्ज सभी एफआईआर को लेकर गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है।

म्यांमार में सैन्य शासन के खिलाफ प्रदर्शन

म्यांमार के सबसे बड़े शहर यंगून में सैन्य तख्तापलट के खिलाफ रविवार को हजारों लोगों ने प्रदर्शन किया और देश की सर्वोच्च नेता आंग सान सू ची की रिहाई की मांग की।

जो अंदेशा था, वो हुआ

तो आखिरकार म्यांमार में सेना ने तख्ता पलट दी। नव निर्वाचित संसद की बैठक से ठीक पहले वाली रात में वहां एक दशक पहले वाली हालत बहाल कर दी गई। आंग सान सू ची सहित तमाम राजनेता जेल में डाल दिए गए।
- Advertisement -spot_img

Latest News

kinda weird : ऑस्ट्रेलिया में कोरोना के बाद आई एक और आफत..आसमान से होने लगी चूहों की बारिश..

कोरोना वायरस से अभी तक पुरी दुनिया उभर नहीं आई है और एक के बाद एक संकट आये जा...
- Advertisement -spot_img