arvind kejriwal government

दिल्ली के बिल पर कृषि बिल की कहानी!

कृषि कानूनों की तरह ही यह भी क्लासिक मामला है कि एक दर्जन से ज्यादा विपक्षी पार्टियों के एकजुट होने और बिल का विरोध करने के बावजूद सरकार इसे पास कराने में कामयाब रही।

विधायी कामों के लिए समय नहीं

केंद्र सरकार इसे इतना जरूरी मान रही थी कि उसने उसे संसदीय समिति के पास भेजना भी जरूरी नहीं समझा। इसके बावजूद केंद्रीय गृह मंत्री को इसकी बहस में शामिल होने का समय नहीं था।

NCR शासन विधेयक 2021 पर राज्यसभा में विरोध, ‘ऐसे तो उप राज्यपाल ही दिल्ली का सरकार बन जाएगा’

नई दिल्ली | यदि नया ‘‘राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन (संशोधन) विधेयक 2021’’ पारित हो गया तो उप राज्यपाल ही दिल्ली की सरकार बन जाएगा। यह गंभीर और खतरनाक है। चुनी हुई सरकार उप राज्यपाल की नौकर बन जाएगी। यह...

केजरीवाल ने सारा सद्भाव गंवा दिया

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अचानक समूचा सद्भाव गंवा दिया है। दिल्ली में भाजपा को चुनाव हरा कर उन्होंने देश भर के सेकुलर ब्रिगेड का जैसा समर्थन और सद्भाव हासिल किया था वह अभूतपूर्व था। कांग्रेस पार्टी के...

कन्हैया मामले पर चिदंबरम ने की दिल्ली सरकार की आलोचना

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने वर्ष 2016 के देशद्रोह मामले में जेएनयू के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार के खिलाफ मुकदमा चलाने की मंजूरी देने के लिए अरविंद केजरीवाल सरकार की आलोचना...

केजरीवाल सरकार का चेहरा बदलेगा!

क्या‍ इस बार अरविंद केजरीवाल सरकार का चेहरा बदलेगा? जानकार सूत्रों के मुताबिक इस बार कुछ नए चेहरे सरकार में शामिल किए जा सकते हैं। ध्यान रहे केजरीवाल ने अपनी 49 दिन की सरकार में जिन लोगों को मंत्री बनाया था उनको दूसरी सरकार में मौका नहीं दिया।
- Advertisement -spot_img

Latest News

अब डीजल भी सौ के पार!

नई दिल्ली। पेट्रोल के बाद अब डीजल की कीमत ने भी सौ रुपए प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर...
- Advertisement -spot_img