समानता की ओर कदम

ब्राजील अब उन देशों में शामिल हो गया है, जहां राष्ट्रीय टीम में खेलने वाली महिला फुटबॉलरों को पुरुषों के बराबर वेतन मिलेगा। गौरतलब है कि खेलों में लैंगिक आधार पर भेदभाव का इतिहास रहा है।