संघ परिवार: सीताराम गोयल की चेतावनी

सीताराम गोयल ने लिखा था कि, ‘‘किसी संगठन के जीवन में एक बिन्दु आता है जब अपनी ही चिन्ता करने में उस के मूल लक्ष्य ओझल हो जाते हैं।’’ उन्होंने चेतावनी दी थी: ‘‘आर.एस.एस. हिन्दू समाज को ऐसे फन्दे की ओर ले जा रहा है जिस से इस का निकल सकना शायद संभव न हो… Continue reading संघ परिवार: सीताराम गोयल की चेतावनी

संघ-परिवार: एकता का झूठा दंभ

उस से पहले तक डॉ. हेगडेवार की दलीय नीति बिलकुल ठीक थी। कि जिस स्वयंसेवक में राजनीति रुचि हो वह कांग्रेस में काम करे। यही चल भी रहा था। सेक्यूलरवादी, हिन्दूवादी, समाजवादी, आदि सभी उस में काम करते थे। लंबे समय तक हिन्दू सम्मेलन भी कांग्रेस पंडाल में होते थे। स्वतंत्र भारत में भी कांग्रेस… Continue reading संघ-परिवार: एकता का झूठा दंभ