अथ श्री बिच्छू-पुराण कथा…

बिच्छू जब जन्म लेता है तो उसकी मां नवजात बच्चे को पीठ पर बैठा कर सुरक्षित स्थान तक ले जाती है। मां की पीठ पर लदा यह बच्चा अपनी भूख मिटाने के लिए मां की पीठ को ही खाने लगता है।