बाल अपराधी बनाती संस्कृति

दिल्ली के एक सभ्रांत स्कूल के छात्रों ने इंस्टाग्राम ग्रुप पर जैसी बातें कीं, उससे लोग आवाक हैं। उस ग्रुप में सिर्फ दो छात्र बालिग उम्र के थे।