पोस्टर मामला : शीर्ष अदालत का उच्च न्यायालय के आदेश पर रोक से इंकार

उच्चतम न्यायालय ने लखनऊ में सीएए-विरोधी प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ के आरोपियों के पोस्टर लगाने की उत्तर प्रदेश सरकार की कार्रवाई का समर्थन करने के लिये फिलहाल कोई कानून नहीं होने की बात करते हुए

शाहीनबाग : बंद दुकानों ने फीकी कर दी होली की रौनक

नई दिल्ली। देशभर में जहां एक ओर रंगों को त्योहार पूरी धूम-धाम से मनाया जा रहा है, वहीं इस बार मौजूदा समय में शाहीनबाग स्थित बंद दुकानों ने त्योहार की रौनक फीकी कर दी है। दुकानों के स्थायी ग्राहकों ने अब अन्य जगहों से सामान खरीदना शुरू कर दिया है। सरिता विहार में रहने वाली… Continue reading शाहीनबाग : बंद दुकानों ने फीकी कर दी होली की रौनक

सोनिया को सौंपी रिपोर्ट, मिश्रा, प्रवेश, अनुराग पर कार्रवाई की मांग

दिल्ली हिंसा की जांच करने गये कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है और कहा है कि केंद्र तथा दिल्ली सरकार की विफलता के कारण दंगे हुए हैं इसलिए सच्चाई सामाने लाने के लिए उच्चतम न्यायालय या उच्च न्यायालय के न्यायाधीश की अध्यक्षता में दंगों की जांच कराने के आदेश दिए जाने चाहिए।

छुट्टी होने के बावजूद इलाहाबाद कोर्ट खुला

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में प्रदर्शन के दौरान हिंसा के आरोपियों की होर्डिंग्स लगाने के मामले में इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने नाराजगी जाहिर की है।

शाहीन बाग में दिन के समय नहीं जुट रही भीड़

शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में पिछले 84 दिनों से चल रहा प्रदर्शन अब फीका पड़ने लगा है।

उफ! कैसे रूकेगी बरबादी

क्या गपशप हो? न राजनीति, न आर्थिकी, न विदेश नीति, न धंधा, न मीडिया, न अदालत, न संस्थाएं, न सरकार, न संसद, न देश की सेहत मतलब भारत राष्ट्र-राज्य में फिलहाल सबकुछ तो रामभरोसे है। क्या किसी को समझ आ रहा है कि हमारा क्या होगा?  कॉलम को लिखने बैठा तो शेयर मार्केट 14 सौ… Continue reading उफ! कैसे रूकेगी बरबादी

क्या बज रहा भारत का डंका?

कहां तो हल्ला मचा था कि पूरी दुनिया में भारत का डंका बज रहा है और दावा किया जा रहा था कि पहली बार भारत की बात को दुनिया गंभीरता से सुन रही है। भाजपा और सरकार के मंत्रियों का भी दावा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से दुनिया में भारत की ताकत… Continue reading क्या बज रहा भारत का डंका?

दुनिया कैसे देख रही भारत को?

पहले ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने दिल्ली में हुई सांप्रदायिक हिंसा पर भारत के खिलाफ बोला। कहा कि यह सुनियोजित थी और केंद्र सरकार की ओर से प्रायोजित थी। भारत ने इस पर तीखी टिप्पणी की। साथ ही नई दिल्ली में ईरान के राजदूत अली चेगेनी को बुला कर नाराजगी भी जाहिर की।… Continue reading दुनिया कैसे देख रही भारत को?

सीएए पर केंद्र को नोटिस जारी

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने संशोधित नागरिकता कानून, सीएए की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाली एक पत्रकार की याचिका को सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया है और उस पर केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है। सर्वोच्च अदालत ने पत्रकार की याचिका को सीएए को चुनौती देने वाली बाकी 160 याचिकाओं के साथ… Continue reading सीएए पर केंद्र को नोटिस जारी

जामिया हिंसा के आरोपी को जमानत

दिल्ली की एक अदालत ने जामिया नगर इलाके में पिछले साल 15 दिसंबर को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के एक आरोपी को आज जमानत दे दी।

राहुल गांधी ने सीएए पर मुस्लिमों को भड़काया : बिधूड़ी

दिल्ली के भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी ने गुरुवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर मुस्लिम समुदाय को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ भड़काने का आरोप लगाया।

महान निष्क्रियता का दौर

प्रबंधन के कई गुरु बताते हैं कि फैसला नहीं करना भी एक किस्म का फैसला होता है। प्रबंधन गुरुओं के यह ज्ञान देने से बहुत पहले 1991 में देश के तब के प्रधानमंत्री पीवी नरसिंह राव ने इस गुरु मंत्र को अपनाया था। उन्होंने सरकार बनाने के चंद दिनों के बाद ही देश की अर्थव्यवस्था… Continue reading महान निष्क्रियता का दौर

दिल्ली-दंगे और भारत की छवि

दिल्ली में हुए दंगों के बाद दो अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रियाएं आईं, जो कि काफी गंभीर है। पहली तो है- संयुक्त राष्ट्र मानव अधिकार आयोग की और दूसरी है, ईरान की ! इस आयोग ने जिनीवा स्थित हमारे दूतावास को बताया है कि भारत के सर्वोच्च न्यायालय में वह एक मुकदमा करनेवाला है, जिसमें उसका तर्क होगा… Continue reading दिल्ली-दंगे और भारत की छवि

खुद का भंडा फोड़ रही यूएनएचआरसी

यूएनएचआरसी यानी संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद या तो भारत के अपने वामपंथी मित्रों और उनके झोलाछाप गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) के बहुत ज्यादा प्रभाव में है या फिर पाकिस्तान के इशारे पर काम कर रही है। उसने भारत की सुप्रीम कोर्ट में नागरिकता संशोधन क़ानून की संवैधानिक वैधता पर दायर मुकद्दमे में खुद को पार्टी… Continue reading खुद का भंडा फोड़ रही यूएनएचआरसी

खौफ फैलाते मुद्दे

देश में पिछले दो-तीन महीने से नागरिकता संशोधित कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को लेकर लेकर जिस तरह कोहराम मचा है

सीएए पर सुप्रीम कोर्ट पहुंचा संयुक्त राष्ट्र संघ

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त (यूएनएचसीएचआर) ने उच्चतम न्यायालय में मंगलवार को वादकालीन (हस्तक्षेप) याचिका दायर करके नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) 2019 को लेकर कुछ आपत्तियां दर्ज करायी है।

मेघालय की आग

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ और इनर लाइन परमिट व्यवस्था लागू करने की मांग को लेकर मेघालय में पिछले तीन दिन से जारी हिंसा में अब तक तीन लोग मारे जा चुके हैं।

मोदी के दूसरे कार्यकाल का क्या स्वरूप बना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा होने में अभी तीन महीने हैं। अगले महीने से सरकार एक साल पूरे होने के जश्न की तैयारियों में लगेगी और मंत्रालयों के रिपोर्ट कार्ड जारी होने लगेंगे।

प्रधानमंत्री को दिल्ली हिंसा पर बयान देना चाहिए : कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने सोमवार को संसद में दिल्ली हिंसा का मुद्दा उठाने के बाद मांग की कि प्रधानमंत्री को इस मुद्दे पर बोलना चाहिए। संसद परिसर में गांधी प्रतिमा पर विरोध प्रदर्शन करते हुए कांग्रेस ने कहा कि वह किसी अन्य मुद्दे पर आगे बढ़ने से पहले दिल्ली हिंसा पर पूरी बहस चाहती है।… Continue reading प्रधानमंत्री को दिल्ली हिंसा पर बयान देना चाहिए : कांग्रेस

दिल्ली हिंसा: उपराज्यपाल ने मोदी को स्थिति से अवगत कराया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए)के विरोधियों और समर्थकों के बीच हिंसा के मुद्दे पर आज उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की।

आर्थिकी की बजाय नागरिकता पर बहस

राजनीतिक विमर्श कैसे भटक जाता है, इसे समझना हो तो आज के मौजूदा राजनीतिक और सामाजिक हालात को देख कर सहज ही समझा जा सकता है। सोमवार से संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण शुरू होगा, जिसमें मंत्रालयों के हिसाब से बजट प्रावधानों पर चर्चा होगी और बजट पास कराया जाएगा। इससे ठीक पहले… Continue reading आर्थिकी की बजाय नागरिकता पर बहस

सीएए नागरिकता देने का कानून: शाह

गृहमंत्री अमित शाह ने आज नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के बारे में स्पष्टीकरण देते हुए कहा इसके तहत देश में 70 साल से रह रहे पाकिस्तान, बंगलादेश और अफगानिस्तान से विस्थापित लोगों को नागरिकता देना है।

अलीगढ़ में सीएए विरोधी प्रदर्शन स्थल खाली कराया

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में प्रशासन ने शनिवार को जीवनगढ़ में क्वारसी बाईपास अनूप शहर मार्ग पर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को हटा दिया।

क्या हिंसा रोकनी मुश्किल थी?

दिल्ली में चार दिन तक चले दंगे को समझने के प्रयास में एक बात सबसे ज्यादा सोचने वाली है कि क्या सचमुच दंगा रोकना मुश्किल था? इसके जवाब के लिए पूरी क्रोनोलॉजी समझनी होगी। असल में दिल्ली में दंगे के हालात पिछले कई महीने से बन रहे थे। 11-12 दिसंबर को जब संसद में संशोधित नागरिकता कानून, सीएए पास हुआ तभी से तनाव बढ़ना शुरू हो गया था।

सीएए पर झूठ बोल रहा विपक्ष: शाह

भुवनेश्वर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने संशोधित नागरिकता कानून, सीएए को लेकर विपक्ष पर तीखा हमला किया है। उन्होंने विपक्ष पर झूठ फैलाने का आरोप लगाते हुए सीएए से इस देश के किसी नागरिक की नागरिकता नहीं जाएगी। भुवनेश्‍वर में एक सभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने विपक्षी पर हमला किया और… Continue reading सीएए पर झूठ बोल रहा विपक्ष: शाह

शाह का विपक्ष पर दंगा भड़काने का आरोप

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने विपक्षी दलों पर आज हमला करते जनता में भ्रांति और उकसा कर दंगे फैलाने का आरोप लगाते हुए एक बार फिर दोहराया कि नागरिकता (संशोधन) कानून (सीएए) से देश के एक भी मुसलमान, एक भी अल्पसंख्यक की नागरिकता को आंच नहीं आयेगी।

दंगे की सुनवाई कर रहे जज का तबादला

उत्तर पूर्वी दिल्ली में सीएए को लेकर दंगा हुआ। हाईकोर्ट में मुकदमा पहुंचा। दिल्ली हाईकोर्ट ने सरकार को फटकार लगाई। कहा, दिल्ली में दूसरा 1984 नहीं होने देंगे।

केजरीवाल की क्या कोई जिम्मेदारी नहीं?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राष्ट्रीय राजधानी में चल रही हिंसा के बीच अपनी पार्टी के नेताओं और मंत्रियों के साथ महात्मा गांधी की समाधि राजघाट गए और वहां सत्याग्रह जैसा कुछ किया। उन्होंने गांधी की समाधि पर दिल्ली में शांति के लिए प्रार्थना की। यह असल में केजरीवाल की अनेकानेक नौटंकियों का ही एक… Continue reading केजरीवाल की क्या कोई जिम्मेदारी नहीं?

खतरनाक मोड़ लेती हालत

दिल्ली की हिंसा ने खतरनाक मोड़ ले लिया। इसे किसने शुरू किया यह एक सवाल है। मगर उससे बड़ा सवाल पुलिस पर है। जिस तरह के वीडियो सामने आए, उससे यह शक पैदा हुआ कि कई जगहों पर हिंसा पुलिस के संरक्षण में हुई। फिलहाल कुल मिलाकर राजधानी दिल्ली में स्थिति बहुत संवेदनशील बनी हुई… Continue reading खतरनाक मोड़ लेती हालत

दिल्ली में अब तक 27 मौत!

राष्ट्रीय राजधानी में 1984 के सिख विरोधी दंगों के बाद सबसे बड़ी सांप्रदायिक हिंसा में अब तक 27 लोगों की जान जा चुकी है और करीब ढाई सौ लोग घायल हुए हैं।