अराजनीतिक चेहरों पर भाजपा का दांव

स्वपन दासगुप्ता को इसी राजनीति के तहत भाजपा ने राज्यसभा से इस्तीफा दिला कर विधानसभा चुनाव में उतारा है। भाजपा उनके नाम के जरिए बंगाल के लोगों में खास कर भद्रलोक में मैसेज बनवाना चाहती है।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 : BJP में सीएम पद के दावेदारों की भरमार, कई चौंकाने वाले नाम भी शामिल

भारतीय जनता पार्टी पश्चिम बंगाल के चुनाव में कितनी सीटें जीतेगी यह तय नहीं है। यानी विधायक कितने होंगे यह पता नहीं है पर उससे पहले ही मुख्यमंत्री के दर्जनों दावेदार हो गए हैं।

बिहार में कितने सीएम दावेदार?

इस बार बिहार में मुख्यमंत्री पद के दावेदारों की बहार है। आधा दर्जन मुख्यमंत्री दावेदार मैदान में हैं। इनमें से एक को छोड़ कर बाकी लोग चुनाव बाद मुख्यमंत्री के पूर्व दावेदार के तौर पर अपना परिचय देंगे। बहरहाल, बिहार में पहले कभी मुख्यमंत्री के दावेदार के तौर पर ज्यादा लोग चुनाव नहीं लड़ते थे।

क्या प्रियंका बनेंगी सीएम उम्मीदवार?

कांग्रेस पार्टी को इस बारे में फैसला करना है। जल्दी फैसला करना है। अगर छह महीने के भीतर कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव होना है तो उससे पहले इस बारे में फैसला करना है। कांग्रेस के जानकार सूत्रों का कहना है कि पहले प्रियंका का फैसला होगा उसके बाद राहुल के बारे में फैसला किया जाएगा

सीएम के चेहरे पर दोहरा रवैया

भारतीय जनता पार्टी रणनीतिक मसलों पर सुविधा के सिद्धांत से काम करती है। राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने मुख्यमंत्री पद का दावेदार नहीं पेश किया तो भाजपा के नेताओं ने कांग्रेस का जीना हराम किया हुआ था।

दिल्ली में भाजपा के सीएम का सवाल

दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के ऊपर मुख्यमंत्री पद का दावेदार पेश करने का दबाव बढ़ गया है। कहा जा रहा है कि पार्टी इस हफ्ते चुनाव की घोषणा के साथ ही अपना चेहरा भी पेश कर सकती है। पर पार्टी इतनी बार दावेदार पेश करके हाथ जला चुकी है उसको किसी का चेहरा पेश करने में डर लग रहा है।

प्रियंका क्या सीएम पद की दावेदार?

कांग्रेस पार्टी प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद का दावेदार बना सकती है। पार्टी ने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है। पार्टी के जानकार सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस की राष्ट्रीय राजनीति की कमान राहुल गांधी के हाथ में ही रहनी है। दूसरी बात कांग्रेस के नेता यह कह रहे हैं कि अगर 2024 के आम चुनाव में कांग्रेस को भाजपा के सामने गंभीर चुनौती देनी है

दिल्ली में भाजपा के कंफ्यूजन का खेल

दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री पद को लेकर कंफ्यूजन बनाने का काम शुरू कर दिया है। भाजपा हर जगह यह दांव चलती है। जिन राज्यों में मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित नहीं होता है वहां उसके नेता चुनाव से पहले हर समुदाय के लोगों को यह मैसेज देते हैं कि उनके समुदाय का नेता मुख्यमंत्री बन सकता है।

अगर रास्ते की परवाह करुंगा तो मंजिल बुरा मान जाएगी : राउत

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के शिवसेना को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किए जाने के बीच पार्टी के नेता संजय राउत ने सोमवार को कहा कि अगर रास्ते की परवाह की तो मंजिल बुरा मान जाएगी।

गौतम गंभीर क्या सीएम का चेहरा होंगे?

क्या‍ पूर्व टेस्ट क्रिकेटर गौतम गंभीर दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी का चेहरा होंगे? यह लाख टके का सवाल है, जिसका जवाब सिर्फ नरेंद्र मोदी या अमित शाह दे सकते हैं। पर दिल्ली में विधानसभा चुनाव से पहले इसकी चर्चा शुरू हो गई है कि भाजपा पिछली बार की तरह एक बार फिर दिल्ली में सबको चौंका सकती है।