community campaign

  • झारखंड में खामोश क्रांति से नदियों को मिल रहा नया जीवन

    रांची। झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची से बमुश्किल 30 किलोमीटर दूर खूंटी (Khunti) जिले में एक खामोश क्रांति चल रही है। यहां की छोटी-छोटी नदियों में तपती हुई गर्मी के बीच भी पानी है। सैकड़ों गांवों में जल स्रोतों में पर्याप्त पानी है। खेतों की सिंचाई, मवेशियों के चारा-पानी, नहाने-धोने के लिए पानी (water) की कमी नहीं है। खूंटी जिले के कर्रा, मुरहू से लेकर अड़की, खूंटी और तोरपा प्रखंडों में मरती हुई नदियों, प्राकृतिक नालों, जल स्रोतों को पिछले पांच सालों से चल रहे एक सामुदायिक अभियान (community campaign) ने नई जिंदगी दी है। स्थानीय ग्रामीणों, ग्राम सभाओं के...