लैंगिक समानता के लिए उपाय करना जरूरी : सीजेआई

भारत के मुख्य न्यायाधीश् (सीजेआई) शरद अरविंद बोबडे ने आज कहा कि न्यायपालिका संवैधानिक मूल्यों की संरक्षक है और कानून के शासन की प्रतिबद्धता के साथ जनवादी ताकतों की सेवा करती है।