न्यू इंडिया के विजन में युवाओं की प्रमुख भूमिका : पोखरियाल

शिमला। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ने शुक्रवार को कहा कि युवाओं को न्यू इंडिया के विजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। उन्होंने कहा कि और केंद्र सरकार नई शिक्षा नीति ला रही है। उन्होंने यहां हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के 25वें दीक्षांत समारोह की अध्यक्षता की। कुल 448 डिग्री व गोल्ड मेडल प्रदान किए गए, जिसमें से 276 महिलाओं को दिए गए। विवेक कुमार को डी.लिट की डिग्री प्रदान की गई, जबकि अफगानिस्तान के मोहम्मद शरीफ शाहीन को लोक प्रशासन ने गोल्ड मेडल प्रदान किया गया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत अपने ज्ञान के कारण सदा से ‘विश्व गुरु’ के रूप में प्रसिद्ध रहा है। भारत, वैश्विक भाईचारे व शांतिपूर्ण सह अस्तित्व में यकीन रखता है। इसे भी पढ़ें : भाजपा की आर्थिक नीतियों पर सभी को संदेह: मनमोहन उन्होंने कहा कि जो जीवन की चुनौतियों को स्वीकार करते हैं, उनके लिए चुनौतियां अवसर बन जाती हैं। उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया व स्किल इंडिया जैसी योजनाओं के शुरुआत से युवाओं के लिए स्वरोजगार व रोजगार के पर्याप्त अवसर पैदा हुए हैं।

ज.ने.वि.: यह कैसा दीक्षांत ?

जवाहरलाल नेहरु वि.वि. के सैकड़ों छात्रों ने जो शिक्षा मंत्री डा. रमेश निशंक को कल घंटों घेरे रखा है, यह बड़ी खबर बनी। आजकल मैं मुंबई में हूं। यहां के अखबारों में भी इस खबर को काफी प्रमुखता मिली है। कुछ दिन पहले कलकत्ता में भी यही हुआ था।

नायडू ने किया शिक्षण और अनुसंधान में बदलाव लाने का आह्वान

उप राष्ट्रपति एम. वैकेंया नायडू ने देश को ज्ञान एवं नवाचार का एक अग्रणी केन्द्र बनाने के लिए शिक्षण से लेकर अनुसंधान तक की समूची शिक्षा प्रणाली में व्यापक बदलाव लाने का आह्वान किया है।

और लोड करें