महामारी, मानवता और मुनाफा

मानवीय दृष्टि से देखें तो महामारी के वक्त मुनाफे की फिक्र किसी भी रूप में जायज नहीं कही जा सकती। लेकिन दुनिया की बड़ी दवा कंपनियां अपने इस लालच को छोड़ने को तैयार नहीं हैं।