OMG! डॉक्टर के ऑक्सीजन मास्क पहनने के निर्देश से भड़क गया कोरोेना संक्रमित, सलाइन स्टैंड से कर दिया हमला

मुंबई | Doctor Attacked By Infected Patient : देश में कोरोना के साथ हुई इस लड़ाई में सबसे ज्यादा योगदान डॉक्टरों का ही रहा है. उसके बाद भी कई बार ऐसे मामले सुनने को मिले हैं जो शर्मनाक हैं. ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले से सामने आया है. अलीबाग स्थित सरकारी अस्पताल में कोविड-19 का इलाज करा रहे 55 वर्षीय मरीज ने कथित तौर पर सलाइन चढ़ाने वाले स्टैंड से डॉक्टर पर उस समय हमला कर दिया जब उसने मरीज से बार-बार ऑक्सीजन मास्क नहीं हटाने को कहा. डॉक्टर ने बताया कि यह घटना बुधवार की सुबह अलीबाग सिविल अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में हुई. मरीज के द्वारा किये गये इस हमले में डॉक्टर स्वपनदीप थाले को चोटें आई हैं और उन्हें इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. सलाइन स्टैंड से किया हमला Doctor Attacked By Infected Patient : डॉक्टर का कहना है कि मरीज का पिछले चार दिन से अस्पताल में इलाज चल रहा था. राउंड पर आए डॉक्टर ने उससे कहा कि वह बार-बार ऑक्सीजन मास्क नहीं हटाएं. लेकिन बार-बार कहने के बाद भी मरीज डॉक्टर की कुछ भी बात सुनने को तैयार नहीं था. डॉक्टर के इस निर्देश से मरीज नाराज हो गया.… Continue reading OMG! डॉक्टर के ऑक्सीजन मास्क पहनने के निर्देश से भड़क गया कोरोेना संक्रमित, सलाइन स्टैंड से कर दिया हमला

Real Fighter Of Corona : 10 महीने तक संक्रमित रहने के बाद परेशान होकर अपनी पत्नी से कहा – प्लीज मुझे अब मरने दो …

नई दिल्ली | Real Fighter Of Corona: कोरोना के दौर में विश्वभर से अजीबोगरीब मामले सामने आए हैं. ऐसा ही एक मामला यूनाइटेड किंगडम (UK) से भी सामने आया है. यहां इंग्लैंड में रहने वाले 72 साल के व्यक्ति की 43 बार कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. लगातार आ रही पॉजिटिव रिपोर्ट से परेशान होकर इस व्यक्ति ने अपनी पत्नी और परिवार वालों से कहा कि अब मुझे मरने दो. लेकिन इसके बाद भी परिवार वालों और पत्नी ने हार नहीं मानी और उनका इलाज करते रहे. बताया जा रहा है कि यह व्यक्ति लगभग 10 महीनों तक कोरोना से संक्रमित रहा और इससे लड़ता रहा. दुनिया भर में यह व्यक्ति सबसे ज्यादा समय तक पूर्णा से संक्रमित रहने वाला माना जा रहा है. इस व्यक्ति को संक्रमण के दौरान 7 बार अस्पताल में भर्ती किया गया. कई रात 4 से 5 घंटे तक खांसता रहा Real Fighter Of Corona : डेव स्मिथ नाम का जो व्यक्ति पैसे से रिटायर ड्राइविंग इंस्ट्रक्टर है. बीबीसी को दिए गए एक इंटरव्यू में स्मिथ ने बताया कि उसके शरीर में इतना दिन तक वायरस रहने से उसकी एनर्जी पूरी तरह से खत्म हो गई थी. उसने बताया कि उसे बिस्तर से उठने के… Continue reading Real Fighter Of Corona : 10 महीने तक संक्रमित रहने के बाद परेशान होकर अपनी पत्नी से कहा – प्लीज मुझे अब मरने दो …

आसाराम बाबा….अब तो जेल में जाना ही पड़ेगा

जोधपुर |  आसाराम बाबा कुछ महीनों पहले कोरोना संक्रमित हो गया था। जिसके बाद उसके स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। जिसके बाद से वह हॉस्पिटल में भर्ती है। लेकिन अब आसाराम ही सुधरने लगी है। खबर है कि आने वाले दो से तीन दिन में आसाराम को हॉस्पिटल से छुट्टी मिल जाएगी। और फिर से आसाराम की रातें जेल में कटेगी। जैसे ही आसाराम को डिस्चार्ज मिलेगा वैसे ही उसको जेल में बंद कर दिया जाएगा। आपतो बता दें कि आसाराम को नाबालिक छात्रा से यौन उत्पीडऩ के आरोप में मरते दम तक जेल की सजा सुनाई गई थी। आसाराम भी अब खुद को पहले से काफी अच्छा महसूस कर रहा है। जोधपुर एम्स में करीब एक सप्ताह से भर्ती आसाराम की सेहत में अच्छा सुधार देखने को मिल रहा है। पोस्ट कोविड दिक्कतों से उसे काफी हद तक निजात मिल चुकी है। साथ ही उसका यूरिन इंफेक्शन भी नियंत्रित हो गया है।  आसाराम के भक्त लगातार मिलने पहुंच रहे है आसाराम के ठीक होते ही उकी मुश्किलों फिर से बढ़ने वाली है। क्योंकि अस्पताल से छुट्टी मिलते ही उको जेल में शिफ्ट कर दिया जाएगा। कहा जा रहा हैं कि आसाराम की तबीयत में सुधार जल्दी हो… Continue reading आसाराम बाबा….अब तो जेल में जाना ही पड़ेगा

Corona Relief : वैज्ञानिकों ने बच्चों के लिए खास तैयार की ‘लॉलीपॉप टेस्टिंग किट’, जानें क्या है खास

नई दिल्ली |  कोरोना की तीसरी लहर को लेकर वैज्ञानिकों की भविष्यवाणी पर लगातार काम हो रहा है. इसी कड़ी में अब विशेषज्ञों ने बच्चों कोरोना टेस्ट करने के लिए एक नई तकनीक आजाद किया है. वैज्ञानिकों ने बच्चों के लिए  तैयार किये गये टेस्ट का नाम भी बच्चों के हिसाब से लॉलीपॉप टेस्टिंग किट दिया है. डॉक्टरों की टीम ने इसे एक लॉलीपॉप की तरह ही डिज़ाइन किया है. जिस बच्चे का कोरोना टेस्ट किया जाना है उसे या लॉलीपॉप चूसने के लिए दे दिया जाता है. थोड़ी देर बच्चे के इसे चूसने के बाद इसमें लगे स्टीकर में बच्चे का स्वैब का नमूना आ जाता है और उसे बाद में जांच के लिए लैब भेज दिया जाता है. लॉलीपॉप टेस्टिंग किट के स्वाद पर भी विशेष ध्यान बता दें कि इस लॉलीपॉप टेस्टिंग किट से ऑस्ट्रिया में किंडर गार्डन के बच्चों पर इसका पहला टेस्ट भी किया जा चुका है. भारत के साथ दुनिया भर के देश अपने बच्चे को सुरक्षित करने के लिए प्रयासरत हैं. कई देशों की सरकारें अब बच्चों पर विशेष ध्यान दे रही है. विशेषज्ञों का कहना है कि इस तकनीक से बच्चों को किसी तरीके की परेशानी नहीं होती और उनका आसानी से स्वैब लिया… Continue reading Corona Relief : वैज्ञानिकों ने बच्चों के लिए खास तैयार की ‘लॉलीपॉप टेस्टिंग किट’, जानें क्या है खास

कोविड नाखून क्या है?? कहीं नाखूनों में बदलाव कोरोना संक्रमित होने की निशानी तो नहीं..

delhi: वर्ष 2020 में कोरोना ने भारत में प्रवेश किया था तब कोरोना के शुरुआती लक्षण थे जुकाम, खांसी, छींकना, बुखार इत्यादि। लेकिन अब दूसरी लहर के आते-आते कोरोना ने शरीर के प्रत्येक हिस्से में अपना असर छोड़ा हैं। लेकिन अब एक स्टडी में खुलासा हुआ है कि कोरोना ने नाखूनों पर भी प्रभाव डालना शुरु कर दिया हैं। कई सप्ताह बाद उनका आकार बदलने लगता है – इसे  कोविड नाखून कहा जाता है। एक लक्षण में नाखूनों में लाल रंग की अर्ध-चंद्र की आकृति बनने लगी है। लोगों के नाखूनों के रंग फीके होने लगे हैं। ऐसा लगता है कि यह कोविड से जुड़ी नाखून की अन्य शिकायतों से पहले ही मौजूद था, रोगियों ने कोविड संक्रमण का पता लगने के दो सप्ताह से भी कम समय में इसे देखा है। कई मामले सामने आए हैं – लेकिन बहुत ज्यादा नहीं। कोरोना अपने साथ अनेकों बीमारियां लेकर आया है जिसने लोगों की जानें ली हैं। यह अब शरीर के प्रत्येक हिस्सें में असर डालने लगा हैं। कोरोना के कारण आया ब्लैक फंगस, जिसने कोरोना के मामले कम होने के बाद भी अपना आतंक मचा रखा हैं। लेकिन अभी यह निश्चित तौर पर नहीं कहा जा सकता है कि नाखूनों… Continue reading कोविड नाखून क्या है?? कहीं नाखूनों में बदलाव कोरोना संक्रमित होने की निशानी तो नहीं..

सास-बहू : ‘होम आइसोलेशन ‘ में हो गई बोर तो बहू को भी जबरन गले लगाकर कर दिया संक्रमित

नई दिल्ली | कोरोना संक्रमण के दौरान कई बार ऐसी भी खबरें सुनने को मिली जिस पर विश्वास करना मुश्किल था. एक बार फिर से तेलंगाना के सोमरीपेटा गांव से एक अजीबोगरीब मामला सुनने को मिला है. जानकारी के अनुसार होम आइसोलेशन में रहते हुए इतनी ज्यादा चिढ़ गई कि उसने जबरन अपनी बहू को गले लगा लिया. बताया जा रहा है कि सास घर के एक कमरे में अकेली बंद पड़े-पड़े परेशान हो गई यही कारण है कि उसने यह कदम उठाया. सबसे बड़े आश्चर्य की बात यह है कि गले लगाने के बाद जब बहू का कोरोना टेस्ट किया गया क्या बहू कोरोना संक्रमित पाई गई. बहू को संक्रमित करने के बाद बहन के घर चली गई सास बहू को को गले लगाकर कोरोना संक्रमित करने के बाद बेटे बहू ने महिला को उनकी बहन के घर भेज दिया. महिला की बहन उसे अपने साथ अपने घर ले आई. अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की माने तो बहू ने बताया कि उसकी सास और उसकी काफी अच्छी बनती थी लेकिन वहां से संक्रमित होने के बाद वह काफी चिड़चिड़ा के रहने लगी. बहू ने बताया कि तभी एक दिन अचानक सांस में जबरन उसे गले लगा लिया इसके… Continue reading सास-बहू : ‘होम आइसोलेशन ‘ में हो गई बोर तो बहू को भी जबरन गले लगाकर कर दिया संक्रमित

तार-तार हुए रिश्ते: जानें, बाप की नौकरी को ‘हां’ और मां के शव को ‘ना’ कहने वाले निर्दयी बेटे की कहानी, बेटियों ने मां के शव को दिया कांधा और किया अंतिम संस्कार

Ranchi: कोरोना की दूसरी लहर के दौरान कई ऐसी अमानवीय खबरें सामने आई हैं जिससे मानवता शर्मसार हो गई है. ऐसा ही एक मामला झारखंड की राजधानी रांची से सामने आया है. एक निर्दई बेटे ने दरवाजे पर खड़ी एंबुलेंस को देखकर अपने घर के दरवाजे बंद कर दिए. जानकारी के अनुसार एंबुलेंस से बेटे की ही मां का पार्थिव शरीर घर पहुंचा था. लेकिन बेटे ने मां के शव को घर में लाने से साफ इनकार कर दिया और अपनी पत्नी के साथ अपने घर का दरवाजा बंद कर दिया. यहां यह स्पष्ट कर दें कि मृतक मां का वह इकलौता पुत्र था जिसने अपनी मां को घर के आंगन में अंतिम बार भी जगह नहीं दी. बहने गिड़गिड़ाती रही मुंह फेर गया भाई मां का पार्थिव शरीर जब एंबुलेंस से घर पहुंचा तो बेटे और बहू ने शव को घर में घुसाने से मना कर दिया. बेटी का कहना था कि उसकी मां की मृत्यु कोरोना संक्रमण के कारण हुई है ऐसे में यदि घर में मां के पार्थिव शरीर को लाया गया तो घर वालों के भी संक्रमित होने का डर है. जबकि बेटियों और अस्पताल प्रबंधन का कहना था कि उनकी मां को कोरोना नहीं था… Continue reading तार-तार हुए रिश्ते: जानें, बाप की नौकरी को ‘हां’ और मां के शव को ‘ना’ कहने वाले निर्दयी बेटे की कहानी, बेटियों ने मां के शव को दिया कांधा और किया अंतिम संस्कार

CM Tirath singh Rawat के नाक के नीचे से अस्पताल प्रबंधन ने छिपाए 65 संक्रमित मौतों के आंकड़ें

Dehradun: देश में कोरोना की दूसरी लहर से अभी भी हालत खराब है. इन हालातों में भी देश के कुछ राज्यों के सीएम की ओर से हास्यपद बयान आए हैं. इनमें सबसे उपर शामिल है उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत का नाम. बता दें कि हाल में ही सीएम तीरथ सिंह ने कोरोना के कहर के बीच एत अजीब बयान दिया था. तीरथ सिंह ने कहा था कि कोरोना का भी घर परिवार है. सीएम के इस बयान के बाद से उनकी काफी फजीहत भी हुई थी. अब उत्तराखंड के हरिद्वार से एक बार फिर बड़ा लापरवाही की खबर सामने आई है. जानकारी के अनुसार हरिद्वार के एक निजी अस्पताल ने कथित तौर पर नियमों का खुला उल्लंघन करते हुए एक पखवाडे़ से भी ज्यादा समय तक स्वास्थ्य अधिकारियों से अपने यहां हुई कोविड मरीजों की मौतों की संख्या छिपाई है. अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी. हरिद्वार के बाबा बर्फानी अस्पताल में 25 अप्रैल से लेकर 12 मई के बीच 65 कोविड मरीजों की मृत्यु हुई लेकिन अस्पताल प्रशासन ने राज्य कोविड नियंत्रण कक्ष से ये आंकडे़ छिपा लिए. अस्पताल प्रबंधन ने बनाए कई बहानें इस संबंध में राज्य कोविड नियंत्रण कक्ष के अधिकारियों ने बताया कि जब अस्पताल… Continue reading CM Tirath singh Rawat के नाक के नीचे से अस्पताल प्रबंधन ने छिपाए 65 संक्रमित मौतों के आंकड़ें

Shameless : संक्रमित पिता के लिए पड़ोसी से ऑक्सीजन मांगने पहुंची बेटी के सामने रखी ऐसी शर्त, सुनकर आपका भी खून खौल जाएगा

New Delhi: देशभर में कोरोना की दूसरी लहर से हाहाकार मचा हुआ है. रोज चार लाख के करीब नए मरीज सामने आ रहे हैं. इसके साथ ही 4000 से ज्यादा मौतों से देश की स्थिति नाजुक बनी हुई है. इन परिस्थितियों के साथ ही देश के लोग स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं के लिए भी संघर्ष करते नजर आ रहे हैं. देश के कई राज्यों में ऑक्सीजन की कमी से कोरोना संक्रमित मरीजों की जान जा रही है. कोई शक नहीं है कि कई लोग अपने रसूख का प्रयोग कर ऑक्सीजन रख रहे हैं. ऐसा ही मानवता को शर्मसार करने वाला एक मामला सामने आया है. दिल्ली की एक महिला ने जब अपने कोरोना से संक्रमित पिता के लिए अपने एक पड़ोसी से ऑक्सीजन की मांग की तो पड़ोसी ने सभी हदें पार करते हुए उसे अपने साथ सोने को कह दिया. My friend’s sister like my baby sister was asked by a neighbour in an elite colony to sleep with him for an oxygen cylinder that she desperately needed for her father; What action can be taken because the b* will obviously deny, no?#HumanityIsDead — Bhavreen Kandhari (@BhavreenMK) May 11, 2021 सोशल मीडिया के माध्यम से प्रकाश में आया मामला यह… Continue reading Shameless : संक्रमित पिता के लिए पड़ोसी से ऑक्सीजन मांगने पहुंची बेटी के सामने रखी ऐसी शर्त, सुनकर आपका भी खून खौल जाएगा

OMG : वैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक के 50 कर्मचारी कोरोना संक्रमित,सोशल मीडिया यूजर्स ने कहा कि कर्मचारियों का टीकाकरण क्यों नहीं..

भारत में कोरोना काल बनकर लोगों की जान ले रहा है। एक के बाद एक बूरी खबर मिल रही है। लेकिन भारत की ही दो कंपनियों ने भारतीय जनता को सबसे बड़ी खुशी दी थी- कोरोना की वैक्सीन बनाकर। सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन और कोविशील्ड बनाई है। लेकिन कोरोना ने वैक्सीन बनाने वालों पर भी वार किया है। भारत बायोटेक के 50 कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले है। भारत बायोटेक की संयुक्त प्रबंध निदेशक सुचित्रा ईला के अपने 50 कर्मचारियों के कोविड-19 से संक्रमित पाए जाने की जानकारी ट्विटर पर साझा की थी। लेकिन इस पर कुछ लोग तारीफों के पुल बांध रहे थे तो कुछ आलोचना कर रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि कोवैक्सीन लोगों की जिंदगी बचा रही है जबकि कुछ ने सवाल किया कि कर्मचारियों को टीका क्यों नहीं लगाया गया। जो लोग वेक्सीन बनाकर लोगों की जिंदगी बचा रहे है उन्हें ही कोरोना हो गया। इसे भी पढ़ें WHO ने इशारों में कहा – चुनाव और कुंभ के कारण फैला कोरोना ,इवेंट्स में बरती गई कोताही संक्रमित होने के बाद भी काम कर रही कंपनी कोविड-19 रोधी टीके कोवैक्सीन की आपूर्ति बाधित होने पर कुछ नेताओं की टिप्पणियों पर ईला ने बुधवार को… Continue reading OMG : वैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक के 50 कर्मचारी कोरोना संक्रमित,सोशल मीडिया यूजर्स ने कहा कि कर्मचारियों का टीकाकरण क्यों नहीं..

Bihar : जब अपनों ने साथ छोडा तब BDO डॉ. बी एन सिंह ने दी मुखाग्नि, किया अंतिम संस्कार

मुजफ्फरपुर | कोरोना काल में ऐसे तो आम तौर पर कई बार इंसानी रिश्तों को शर्मसार होने की खबरें आती हैं, लेकिन इस दौर में मानवता की मिसाल पेश करने वालों की भी कमी नहीं है। ऐसा ही एक मामला बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर जिले के बिरूआ पंचायत (Birua Panchayat) में देखने को मिला जब दो दिनों से कोरोना संक्रमित का शव अंतिम संस्कार के लिए पड़ा रहा। उनके अपनों ने ही उनका अंतिम संस्कार (Funeral) कराने से मना कर दिया था। तब सरैया प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी डॉ. बी एन सिंह (Dr. B N Singh) ने मृत शरीर को सम्मानजनक अंत्येष्टि कर ‘अपनो का हक अदा किया। मुजफ्फरपुर पश्चिमी अनुमंडल के बिरूआ पंचायत ((Birua Panchayat)) के पगहिया गांव निवासी और ऑटो चालक योगेन्द्र सिंह (50) की मौत तीन दिन पहले घर में हो गई। मृतक को पहले से दमा और खांसी की समस्या थी। योगेन्द्र सिंह की मौत के बाद उनके सभी परिजन और पट्टीदार (गोतिया) कोरोना से मौत के कारण अन्यत्र चले गए और घर में सिर्फ मृतक की पत्नी और दो बच्चे बच गए। मृतक के परिजनों ने गांव वालों से अंतिम संस्कार की गुहार लगाई, लेकिन गांव का कोई भी व्यक्ति इसके लिए तैयार नहीं… Continue reading Bihar : जब अपनों ने साथ छोडा तब BDO डॉ. बी एन सिंह ने दी मुखाग्नि, किया अंतिम संस्कार

MS Dhoni के घर आया नया मेहमान, पत्नी साक्षी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी जानकारी

Ranchi: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी  MS Dhoni IPL के खत्म होने के बाद से आइसोलेट पर हैं. अब धोनी  की पत्नी साक्षी सिंह धोनी  (Sakshi Singh Dhoni) ने जानकारी दी है कि उनके घर पर एक मेहमान आया है. इस संबंध में साक्षी ने एक सोशल मीडिया वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें उन्होंने अपने घर में एक नए मेहमान की झलक दिखायी है. दरअसल, साक्षी धोनी के नये मेहमान का मतलब एक घोड़ा है. जिसे साक्षी ने चेतक का नाम दिया है. साक्षी ने पोस्ट शेयर कर कहा है कि  चेतक आपका घर में स्वागत है. आप एक सच्चे जेंटलमैन हैं, जब आपने लिली (कुत्ता) से मुलाकात की. हम आपको अपने परिवार में खुशी से अपनाते हैं. वीडियो में ‘चेतक’ धौनी के कुत्ते लिली के साथ खेलता हुआ नजर आ रहा है  जिसका वीडियो साक्षी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है. बता दें कि धौनी को जानवारों से भी बहुत लगाव है, उन्होंने कई नस्ल के कुत्ते भी पाल रखा है.   View this post on Instagram   A post shared by Sakshi Singh Dhoni (@sakshisingh_r) नेचर लवर हैं धौनी, जानवरों से भी है गहरा प्रेम महेंद्र सिंह धोने के बारे में कहा जाता… Continue reading MS Dhoni के घर आया नया मेहमान, पत्नी साक्षी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी जानकारी

जज्बे को सलाम:पिता की मौत के बाद अगले दिन से  डॉक्टर बेटे ने शुरू किया काम, मां और भाई अभी भी संक्रमित 

Pune : कोरोना काल में एक बार फिर से ऐसे सच्चे लोगों की कहानी सामने आ रही है जो काफी भावुक होने के साथ ही प्रेरणादायक भी है. एक ओर कुछ ऐसे लोग हैं जो कोरोना के इस प्रकोप के बाच भी आवश्यक सामानों की काला बाजारी करते हुए पैसे कमाने में लगे हुए हैं. दूसरी ओर कई ऐसे लोग भी हैं जो कोरोना के बढ़ते प्रकोप में भी आदर्श बनकर  सामने  आ रहे हैं और अपने काम  करने के ढंग से मानवता को नई परिभाषा दे रहे हैं. ऐसे ही एक मामला पुणे से सामने आया है. पुणे  के एक निजी अस्पताल में 45 वर्षीय एक डॉक्टर ने कोविड-19 से अपने पिता की मौत के अगले दिन ही ड्यूटी शुरू कर दी. ये सुनकर हर कोई उनकी तारीफ करते नहीं थक रहा है. सोशल मीडिया पर भी  लोग डॉक्टर की तस्वीर को शेयर करते हुए जमकर वायरल कर रहे हैं और अपने-अपने ढ़ंग से शुक्रिया अदा कर रहे हैं. मां और भाई अभी कोरोना संक्रमित डॉ. मुकुंद पेनुरकर और उनकी पत्नी कोविड-19 के मरीजों के इलाज में जुटे हैं.  पेनुरकर ने कहा कि मरीजों की सेवा करते हुए वह अपने पिता को बेहतर श्रद्धांजलि दे सकते हैं. बता दें… Continue reading जज्बे को सलाम:पिता की मौत के बाद अगले दिन से  डॉक्टर बेटे ने शुरू किया काम, मां और भाई अभी भी संक्रमित 

IPL 2021: जानें, कब हो सकता है बचे हुए 31 मैचों का आयोजन, और क्या होगी शर्त

IPL 2021: इंडियन प्रीमियर लीग 2021 को कल अनिश्चितकाल के लिए सस्पेंड कर दिया गया था. BCCI ने IPL खेल रहे खिलाड़ियों में संक्रमण की पुष्टि होने के बाद ये फैसला लिया था. IPL  का रद्द होने की खबर के बाद से सोशल मीडिया में जैसे हलचल तेज हो गई. कुछ लोग इसे सही बता रहे थे तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी थे जो इसे गलत मना रहे थे. लोगों का कहना था कि भारत में 2 करोड़ कोरोना संक्रमित मरीज हैं इसके बाद भी देश नहीं रूक रहा है तो दो खिलाड़ियों के संक्रमित पाए जाने पर IPL के आयोजन को रोकना भी सही नहीं है. खैर अब BCCI  ने फैसला ले लिया है. ऐसे में अब ये सवाल उठा रहे हैं कि बाकि के बचे मैच कब होंगे. क्या इस IPL को पूरी कराने में BCCI रूची लेगी अगर हां तो इस साल कब मैचों का आयोजन किया जा सकता है. इस शर्त के साथ इस समय हो सकता है आयोजन बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ खेली जाना वाली टेस्‍ट सीरीज 14 सितंबर को खत्‍म होगी. इसके बाद अक्‍टूबर के मध्‍य से भारत में ही T20 विश्‍व कप का आयोजन होना है. ऐसे में देखा जाए… Continue reading IPL 2021: जानें, कब हो सकता है बचे हुए 31 मैचों का आयोजन, और क्या होगी शर्त

कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने से Coal India का कामकाज धीमा हुआ

नई दिल्ली | कोल इंडिया लिमिटेड (CIL) ने कहा कि उसके और उसकी सहयोगी कंपनियों के 5,400 से ज्यादा कर्मचारी (Staff) कोरोना (Corona) विषाणु से संक्रमित हैं और इस वजह से उसका कामकाज धीमा हो गया है। हालांकि, कंपनी ने आज एक बयान में कहा कि पिछले महीने उसकी खदानों से कोयले का उठाव बढ़कर 5.41 करोड़ टन हो गया। सीआईएल (CIL) ने कहा, उठाव और भी ज्यादा होता लेकिन कंपनी और उसकी सहयोगी कंपनियों के 5,400 से ज्यादा कर्मचारियों के महामारी की चपेट में आने से उसका कामकाज धीमा हो गया। इनमें से ज्यादतर अग्रिम पंक्ति के उत्पादन और उठाव से जुड़े कामकाज में लगे थे। इन कर्मचारियों में अनुबंध पर काम करने वाले कर्मचारी भी शामिल हैं। सीआईएल (CIL) ने कहा कि इसके बावजूद कंपनी के कोयले की आपूर्ति में पिछले वित्तीय वर्ष के अप्रैल महीने की तुलना में इस वर्ष 3.3 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। वहीं वित्तीय वर्ष 2019 के मुकाबले यह 6.1 प्रतिशत अधिक रही। वर्ष 2018- 19 में सीआईएल का सबसे ज्यादा (60.7 करोड़ टन) कोयला उठाव रहा था। इसे भी पढ़ें – Cricket : आईपीएल के स्थगित होने के बाद T20 World Cup पर अनिश्चितता के बादल कंपनी ने कहा है कि अप्रैल में 5.41… Continue reading कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने से Coal India का कामकाज धीमा हुआ

और लोड करें